Asianet News Hindi

Fact Check: ‘वोट नहीं तो वैक्सीन नहीं’ क्या बिहार में वित्त मंत्री सीतारमण ने की ऐसी घोषणा? जानें पूरा सच

बिहार में विधानसभा चुनावों को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की फेक न्यूज वायरल हो रही हैं। राष्ट्रीय जनता दल, भाजपा से लेकर अन्य सभी पार्टियां चुनाव को लेकर मैदान में हैं। बड़े-बड़े वादों के बीच बीजेपी ने बिहारबासियों को कोरोना वैक्सीन मुफ्त देने की घोषणा की थी।

Know the truth of viral post claiming Nirmala Sitaraman said in bihar election 2020 'no vote no vaccine' kpt
Author
Bhopal, First Published Oct 29, 2020, 11:51 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक्ट चेक डेस्क. No vote no vaccine bihar Election: बिहार में विधानसभा चुनावों को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की फेक न्यूज वायरल हो रही हैं। राष्ट्रीय जनता दल, भाजपा से लेकर अन्य सभी पार्टियां चुनाव को लेकर मैदान में हैं। बड़े-बड़े वादों के बीच बीजेपी ने बिहारबासियों को कोरोना वैक्सीन मुफ्त देने की घोषणा की थी। अब सोशल मीडिया पर एक पोस्ट जमकर वायरल हो रही है। भाजपा का घोषणापत्र जारी करती वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की तस्वीर के साथ एक पोस्ट सोशल मीडिया पर तैर रही है। इस पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि जो लोग भाजपा को वोट नहीं करेंगे उन्हें कोरोना की वैक्सीन मुफ्त में नहीं मिलेगी।

फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि इस फोटो की सच्चाई क्या है? क्या वाकई वित्त मंत्री ने ऐसी कोई घोषणा की थी या ये फोटोशॉप तस्वीर लोगों को बेवकूफ बना रही है?

वायरल पोस्ट क्या है?
पिछले दिनों बिहार विधानसभा चुनावों को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भाजपा का चुनावी घोषणापत्र जारी किया था। इसके तुरंत बाद सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की जाने लगी, जिसमें अंग्रेजी में कुछ टेक्स्ट लिखे गए हैं। इनका हिंदी में मतलब है, ‘वोट नहीं तो वैक्सीन नहीं? … जो लोग बीजेपी को वोट करते हैं उन्हें मुफ्त में वैक्सीन मिलेगी। अगर वोट नहीं करते तो नहीं मिलेगी।’ इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

 

कई दूसरे यूजर ने भी अपनी फेसबुक पोस्ट में ऐसे ही दावे किए हैं।

Corona Vaccine Nahi Hui Dirty Politics Hogaya

Posted by Unofficial Kanhaiya Kumar on Thursday, 22 October 2020

फैक्ट चेक
तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए हमने सबसे पहले बिहार चुनाव में बीजेपी के घोषणापत्र को लेकर इंटरनेट पर पड़ताल की। दैनिक जागरण की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘केंद्रीय वित्त् मंत्री निर्मला सीतारमण ने 22 अक्टूबर, गुरुवार को पटना में बड़ी घोषणा की है। उन्होंने कहा कि देश में कोरोना वायरस के चार तरह के वैक्सीन बनाए गए हैं। एक बार जब इन वैक्सीन का बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू हो जाएगा तब बिहार में यह सारे लोगों को मुफ्त दी जाएगी। उन्होंने यह घोषणा बिहार विधान सभा चुनाव से पहले पटना में बीजेपी का संकल्पफ पत्र जारी करने के पहले की।’

विपक्षी दलों की तरफ से हुई आलोचना के बाद निर्मला सीतारमण ने इस घोषणा को लेकर बयान भी जारी किया था। 24 अक्टूबर को दैनिक जागरण में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ‘भाजपा के बिहार चुनाव घोषणापत्र में मुफ्त कोविड टीके के वादे को लेकर विपक्षी दलों द्वारा की जा रही आलोचना के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कहा कि यह घोषणा बिल्कुल ठीक है। कोई पार्टी इस बात की घोषणा कर सकती है कि वह सत्ता में आने पर क्या करना चाहती है।’

फिर हमें जागरण जोश की एक रिपोर्ट मिली जिसमें केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी के हवाले से कहा गया है कि सभी भारतीयों को कोविड-19 वैक्सीन मुफ्त मिलेगी। न कि सिर्फ बिहार वालों को। ऐसा नहीं है कि वोटिंग के लिए ये घोषणा की गई है। 

ये निकला नतीजा
जांच-पड़ताल में ये साफ हो जाता है कि वित्त मंत्री ने कहीं भी ये बयान नहीं दिया कि वोट न देने वालों को वैक्सीन नहीं दी जएगी। इसलिए वायरल पोस्ट का दावा भ्रामक है। बीजेपी प्रवक्ता ने स्पष्ट किया है कि केंद्रीय मंत्री ने सभी भारतीयों के लिए फ्री कोविड-19 वैक्सीन की घोषणा की है। वैक्सीन दिए जाने का वोट से कोई लेना-देना नहीं है।

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios