Asianet News Hindi

Fact Check: अयोध्या के राम मंदिर की इन तस्वीरों को देख गदगद हुए भक्त, लेकिन पूजा से पहले जान लें असलियत

सोशल मीडिया पर राम मंदिर निर्माण को लेकर एक तस्वीर जमकर वायरल हो रही है। जिसे देखकर भक्तों को लग रहा है कि राम मंदिर बहुत ही जल्द बनकर तैयार हो जाएगा। फेसबुक पर 2 तस्वीरों को शेयर करते हुए कई लोगों ने दावा किया कि ये अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर की तस्वीर है।

Fact Check: what is the reality of ram mandir temple photo viral on social media dva
Author
Ayodhya, First Published Nov 2, 2020, 9:46 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क: अयोध्या (ayodhya) में बन रहे राम मंदिर (ram mandir) को लेकर भक्तों की उत्सुकता बहुत ज्यादा है। सभी चाहते हैं कि जल्द से जल्द भगवान श्री राम का मंदिर अयोध्या की पावन भूमि पर बनकर तैयार हो जाए। ऐसे में सोशल मीडिया पर राम मंदिर निर्माण को लेकर एक तस्वीर जमकर वायरल हो रही है। जिसे देखकर भक्तों को लग रहा है कि राम मंदिर बहुत ही जल्द बनकर तैयार हो जाएगा। दरअसल, इंटरनेट पर इन दिनों एक निर्माणाधीन भवन की दो तस्वीरें वायरल हो रही हैं। जिसमें दावा किया जा रहा है कि ये अयोध्या में बन रहे बहुप्रतीक्षित भव्य राम मंदिर की तस्वीरें हैं।

फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है?

वायरल पोस्ट क्या है?
फेसबुक पर इन तस्वीरों को शेयर करते हुए कई लोगों ने दावा किया कि ये अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर की तस्वीर है। एक यूजर ने फोटो को शेयर करते हुए लिखा कि, मित्रों श्री अयोध्या धाम में प्रभु श्रीराम जी के मंदिर का निर्माण बड़े जोरों से चल रहा है। रघुनाथ जी की जय हो। 

वहीं एक अन्य यूजर ने भी फोटो को साझा करते हुए लिखा कि, “अयोध्या प्रभु श्री राम जी की मंदिर निर्माण का पहला तस्वीर है. जिन भाईयों को देखकर खुशी हुई, तो एक बार सच्चे दिल से आप जय श्री राम बोल दें”

फैक्ट चेक
रिवर्स इमेज सर्च की मदद से हमने पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गई है। ये फोटो अयोध्या में बन रहे राम मंदिर की नहीं बल्कि काशी विश्वनाथ मंदिर की है। सर्च करने के बाद हमें हिंदुस्तान टाइम्स का एक आर्टिकल मिला जो 30 अक्टूबर 2020 का है। दोनों में एक ही फोटो का इस्तेमाल किया गया है। एचटी में छपी तस्वीर के साथ कैप्शन लिखा है, “निर्माणाधीन काशी विश्वनाथ मंदिर का मुख्य परिसर”। दोनों फोटो को ध्यान से देखने पर पाया गया कि ये तस्वीरें एक जैसी हैं।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 में काशी विश्वनाथ (KV) कॉरिडोर प्रोजेक्ट की नींव रखी थी। जिसे अगस्त 2021 तक पूरा होना है। वहीं राम मंदिर जन्मभूमि की नींव इसी साल 5 अगस्त को रखी गई। इतनी जल्दी इस मंदिर का इतना बनना मुश्किल है। राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के सदस्य का भी कहना है कि राम मंदिर निर्माण का काम तो चल रहा है लेकिन अभी बस निर्माण स्थल पर नींव खोदने का काम शुरू हुआ है। ट्विटर पर भी श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ऑफिशियल हैंडल पर भी राम मंदिर की जो तस्वीर शेयर की गई है, उसमें भी सिर्फ शिफ्टिंग का काम किया जा रहा है। अभी निर्माण समिति दिव्य और भव्य मंदिर का नक्शा तैयार कर रहा है। कहा जा रहा है कि सवा तीन साल में मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा।

ये निकला नतीजा
सभी साइट्स पर वायरल हो रही तस्वीर की पड़ताल करने के बाद हमने पाया कि यह तस्वीर काशी विश्वनाथ मंदिर की ही है। राम मंदिर के नाम से ये फोटो फर्जी तरीके से वायरल की जा रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios