Asianet News Hindi

CBSE क्विक स्डटी प्लान: ऐसे तैयार करें Short Answers, मॉडल पेपर्स यूज करने की परफेक्ट स्ट्रेटजी

First Published Mar 1, 2021, 1:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. सीबीएसई बोर्ड एग्ज़ाम्स (CBSE Board Exams 2021) मई में आयोजित होंगे। 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स इस समय परीक्षा की तैयारी में जुटे हैं। ज़्यादातर Students सोचते हैं कि कम समय में ज्यादा सिलेबस कैसे तैयार करें? ये परेशानी उन स्टूडेंट्स को सबसे ज़्यादा होती हैं जिन्होंने पूरे साल अच्छे से तैयारी नहीं की। परीक्षा से कुछ दिन पहले Hard Work के साथ-साथ थोड़ा Smart Work कर ले तो आप Board Exams में काफी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। दो महीने में सभी विषयों को कवर करने के साथ आपको क्विक स्टडी प्लान फॉलो करने चाहिए। इसके लिए हम आपको कुछ जरूरी और जादुई टिप्स बता रहे हैं। आप कम समय में ज़्यादा से ज्यादा सिलेबस तैयार कर पाएंगे साथ ही हाई स्कोरिंग के लिए भी मेहनत हो जाएगी। इन 8 टिप्स से बोर्ड स्टूड़ेंट्स परीक्षा में अच्छा स्कोर हासिल कर सकते हैं-

1. लेटेस्ट सिलेबस को एनेलेसिस करें

 

CBSE बोर्ड एग्जाम टिप्स में हम आपको सबसे पहले सिलेबस एनेलेसिस करने की सलाह देंगे। दोस्तों किसी भी सब्जेक्ट के बोर्ड एग्जाम की तैयारी शुरू करने से पहले आप उस सब्जेक्ट का Latest Syllabus देख लेना चाहिए और उसे समझ भी लें। इससे आपकी स्मार्ट स्टडी रहेगी। आप एग्जाम में न आने वाले टॉपिक्स को स्किप कर सकते हैं। इस बार सिलेबस में कोविड महामारी के कारण 30 फीसदी की कटौती कर दी गई है इसलिए छात्र सब्जेक्ट के जरूरी टॉपिक और सिलेबस के हिसाब से पढ़ाई करें।

1. लेटेस्ट सिलेबस को एनेलेसिस करें

 

CBSE बोर्ड एग्जाम टिप्स में हम आपको सबसे पहले सिलेबस एनेलेसिस करने की सलाह देंगे। दोस्तों किसी भी सब्जेक्ट के बोर्ड एग्जाम की तैयारी शुरू करने से पहले आप उस सब्जेक्ट का Latest Syllabus देख लेना चाहिए और उसे समझ भी लें। इससे आपकी स्मार्ट स्टडी रहेगी। आप एग्जाम में न आने वाले टॉपिक्स को स्किप कर सकते हैं। इस बार सिलेबस में कोविड महामारी के कारण 30 फीसदी की कटौती कर दी गई है इसलिए छात्र सब्जेक्ट के जरूरी टॉपिक और सिलेबस के हिसाब से पढ़ाई करें।

2. पिछले साल के एग्जाम पेपर देखें

 

किसी भी एग्जाम में सफलता की पहली सीढ़ी है पिछले साल के एग्जाम पेपर देखना, उन्हें समझना। इससे आपको पेपर में आने वाले सवालों का एक आइडिया हो जाता है। UPSC तक के लेवल पर ये स्ट्रेटजी फॉलो की जाती है तो CBSE स्टूडेंट्स भी ये जरूर अपनाएं। पिछले साल के पेपर्स की रिसर्च के द्वारा आपको ये समझ आ जाएगा कि किस Subject के कौन सा चैप्टर एग्जाम में सबसे ज़्यादा important है। तैयारी के दौरान ज़्यादा Weightage वाले चैप्टर्स को पहले तैयार करें।

 

पिछले साल के पेपर देख कर कुछ यह जानने की कोशिश करें

 

• किस चैप्टर से सबसे ज़्यादा सवाल पूछे गए

• ऐसे कौन से कॉन्सेप्ट्स हैं जिनसे लगभग हर साल सवाल पूछे गए थे

• किस चैप्टर से सबसे कम सवाल पूछे गए

• किस चैप्टर से आसान सवाल आये और किस चैप्टर से थोड़े मुश्किल

2. पिछले साल के एग्जाम पेपर देखें

 

किसी भी एग्जाम में सफलता की पहली सीढ़ी है पिछले साल के एग्जाम पेपर देखना, उन्हें समझना। इससे आपको पेपर में आने वाले सवालों का एक आइडिया हो जाता है। UPSC तक के लेवल पर ये स्ट्रेटजी फॉलो की जाती है तो CBSE स्टूडेंट्स भी ये जरूर अपनाएं। पिछले साल के पेपर्स की रिसर्च के द्वारा आपको ये समझ आ जाएगा कि किस Subject के कौन सा चैप्टर एग्जाम में सबसे ज़्यादा important है। तैयारी के दौरान ज़्यादा Weightage वाले चैप्टर्स को पहले तैयार करें।

 

पिछले साल के पेपर देख कर कुछ यह जानने की कोशिश करें

 

• किस चैप्टर से सबसे ज़्यादा सवाल पूछे गए

• ऐसे कौन से कॉन्सेप्ट्स हैं जिनसे लगभग हर साल सवाल पूछे गए थे

• किस चैप्टर से सबसे कम सवाल पूछे गए

• किस चैप्टर से आसान सवाल आये और किस चैप्टर से थोड़े मुश्किल

3. इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स पहले तैयार करें

 

सिलेबल और पिछले साल के एग्जाम पेपर देख लेने के बाद अब आपको  इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स का आइडिया हो जाएगा। इससे आप सीमित समय में एकदम धमाकेदार तैयारी कर सकते हैं। इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स को आप ज्यादा टाइम दें, पढ़ें कॉ्सेप्ट समझें और फिर उसके नोट्स बनाकर तैयार कर लें।

 

3. इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स पहले तैयार करें

 

सिलेबल और पिछले साल के एग्जाम पेपर देख लेने के बाद अब आपको  इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स का आइडिया हो जाएगा। इससे आप सीमित समय में एकदम धमाकेदार तैयारी कर सकते हैं। इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स को आप ज्यादा टाइम दें, पढ़ें कॉ्सेप्ट समझें और फिर उसके नोट्स बनाकर तैयार कर लें।

 

4.  शॉर्ट आंसर को पहले तैयार करें

 

किसी भी चैप्टर को तैयार करते समय आप 1 Mark या 2 Marks वाले प्रश्नों को पहले तैयार करें। ऐसा करने से आपकी Basic Concepts अच्छी तरह समझ आ जायेंगे और आपको बड़े प्रश्नों को तैयार करने में भी मदद मिलेगी। इस तरीके से आप बोर्ड एग्जाम का पूरा सिलेबस काफी तेज़ी से कवर कर पाएंगे। ये सवल आपको पिछले साल के पेपर्स या फिर Question Bank में आसानी से मिल जाएंगे।

4.  शॉर्ट आंसर को पहले तैयार करें

 

किसी भी चैप्टर को तैयार करते समय आप 1 Mark या 2 Marks वाले प्रश्नों को पहले तैयार करें। ऐसा करने से आपकी Basic Concepts अच्छी तरह समझ आ जायेंगे और आपको बड़े प्रश्नों को तैयार करने में भी मदद मिलेगी। इस तरीके से आप बोर्ड एग्जाम का पूरा सिलेबस काफी तेज़ी से कवर कर पाएंगे। ये सवल आपको पिछले साल के पेपर्स या फिर Question Bank में आसानी से मिल जाएंगे।

5. लॉन्ग आंसर्स के छोटे-छोटे Points बनाएं

 

जब आप पिछले साल के पेपर्स देखेंगे तो आप पाएंगे कि बोर्ड एग्ज़ाम्स में कुछ Questions बार-बार पूछे गए हैं और ये long Answers वाले सवाल होते हैं। ऐसे Questions के Answers तैयार करना बहुत ज़रूरी होता है क्योंकि बोर्ड में इन Questions के पूछे जाने की संभावना काफी अधिक रहती है। इनके नंबर भी ज्यादा होते हैं। इन्हें तैयार करने का सबसे अच्छा तरीका ये है कि आप बड़े Answer को छोटे-छोटे Points में डिवाइड कर ले और फिर हर एक पॉइंट को लिख कर याद करें। बड़े से बड़े Answer को अगर आप 5 बार लिख कर याद करेंगे तोआपको वो Answer ज़रूर याद हो जायेगा। बोर्ड एग्ज़ाम में भी वो Answer आप आसानी से लिख पाएंगे।

 

5. लॉन्ग आंसर्स के छोटे-छोटे Points बनाएं

 

जब आप पिछले साल के पेपर्स देखेंगे तो आप पाएंगे कि बोर्ड एग्ज़ाम्स में कुछ Questions बार-बार पूछे गए हैं और ये long Answers वाले सवाल होते हैं। ऐसे Questions के Answers तैयार करना बहुत ज़रूरी होता है क्योंकि बोर्ड में इन Questions के पूछे जाने की संभावना काफी अधिक रहती है। इनके नंबर भी ज्यादा होते हैं। इन्हें तैयार करने का सबसे अच्छा तरीका ये है कि आप बड़े Answer को छोटे-छोटे Points में डिवाइड कर ले और फिर हर एक पॉइंट को लिख कर याद करें। बड़े से बड़े Answer को अगर आप 5 बार लिख कर याद करेंगे तोआपको वो Answer ज़रूर याद हो जायेगा। बोर्ड एग्ज़ाम में भी वो Answer आप आसानी से लिख पाएंगे।

 

6. इस समय रिवीजन पर ही फोकस रखें

 

बोर्ड एग्जाम की तैयारी में Revision का रोल बहुत अहम् होता है। आप चाहे जितना भी पढ़ें पर अगर आपने समय-समय पर उसका Revision नहीं किया तो पहले पढ़ा हुआ सब भूल जायेंगे। बोर्ड एग्जाम की बेहतर तैयारी के लिए Revision बहुत महत्वपूर्ण है इसलिए जितना भी पढ़े उसे समय-समय पर दोहराते रहें।  इससे आपको एग्जाम से एक दिन पहले Revision करने में भी दिक्कत नहीं होगी। रिवीजन के लिए नोट्स बनाएं और फैक्ट्स, डेटा और फॉर्मूला अच्छे से रिवाइज करें।

6. इस समय रिवीजन पर ही फोकस रखें

 

बोर्ड एग्जाम की तैयारी में Revision का रोल बहुत अहम् होता है। आप चाहे जितना भी पढ़ें पर अगर आपने समय-समय पर उसका Revision नहीं किया तो पहले पढ़ा हुआ सब भूल जायेंगे। बोर्ड एग्जाम की बेहतर तैयारी के लिए Revision बहुत महत्वपूर्ण है इसलिए जितना भी पढ़े उसे समय-समय पर दोहराते रहें।  इससे आपको एग्जाम से एक दिन पहले Revision करने में भी दिक्कत नहीं होगी। रिवीजन के लिए नोट्स बनाएं और फैक्ट्स, डेटा और फॉर्मूला अच्छे से रिवाइज करें।

7. फॉर्मूला/ डायग्राम/फैक्ट्स को दीवार पर चिपका लें

 

एग्जाम के लिए बचे इन दो महीनों में आप नोट्स बनाएं। ऐसा जरूरी नहीं कि नोट्स सिर्फ कॉपी में हों आप इन्हें लिखकर अपने स्टडी रूम की दीवार पर चस्पा कर दें। बड़े-बड़े चार्ट खरीदें,  इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स से जुड़े डेटा, फैक्ट्स, जगह, फॉर्मूले यहां लिखकर चिपका दें आते-जाते या खाली समय में दीवार पर इन चीजों को देख रिवाइज करते रहें। चीजें आंखों के सामने रहेंगी तो अच्छे से भी याद हो जाएंगी। मैच बगेरह को भी आप दीवार पर चिपका सकते हैं ताकि जियोग्राफी के पेपर में आपके कॉन्सेप्ट क्लियर रहें।

7. फॉर्मूला/ डायग्राम/फैक्ट्स को दीवार पर चिपका लें

 

एग्जाम के लिए बचे इन दो महीनों में आप नोट्स बनाएं। ऐसा जरूरी नहीं कि नोट्स सिर्फ कॉपी में हों आप इन्हें लिखकर अपने स्टडी रूम की दीवार पर चस्पा कर दें। बड़े-बड़े चार्ट खरीदें,  इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स से जुड़े डेटा, फैक्ट्स, जगह, फॉर्मूले यहां लिखकर चिपका दें आते-जाते या खाली समय में दीवार पर इन चीजों को देख रिवाइज करते रहें। चीजें आंखों के सामने रहेंगी तो अच्छे से भी याद हो जाएंगी। मैच बगेरह को भी आप दीवार पर चिपका सकते हैं ताकि जियोग्राफी के पेपर में आपके कॉन्सेप्ट क्लियर रहें।

8. एग्जाम मॉडल से प्रैक्टिस ज़रूर करें

 

बोर्ड एग्ज़ाम में बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रैक्टिस बहुत ज़रूरी है। भले ही आपने पूरा सिलेबस अच्छी तरह से पढ़ा हो पर अगर आप लिखकर प्रैक्टिस नहीं करेंगे तो आप शायद एग्जाम के समय आप पूरा पेपर न हल कर पाएं। इसलिए बोर्ड एग्जाम की बेहतर तैयारी के लिए Model Papers या Guess Papers से नियमित तौर पर प्रैक्टिस करें। Model Papers हल करने से न सिर्फ आपकी राइटिंग प्सीड बढ़ेगी बल्कि एग्जाम के लिए कुछ Important Concepts के बारे में भी पता चलेगा। याद रखिए Practise makes man perfect!

 

8. एग्जाम मॉडल से प्रैक्टिस ज़रूर करें

 

बोर्ड एग्ज़ाम में बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रैक्टिस बहुत ज़रूरी है। भले ही आपने पूरा सिलेबस अच्छी तरह से पढ़ा हो पर अगर आप लिखकर प्रैक्टिस नहीं करेंगे तो आप शायद एग्जाम के समय आप पूरा पेपर न हल कर पाएं। इसलिए बोर्ड एग्जाम की बेहतर तैयारी के लिए Model Papers या Guess Papers से नियमित तौर पर प्रैक्टिस करें। Model Papers हल करने से न सिर्फ आपकी राइटिंग प्सीड बढ़ेगी बल्कि एग्जाम के लिए कुछ Important Concepts के बारे में भी पता चलेगा। याद रखिए Practise makes man perfect!

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios