Asianet News Hindi

CBSE Board Exam Tips: इन 4 टॉपर्स के सक्सेज फॉर्मूले अपनाएं छात्र, 90% स्कोर करने में मिलेगी मदद

First Published Mar 20, 2021, 6:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं (CBSE board Exams 2021) मई से शुरू होने वाली हैं। बहुत कम महीने बाकी रह गए हैं। ज़्यादातर विद्यार्थी यही सोच रहें हैं कि बोर्ड एग्जाम में कैसे टॉप किया जाए? कुछ विद्यार्थी यह सवाल कर रहे हैं कि बोर्ड एग्जाम में 90% के ऊपर मार्क्स कैसे लाएं? इसलिए हम आपको परीक्षा में अच्छा स्कोर करने के टिप्स साझा कर रहे हैं। हमने कई सारे टॉपर्स इंटरव्यू देखें और उनकी रणनीति समझने की कोशिश की। इस आर्टिकल में हम बोर्ड  एग्जाम टॉपर्स द्वारा दी गई स्टडी टिप्स के बारे में बता रहे हैं। टॉपर्स 100 फीसदी नंबर लाने जो स्टडी टिप्स अपनाते हैं वो हम आपको बताएंगे। तो आइए जानते हैं बोर्ड एग्जाम की तैयारी के लिए कुछ महत्वपूर्ण स्टडी टिप्स:

 

आदित्य जैन कहा लिमिटेड पढ़ाई करिये

 

CBSE बोर्ड परीक्षा 2017 में 12वीं के 3rd टॉपर रहे आदित्य जैन ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि ज़्यादा पढ़ाई करने से कोई फायदा नहीं बल्कि आप जितना भी पढ़ाई करें पूरी एकाग्रता के साथ करें। आदित्य ने यह भी बताया कि सिंगल सीटिंग में बहुत ज़्यादा पढ़ाई करने से आपका स्ट्रेस लेवल बढ़ेगा।

 

 

आदित्य जैन कहा लिमिटेड पढ़ाई करिये

 

CBSE बोर्ड परीक्षा 2017 में 12वीं के 3rd टॉपर रहे आदित्य जैन ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि ज़्यादा पढ़ाई करने से कोई फायदा नहीं बल्कि आप जितना भी पढ़ाई करें पूरी एकाग्रता के साथ करें। आदित्य ने यह भी बताया कि सिंगल सीटिंग में बहुत ज़्यादा पढ़ाई करने से आपका स्ट्रेस लेवल बढ़ेगा।

 

 

10 से 12 घंटे लगातार पढ़ाई करने से अच्छा है कि आप छोटे-छोटे अंतराल में पढ़ाई करें। इससे आप पूरी एकाग्रता के साथ पढ़ाई कर पाएंगे। रात को सोने से पहले अगले दिन के लिए टारगेट सेट करें और उसे पूरा करने की कोशिश करें। जिन विद्यार्थियों को ज़्यादा देर तक पढ़ने की आदत नहीं है वे पढ़ाई के बीच में छोटे-छोटे ब्रेक लेकर पढ़ाई कर सकते हैं।

10 से 12 घंटे लगातार पढ़ाई करने से अच्छा है कि आप छोटे-छोटे अंतराल में पढ़ाई करें। इससे आप पूरी एकाग्रता के साथ पढ़ाई कर पाएंगे। रात को सोने से पहले अगले दिन के लिए टारगेट सेट करें और उसे पूरा करने की कोशिश करें। जिन विद्यार्थियों को ज़्यादा देर तक पढ़ने की आदत नहीं है वे पढ़ाई के बीच में छोटे-छोटे ब्रेक लेकर पढ़ाई कर सकते हैं।

भूमि सावंत की एडवाइस सैंपल पेपर सॉल्व करें

 

CBSE बोर्ड परीक्षा 2017 में 12वीं के 2nd टॉपर रहीं भूमि सावंत (99.4 % मार्क्स) ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि बोर्ड परीक्षा की तैयारी के दौरान पेरेंट्स और टीचर्स की हेल्प से सब आसान हो जाएगा। इसलिए मदद लेने में न डरें। एग्जाम से पहले कई सैंपल पेपर सॉल्व करें। बहुत सारे सैंपल पेपर और प्रैक्टिस पेपर सॉल्व करने से सफलता काफी हद तक निश्चिंत हो जाती है।

 

भूमि सावंत की एडवाइस सैंपल पेपर सॉल्व करें

 

CBSE बोर्ड परीक्षा 2017 में 12वीं के 2nd टॉपर रहीं भूमि सावंत (99.4 % मार्क्स) ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि बोर्ड परीक्षा की तैयारी के दौरान पेरेंट्स और टीचर्स की हेल्प से सब आसान हो जाएगा। इसलिए मदद लेने में न डरें। एग्जाम से पहले कई सैंपल पेपर सॉल्व करें। बहुत सारे सैंपल पेपर और प्रैक्टिस पेपर सॉल्व करने से सफलता काफी हद तक निश्चिंत हो जाती है।

 

प्रेक्टिस ही सफलता की कुंजी है। आप चाहे जितना पढ़ाई कर ले लेकिन अगर आपने पेन और पेपर से प्रैक्टिस नहीं की तो बोर्ड एग्जाम में आपके अच्छे मार्क्स लाना मुश्किल होगा। अच्छे मार्क्स लाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप बोर्ड एग्जाम से पहले अधिक से अधिक सैंपल पेपर सॉल्व करें।

प्रेक्टिस ही सफलता की कुंजी है। आप चाहे जितना पढ़ाई कर ले लेकिन अगर आपने पेन और पेपर से प्रैक्टिस नहीं की तो बोर्ड एग्जाम में आपके अच्छे मार्क्स लाना मुश्किल होगा। अच्छे मार्क्स लाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप बोर्ड एग्जाम से पहले अधिक से अधिक सैंपल पेपर सॉल्व करें।

सौम्या पटेल कहती हैं- 5 साल के पेपर्स ज़रूर हल करें

 

यूपी बोर्ड परीक्षा 2016 में कक्षा 12वीं की टॉपर रहीं सौम्या पटेल ने बताया कि पुराने साल के पेपर हल करने से उन्हें बहुत फायदा मिला और तैयारी के दौरान उनका कांफिडेंस लेवल काफी बढ़ा था।
कुछ चैप्टर्स के कॉन्सेप्ट्स इतने ज़्यादा महत्वपूर्ण होते हैं कि उनके ऊपर हर साल बोर्ड परीक्षा में सवाल पूछे जाते हैं। इसलिए विद्यार्थियों को पुराने 10 साल के पेपर ज़रूर साल्व करना चाहिए।

सौम्या पटेल कहती हैं- 5 साल के पेपर्स ज़रूर हल करें

 

यूपी बोर्ड परीक्षा 2016 में कक्षा 12वीं की टॉपर रहीं सौम्या पटेल ने बताया कि पुराने साल के पेपर हल करने से उन्हें बहुत फायदा मिला और तैयारी के दौरान उनका कांफिडेंस लेवल काफी बढ़ा था।
कुछ चैप्टर्स के कॉन्सेप्ट्स इतने ज़्यादा महत्वपूर्ण होते हैं कि उनके ऊपर हर साल बोर्ड परीक्षा में सवाल पूछे जाते हैं। इसलिए विद्यार्थियों को पुराने 10 साल के पेपर ज़रूर साल्व करना चाहिए।

रक्षा गोपाल ने कहा अनावश्यक टेंशन ना लें

 

CBSE 12वीं की बोर्ड परीक्षा (2017) में पहली टॉपर रहीं रक्षा गोपाल ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि उन्होंने तैयारी के दौरान सिर्फ अपना बेस्ट देने पर फोकस किया। उनका टारगेट टॉप स्कोर हासिल करना नहीं बल्कि हर पेपर में अपना बेस्ट देना था। तैयारी के दौरान विद्यार्थियों को अनावश्यक टेंशन नहीं लेनी चाहिए। छात्र को हर पेपर में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करना चाहिए। अगर बीच में कोई पेपर खराब चला जाता है या किसी पेपर में अच्छा नहीं कर पाते तो उसे भूल कर अगले पेपर की तैयारी पर पूरा ध्यान देना चाहिए।

रक्षा गोपाल ने कहा अनावश्यक टेंशन ना लें

 

CBSE 12वीं की बोर्ड परीक्षा (2017) में पहली टॉपर रहीं रक्षा गोपाल ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि उन्होंने तैयारी के दौरान सिर्फ अपना बेस्ट देने पर फोकस किया। उनका टारगेट टॉप स्कोर हासिल करना नहीं बल्कि हर पेपर में अपना बेस्ट देना था। तैयारी के दौरान विद्यार्थियों को अनावश्यक टेंशन नहीं लेनी चाहिए। छात्र को हर पेपर में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करना चाहिए। अगर बीच में कोई पेपर खराब चला जाता है या किसी पेपर में अच्छा नहीं कर पाते तो उसे भूल कर अगले पेपर की तैयारी पर पूरा ध्यान देना चाहिए।

रिवीजन बहुत महत्वपूर्ण है

 

लगभग सभी बोर्ड एग्जाम टॉपर्स का यही मानना है कि रिवीजन बहुत महत्वपूर्ण है। बोर्ड परीक्षा शुरू होने में बहुत कम दिन बाकी रह गए हैं इसलिए विद्यार्थियों को रिवीजन पर ज़्यादा ध्यान देना चाहिए। आखिरी के महीनों में विद्यार्थियों को कोई भी नया टॉपिक पढ़ने से बचना चाहिए। कभी-कभी नए टॉपिक पढ़ने के दौरान विद्यार्थी किसी खास सवाल या कांसेप्ट में उलझ कर रह जाते हैं और उनका महत्वपूर्ण समय बर्बाद हो जाता है। अगर परीक्षा शुरू होने में बहुत कम समय बाकी रह गया है तो सिर्फ और सिर्फ रिवीजन पर ध्यान दें।

रिवीजन बहुत महत्वपूर्ण है

 

लगभग सभी बोर्ड एग्जाम टॉपर्स का यही मानना है कि रिवीजन बहुत महत्वपूर्ण है। बोर्ड परीक्षा शुरू होने में बहुत कम दिन बाकी रह गए हैं इसलिए विद्यार्थियों को रिवीजन पर ज़्यादा ध्यान देना चाहिए। आखिरी के महीनों में विद्यार्थियों को कोई भी नया टॉपिक पढ़ने से बचना चाहिए। कभी-कभी नए टॉपिक पढ़ने के दौरान विद्यार्थी किसी खास सवाल या कांसेप्ट में उलझ कर रह जाते हैं और उनका महत्वपूर्ण समय बर्बाद हो जाता है। अगर परीक्षा शुरू होने में बहुत कम समय बाकी रह गया है तो सिर्फ और सिर्फ रिवीजन पर ध्यान दें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios