Asianet News Hindi

पहली पत्नी से रामविलास पासवान की दो बेटियां, 23 साल बाद तलाक देकर रीना से कर ली थी दूसरी शादी

First Published Oct 2, 2020, 11:57 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। सांसद और एलजेपी चीफ चिराग पासवान (LJP Chief Chirag Paswan) बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Polls) की वजह से इस वक्त जबरदस्त चर्चा में हैं। वो पार्टी संस्थापक और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Pswan) के इकलौते बेटे हैं। चिराग, रामविलास की दूसरी पत्नी रीना के बेटे हैं। रीना से पहले एलजेपी संस्थापक की 1960 में पहली शादी हुई थी। पहली पत्नी का नाम राजकुमारी देवी (Rajkumari Devi) है। हालांकि राजकुमारी देवी को उन्होंने तलाक देकर 1983 में दूसरी शादी कर ली थी। दूसरी शादी से चिराग के अलावा एक बेटी भी है। 
 

2015 के विधानसभा चुनाव में पहली बार रामविलास की दूसरी शादी का मसला उठा था। तब जेडीयू (JDU) नेताओं के साथ आरजेडी (RJD) नेता तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने चुनावी हलफनामे को लेकर रामविलास पर तीखा हमला किया था। वैवाहिक स्थिति को लेकर राजनीतिक हमलों के बाद पासवान ने खुलासा किया कि 1981 में उन्होंने पहली पत्नी को तलाक दे दिया था। 
 

2015 के विधानसभा चुनाव में पहली बार रामविलास की दूसरी शादी का मसला उठा था। तब जेडीयू (JDU) नेताओं के साथ आरजेडी (RJD) नेता तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने चुनावी हलफनामे को लेकर रामविलास पर तीखा हमला किया था। वैवाहिक स्थिति को लेकर राजनीतिक हमलों के बाद पासवान ने खुलासा किया कि 1981 में उन्होंने पहली पत्नी को तलाक दे दिया था। 
 

पहली पत्नी से पासवान की दो बेटियों का नाम ऊषा और आशा है। दोनों की शादी हो चुकी है और हलफनामे में पासवान पहली पत्नी से दोनों बेटियों का जिक्र भी करते आए हैं। 2014 में चिराग पासवान की राजनीतिक एंट्री से पहले तक दोनों बेटियों से पासवान के संबंध ठीक दिख रहे थे। 
 

पहली पत्नी से पासवान की दो बेटियों का नाम ऊषा और आशा है। दोनों की शादी हो चुकी है और हलफनामे में पासवान पहली पत्नी से दोनों बेटियों का जिक्र भी करते आए हैं। 2014 में चिराग पासवान की राजनीतिक एंट्री से पहले तक दोनों बेटियों से पासवान के संबंध ठीक दिख रहे थे। 
 

हालांकि 2014 में जब चिराग ने जमुई सीट से पहली बार लोकसभा का पर्चा भरा तो परिवार में पासवान की राजनीतिक विरासत को लेकर तनाव बढ़ने लगा। चिराग के बढ़ते राजनीतिक वर्चस्व से सौतेली बहनों को परेशानी हुई और 2019 के लोकसभा चुनाव में यह सार्वजनिक रूप से दिखी भी। तब बेटी आशा ने पिता और भाई के खिलाफ सार्वजनिक बगावत की। फोटो : बेटी के साथ पासवान 

हालांकि 2014 में जब चिराग ने जमुई सीट से पहली बार लोकसभा का पर्चा भरा तो परिवार में पासवान की राजनीतिक विरासत को लेकर तनाव बढ़ने लगा। चिराग के बढ़ते राजनीतिक वर्चस्व से सौतेली बहनों को परेशानी हुई और 2019 के लोकसभा चुनाव में यह सार्वजनिक रूप से दिखी भी। तब बेटी आशा ने पिता और भाई के खिलाफ सार्वजनिक बगावत की। फोटो : बेटी के साथ पासवान 

पासवान की बेटियों का संबंध एलजेपी से था। पासवान के दामाद अनिल साधु तो पार्टी की दलित सेना के प्रदेश अध्यक्ष भी थे। लेकिन 2019 में पहली बार बेटियों ने आरोप लगाना शुरू किया कि उन्हें भाव नहीं दिया जा रहा है। इसके बाद अनिल ने रामविलास से मतभेदों की वजह से पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। 
फोटो : पासवान की दोनों पत्नियां 

पासवान की बेटियों का संबंध एलजेपी से था। पासवान के दामाद अनिल साधु तो पार्टी की दलित सेना के प्रदेश अध्यक्ष भी थे। लेकिन 2019 में पहली बार बेटियों ने आरोप लगाना शुरू किया कि उन्हें भाव नहीं दिया जा रहा है। इसके बाद अनिल ने रामविलास से मतभेदों की वजह से पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। 
फोटो : पासवान की दोनों पत्नियां 

रामविलास पासवान के दामाद अनिल साधु (Anil Sadhu) ने इस्तीफा देकर लालू यादव (Lalu Yadav) की आरजेडी ज्वाइन कर ली। अनिल साधु का एक टीवी इंटरव्यू भी काफी चर्चित हुआ था। इसमें उन्होंने पासवान पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि रामविलास ने कभी भी पहली पत्नी से हुई दोनों बेटियों को प्यार नहीं किया। 

रामविलास पासवान के दामाद अनिल साधु (Anil Sadhu) ने इस्तीफा देकर लालू यादव (Lalu Yadav) की आरजेडी ज्वाइन कर ली। अनिल साधु का एक टीवी इंटरव्यू भी काफी चर्चित हुआ था। इसमें उन्होंने पासवान पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि रामविलास ने कभी भी पहली पत्नी से हुई दोनों बेटियों को प्यार नहीं किया। 

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा था, चिराग पासवान को तो बड़े-बड़े स्कूलों में पढ़ाया गया और हर सुख-सुविधा मुहैया कराई गई लेकिन बेटी आशा को गांव में ही पढ़ाया। पासवान ने हमेशा बच्चों में भेदभाव किया। 

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा था, चिराग पासवान को तो बड़े-बड़े स्कूलों में पढ़ाया गया और हर सुख-सुविधा मुहैया कराई गई लेकिन बेटी आशा को गांव में ही पढ़ाया। पासवान ने हमेशा बच्चों में भेदभाव किया। 

बताते चलें कि रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी खगड़िया जिला के शहरबन्नी स्थित अपने घर में रहती हैं। अलौली विधानसभा क्षेत्र के भाग संख्या-5 की मतदाता सूची क्रमांक 606 में पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी का जिक्र है। जबकि पासवान की दूसरी पत्नी रीना का जिक्र मतदाता सूची क्रमांक 607 में है। 

बताते चलें कि रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी खगड़िया जिला के शहरबन्नी स्थित अपने घर में रहती हैं। अलौली विधानसभा क्षेत्र के भाग संख्या-5 की मतदाता सूची क्रमांक 606 में पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी का जिक्र है। जबकि पासवान की दूसरी पत्नी रीना का जिक्र मतदाता सूची क्रमांक 607 में है। 

राजकुमारी देवी गांव में अकेली रहती हैं। बेटी दामाद पटना में रहते हैं। एक इंटरव्यू में राजकुमारी देवी ने बताया था कि पार्टी (एलजेपी) के कार्यक्रमों में वो कभी शामिल नहीं हुईं। उन्होंने यह भी बताया था कि गांव में चिराग उनसे कभी आशीर्वाद लेने नहीं आए।

राजकुमारी देवी गांव में अकेली रहती हैं। बेटी दामाद पटना में रहते हैं। एक इंटरव्यू में राजकुमारी देवी ने बताया था कि पार्टी (एलजेपी) के कार्यक्रमों में वो कभी शामिल नहीं हुईं। उन्होंने यह भी बताया था कि गांव में चिराग उनसे कभी आशीर्वाद लेने नहीं आए।

राजकुमारी देवी ने बताया था कि एक बार रामविलास पासवान के पिता की पुण्यतिथि में सब (पासवान की पहली पत्नी और बच्चे) गांव आए थे। पटना जाने पर मिलने आते थे। पति की बीमारी को लेकर राजकुमारी परेशान भी रहती हैं। उन्होंने 2019 के चुनाव में बेटे चिराग की जीत के लिए दुआ भी मांगी थी। 

राजकुमारी देवी ने बताया था कि एक बार रामविलास पासवान के पिता की पुण्यतिथि में सब (पासवान की पहली पत्नी और बच्चे) गांव आए थे। पटना जाने पर मिलने आते थे। पति की बीमारी को लेकर राजकुमारी परेशान भी रहती हैं। उन्होंने 2019 के चुनाव में बेटे चिराग की जीत के लिए दुआ भी मांगी थी। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios