Asianet News Hindi

चुनाव में पूरे कुनबे को सेट करना चाहते हैं जीतनराम मांझी, इंजीनियर दामाद को यहां से लड़ाएंगे चुनाव

First Published Oct 1, 2020, 7:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जहानाबाद (Bihar)। पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ( Jitan Ram Manjhi) अब राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav के रास्ते पर चल रहे हैं। वे भी अपने पूरे कुनबे को राजनीति में सेट करने की कोशिश में लगे हैं। आज मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने इशारा भी कर दिया है। बता दें कि हाल ही में वे आरजेडी (RJD) के महागठबंधन से अलग होकर जेडीयू (JDU)के साथ हाथ मिलाए हैं, चर्चाओं के मुताबिक उन्हें सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान (LJP President Chirag Paswan) का काट भी मानते हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने आज जहानाबाद जिले के मखदुमपुर के एक निजी हॉल में हम पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की। इसके बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने अपने पुराने निर्वाचन क्षेत्र मखदुमपुर को लेकर बड़ी घोषणा की है।

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने आज जहानाबाद जिले के मखदुमपुर के एक निजी हॉल में हम पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की। इसके बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने अपने पुराने निर्वाचन क्षेत्र मखदुमपुर को लेकर बड़ी घोषणा की है।

जीतन राम मांझी ने तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए कहा कि जब 8वीं और 9वीं पास लोग आगे बढ़ाए जा सकते हैं तो इंजीनियरिंग पास को आगे बढ़ाने में क्या दिक्कत है? क्या उसको परिवारवाद कहा जाएगा? वे चाहते हैं कि मखदुमपुर से उनके परिवार का सदस्य चुनाव लड़े, इसलिए वो अपने इंजीनियर दामाद देवेंद्र मांझी को चुनाव लड़ाना चाहते हैं।
 

जीतन राम मांझी ने तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए कहा कि जब 8वीं और 9वीं पास लोग आगे बढ़ाए जा सकते हैं तो इंजीनियरिंग पास को आगे बढ़ाने में क्या दिक्कत है? क्या उसको परिवारवाद कहा जाएगा? वे चाहते हैं कि मखदुमपुर से उनके परिवार का सदस्य चुनाव लड़े, इसलिए वो अपने इंजीनियर दामाद देवेंद्र मांझी को चुनाव लड़ाना चाहते हैं।
 

बताते चले कि पेशे से इंजीनियर रहे देवेंद्र मांझी अपने ससुर जीतन राम मांझी के मुख्यमंत्री काल में आप्तसचिव भी रह चुके हैं। उन्होंने कहा है कि मैंने 25 साल उनके साथ रहकर राजनीति सीखा है।

(फाइल फोटो)

बताते चले कि पेशे से इंजीनियर रहे देवेंद्र मांझी अपने ससुर जीतन राम मांझी के मुख्यमंत्री काल में आप्तसचिव भी रह चुके हैं। उन्होंने कहा है कि मैंने 25 साल उनके साथ रहकर राजनीति सीखा है।

(फाइल फोटो)

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने कहा कि मखदुमपुर के विकास के लिए मैं अपने निजी परिवार का उम्मीदवार दे रहा हूं। नीतीश कुमार बिहार के पक्ष में काम कर रहे हैं, इस कारण मैं एनडीए में आया हूं।

(फाइल फोटो)

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने कहा कि मखदुमपुर के विकास के लिए मैं अपने निजी परिवार का उम्मीदवार दे रहा हूं। नीतीश कुमार बिहार के पक्ष में काम कर रहे हैं, इस कारण मैं एनडीए में आया हूं।

(फाइल फोटो)

जीतन राम मांझी ने यह भी दावा कि महागठबंधन में कोऑर्डिनेशन की कमी है और तेजस्वी कभी भी नीतीश कुमार का विकल्प नहीं हो सकते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि विधानसभा चुनाव 2020 में एनडीए 220 सीट जीतेगी।
(फाइल फोटो)

जीतन राम मांझी ने यह भी दावा कि महागठबंधन में कोऑर्डिनेशन की कमी है और तेजस्वी कभी भी नीतीश कुमार का विकल्प नहीं हो सकते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि विधानसभा चुनाव 2020 में एनडीए 220 सीट जीतेगी।
(फाइल फोटो)

बताते चले कि मीडिया से बातचीत के दौरान पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने अपने कद बढ़ने के भी संकेत दे दिए हैं, जिसके बाद यह माना जा रहा है कि वो एनडीए के सत्ता में आने के बाद इसी साल राज्यपाल या मंत्री बनाए जा सकते हैं।

बताते चले कि मीडिया से बातचीत के दौरान पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने अपने कद बढ़ने के भी संकेत दे दिए हैं, जिसके बाद यह माना जा रहा है कि वो एनडीए के सत्ता में आने के बाद इसी साल राज्यपाल या मंत्री बनाए जा सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios