Asianet News Hindi

महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने कहा, कंगना को मुंबई लौटने का हक नहीं, एक्ट्रेस बोली-किसी के बाप में दम हो तो रोक ले

First Published Sep 4, 2020, 8:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। कंगना रनोट द्वारा मुंबई की तुलना पीओके (पाक अधिकृत कश्मीर) से करने के बाद इस मामले में विवाद और गहराता जा रहा है। कंगना के बयान पर महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा- वो अगर मुंबई की तुलना हमारे दुश्मन देश द्वारा अधिग्रहित पीओके (पाक अधिकृत कश्मीर) से करती है तो उसे मुंबई लौटने का कोई अधिकार नहीं है। इस पर अब कंगना रनोट ने भी पलटवार करते हुए जवाब दिया है। इससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत ने भी कहा था कि मुंबई का अपमान बिल्कुल भी सहन नहीं करेंगे। 

 

वहीं, गृहमंत्री और संजय राउत के बयान पर भड़की कंगना रनोट ने पलटवार करते हुए मुंबई आने का ऐलान किया है। कंगना ने ट्वीट करते हुए ना सिर्फ अपने मुंबई आने की जानकारी दी बल्कि विरोधियों को चेतावनी भी दे डाली है। 

वहीं, गृहमंत्री और संजय राउत के बयान पर भड़की कंगना रनोट ने पलटवार करते हुए मुंबई आने का ऐलान किया है। कंगना ने ट्वीट करते हुए ना सिर्फ अपने मुंबई आने की जानकारी दी बल्कि विरोधियों को चेतावनी भी दे डाली है। 

कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा- मैं देख रही हूं कि बहुत से लोग मुझे मुंबई लौटने नहीं देने की धमकी दे रहे हैं। इसलिए मैंने अब आने वाले हफ्ते में 9 सितंबर को मुंबई पहुंचने का फैसला किया है। मैं उस टाइम को भी पोस्ट करूंगी, जब मैं मुंबई एयरपोर्ट पर उतरूंगी। किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।

कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा- मैं देख रही हूं कि बहुत से लोग मुझे मुंबई लौटने नहीं देने की धमकी दे रहे हैं। इसलिए मैंने अब आने वाले हफ्ते में 9 सितंबर को मुंबई पहुंचने का फैसला किया है। मैं उस टाइम को भी पोस्ट करूंगी, जब मैं मुंबई एयरपोर्ट पर उतरूंगी। किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।

हालांकि, कंगना के इस ट्वीट का मराठी में जवाब देते हुए संजय राउत ने कहा, मुंबई एक मराठी शख्स के बाप की है, जो लोग इसे नहीं मानते हैं, उन्हें अपने बाप को दिखाना चाहिए। शिवसेना महाराष्ट्र के ऐसे दुश्मनों को श्रद्धांजलि दिए बिना नहीं रहेगी।

हालांकि, कंगना के इस ट्वीट का मराठी में जवाब देते हुए संजय राउत ने कहा, मुंबई एक मराठी शख्स के बाप की है, जो लोग इसे नहीं मानते हैं, उन्हें अपने बाप को दिखाना चाहिए। शिवसेना महाराष्ट्र के ऐसे दुश्मनों को श्रद्धांजलि दिए बिना नहीं रहेगी।

वहीं, शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हम धमकी देने वाले लोग नहीं, एक्शन लेने वाले लोग हैं। जिन्होंने मुंबई की पीओके से तुलना की उन्हें पीओके के बारे में मालूम नहीं है। मुंबई पुलिस ने मुंबई हमला झेला, 92 के दंगे मे लोगों को बचाया, कोविड में मुंबई पुलिस के सिपाही शहीद हुए। मुंबई और महाराष्ट्र का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

वहीं, शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हम धमकी देने वाले लोग नहीं, एक्शन लेने वाले लोग हैं। जिन्होंने मुंबई की पीओके से तुलना की उन्हें पीओके के बारे में मालूम नहीं है। मुंबई पुलिस ने मुंबई हमला झेला, 92 के दंगे मे लोगों को बचाया, कोविड में मुंबई पुलिस के सिपाही शहीद हुए। मुंबई और महाराष्ट्र का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इससे पहले गुरुवार को कंगना रनोट ने बॉलीवुड ड्रग्स गैंग पर सवाल उठाया था। जिसको लेकर शिवसेना के मुखपत्र सामना अखबार में उन पर निशाना साधा गया था। इसके बाद जान का खतरा बताते हुए कंगना ने कहा था कि ऐसा क्यों लग रहा है, जैसे मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) है?

इससे पहले गुरुवार को कंगना रनोट ने बॉलीवुड ड्रग्स गैंग पर सवाल उठाया था। जिसको लेकर शिवसेना के मुखपत्र सामना अखबार में उन पर निशाना साधा गया था। इसके बाद जान का खतरा बताते हुए कंगना ने कहा था कि ऐसा क्यों लग रहा है, जैसे मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) है?

बाद में शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा था, आपने (कंगना) महाराष्ट्र का अपमान करने की कोशिश की है। मुंबई ने आपको नाम, शोहरत, पैसा, इज्जत सबकुछ दिया है। अब तक मुंबई पुलिस के भरोसे आप यहां रहती हैं उसी पुलिस पर आप इस प्रकार का कीचड़ उछालेंगी तो ये कौन से नीति-नियम में है।

बाद में शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा था, आपने (कंगना) महाराष्ट्र का अपमान करने की कोशिश की है। मुंबई ने आपको नाम, शोहरत, पैसा, इज्जत सबकुछ दिया है। अब तक मुंबई पुलिस के भरोसे आप यहां रहती हैं उसी पुलिस पर आप इस प्रकार का कीचड़ उछालेंगी तो ये कौन से नीति-नियम में है।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को कहा, कंगना रनोट को मुंबई और महाराष्ट्र में रहने का कोई अधिकार नहीं है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है। इस पर कंगना ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि मुंबई एक ही दिन में PoK से तालिबान में तब्दील हो गया। 

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को कहा, कंगना रनोट को मुंबई और महाराष्ट्र में रहने का कोई अधिकार नहीं है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है। इस पर कंगना ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि मुंबई एक ही दिन में PoK से तालिबान में तब्दील हो गया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios