Asianet News Hindi

एक बहन क्रिकेटर तो पिता थे सरकारी अफसर, बिहार में ऐसा है पूर्णिया के बेटे सुशांत सिंह राजपूत का घर

First Published Jun 14, 2020, 3:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना ( Bihar) । बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई में आत्महत्या कर ली है। वे बिहार में पूर्णिया जिले के बी कोठी प्रखंड के मलडीहा निवासी थे। सुशांत की 4 बहनें भी हैं, जिसमें से एक मीतू सिंह राज्य स्तर की क्रिकेट खिलाड़ी हैं, जबकि उनके पिता सरकारी अधिकारी थे। धारावाहिक पवित्र रिश्ता से बॉलीवुड में कदम रखने वाले अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत 2019 में 17 सालों के बाद अपने पैतृक गांव बड़हरा कोठी प्रखंड के मलडीहा गांव में गए थे। 


सुशांत सिंह राजपूत पूर्णिया जिले के बी कोठी प्रखंड के रहने वाले थे। उनके पिता सरकारी अधिकारी थे और उनका परिवार सन् 2000 के शुरूआती समय में दिल्ली में बस गया। पिता अब घर पर ही रहते हैं।
 


सुशांत सिंह राजपूत पूर्णिया जिले के बी कोठी प्रखंड के रहने वाले थे। उनके पिता सरकारी अधिकारी थे और उनका परिवार सन् 2000 के शुरूआती समय में दिल्ली में बस गया। पिता अब घर पर ही रहते हैं।
 


सुशांत की शुरूआती पढ़ाई सेंट कैरेंस हाई स्कूल, पटना से हुई है। इसके आगे की पढ़ाई दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से हुई है। जहां से पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से उन्होंने मैकेनिल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी।
 


सुशांत की शुरूआती पढ़ाई सेंट कैरेंस हाई स्कूल, पटना से हुई है। इसके आगे की पढ़ाई दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से हुई है। जहां से पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से उन्होंने मैकेनिल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी।
 


इंजीनियरिंग के एन्ट्रन्स के सारे एग्जाम क्लियर कर लिए थे, जिसमे आईएसएम धनवाद भी था। लेकिन, जब इनके तीन साल पूरे हुए कॉलेज के तो इन्होने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी और एक्टिंग में अपना करियर शुरू कर दिया।


इंजीनियरिंग के एन्ट्रन्स के सारे एग्जाम क्लियर कर लिए थे, जिसमे आईएसएम धनवाद भी था। लेकिन, जब इनके तीन साल पूरे हुए कॉलेज के तो इन्होने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी और एक्टिंग में अपना करियर शुरू कर दिया।


गांव के लोगों का कहना है कि अभिनेता सुशांत भी काफी सरल थे।गांव के लोगों ने उन्हें बचपन मे देखा था सहसा उन्हें एहसास नहीं हो रहा था कि पूर्णिया का छोरा इतने बड़े मुकाम पर पहुंच जाएगा। 


गांव के लोगों का कहना है कि अभिनेता सुशांत भी काफी सरल थे।गांव के लोगों ने उन्हें बचपन मे देखा था सहसा उन्हें एहसास नहीं हो रहा था कि पूर्णिया का छोरा इतने बड़े मुकाम पर पहुंच जाएगा। 

परिवार के लोगों के मुताबिक सुशांत सिंह का सबसे पहला टीवी सीरियल किस देश में है मेरा दिल था, जिसमे इन्होने प्रीत जुनेजा की भूमिका निभाई थी।

परिवार के लोगों के मुताबिक सुशांत सिंह का सबसे पहला टीवी सीरियल किस देश में है मेरा दिल था, जिसमे इन्होने प्रीत जुनेजा की भूमिका निभाई थी।

इस सीरियल के बाद इनको लीड रोल पवित्र रिश्ता में मिला, जिसमे इन्होने मानव देशमुख का किरदार निभाया और इसके बाद इनकी सफलता में चार चाँद लगना शुरू हो गया। उसके बाद इन्हे बॉलीवुड में भी काफी सफलता मिली।

इस सीरियल के बाद इनको लीड रोल पवित्र रिश्ता में मिला, जिसमे इन्होने मानव देशमुख का किरदार निभाया और इसके बाद इनकी सफलता में चार चाँद लगना शुरू हो गया। उसके बाद इन्हे बॉलीवुड में भी काफी सफलता मिली।


17 साल बाद 2019 में सुशांत अपने पैतृक गांव आए थे।अपने फैन्स के साथ फोटो भी खिंचवाई थी। 


17 साल बाद 2019 में सुशांत अपने पैतृक गांव आए थे।अपने फैन्स के साथ फोटो भी खिंचवाई थी। 

2019 में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत पैतृक गांव बी कोठी में अपने घर पर कुल देवी की पूजा किए थे।

 
 

2019 में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत पैतृक गांव बी कोठी में अपने घर पर कुल देवी की पूजा किए थे।

 
 

अभिनता सुशांत सिंह राजपूत अपने ननिहाल खगड़िया गए थे। बरनेश्वर में सभी मंदिर में पूजा अर्चना करने के उपरांत अभिनेता ने सभी परिजनों के अलावा जहां उनका मुंडन समारोह हुआ था। सुशांत सिंह राजपूत बौरणय के स्व. महेश्वर प्रसाद सिंह के नाती हैं।

अभिनता सुशांत सिंह राजपूत अपने ननिहाल खगड़िया गए थे। बरनेश्वर में सभी मंदिर में पूजा अर्चना करने के उपरांत अभिनेता ने सभी परिजनों के अलावा जहां उनका मुंडन समारोह हुआ था। सुशांत सिंह राजपूत बौरणय के स्व. महेश्वर प्रसाद सिंह के नाती हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios