Asianet News Hindi

क्यों खतरनाक कहा जाता है IAS इंटरव्यू? इन 10 सवालों के जवाब सोच सॉलिड GK वाले भी खा जाएंगे चक्कर

First Published Jun 24, 2020, 12:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. दोस्तों, आप सभी इस लॉकडाउन में भी Competitive Exam जैसे UPSC, IAS, IPS, PCS, Railway, आदि की तैयारी कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पीसीएस 2018 मुख्य परीक्षा का परिणाम मंगलवार को घोषित कर दिया। पीसीएस 2018 में 988 पद हैं, इनमें से चार पद ऐसे हैं, जिनके लिए इंटरव्यू नहीं होना है। यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Civil Service Exam 2020) के इंटरव्यू (UPSC Personality Test Schedule 2018) का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। लिखित परीक्षा के बाद यूपीएससी में इंटरव्यू सबसे जरूरी होता है। इसमें डिटेल्ड एप्लीकेशन फॉर्म (DAF) के आधार पर सवाल पूछे जाते हैं। इसलिए यूपीएससी इंटरव्यू सवाल को हल्के में न लें।

 

अच्छे से तैयारी के लिए हम आपको आईएएस इंटरव्यू के कुछ ट्रिकी सवाल (IAS interview Tricky Questions) बता रहे हैं -

जवाब. जी नहीं, मानव और जानवर के गुणसूत्र बेहद अलग होते हैं ऐसे में इंसान इंसान के साथ ही बच्चे पैदा कर सकता है। अगर इसमें कोशिश भी की जाए तो बच्चा जानवर और इंसान का अजीब कॉम्बिनेशन होगा।

जवाब. जी नहीं, मानव और जानवर के गुणसूत्र बेहद अलग होते हैं ऐसे में इंसान इंसान के साथ ही बच्चे पैदा कर सकता है। अगर इसमें कोशिश भी की जाए तो बच्चा जानवर और इंसान का अजीब कॉम्बिनेशन होगा।

जवाब. हवा में मूल रूप से नाइट्रोजन और ओक्सीजन मौजूद होती है ये पारदर्शी गैस हैं। जब इनपर प्रकाश की किरणें पड़ती हैं तो वो प्रतिबिम्बित नहीं होती है जिसके कारण हवा हमें दिखाई नहीं देती। 

जवाब. हवा में मूल रूप से नाइट्रोजन और ओक्सीजन मौजूद होती है ये पारदर्शी गैस हैं। जब इनपर प्रकाश की किरणें पड़ती हैं तो वो प्रतिबिम्बित नहीं होती है जिसके कारण हवा हमें दिखाई नहीं देती। 

जवाब. बिना दिल के इंसान का जीवित रहना किसी चमत्कार से कम नहीं होगा। लेकिन अमेरिका में एक शख्स बिना दिल के एक-दो दिन नहीं बल्कि पूरे डेढ़ साल तक जिंदा रहा था।अमेरिका में मिशिगन राज्य के पिसिलैंट शहर में 25 वर्षीय एक व्यक्ति हृदय नहीं रहने के बाद भी लगभग डेढ़ साल तक जीवित रहा। सीएनएन' की रिपोर्ट के अनुसार, शख्स का मई में हृदय प्रत्यारोपण किया गया। इससे पहले 555 दिनों तक (लगभग डेढ़ साल) वह हृदय के बगैर जीवित रहा।

जवाब. बिना दिल के इंसान का जीवित रहना किसी चमत्कार से कम नहीं होगा। लेकिन अमेरिका में एक शख्स बिना दिल के एक-दो दिन नहीं बल्कि पूरे डेढ़ साल तक जिंदा रहा था।अमेरिका में मिशिगन राज्य के पिसिलैंट शहर में 25 वर्षीय एक व्यक्ति हृदय नहीं रहने के बाद भी लगभग डेढ़ साल तक जीवित रहा। सीएनएन' की रिपोर्ट के अनुसार, शख्स का मई में हृदय प्रत्यारोपण किया गया। इससे पहले 555 दिनों तक (लगभग डेढ़ साल) वह हृदय के बगैर जीवित रहा।

जवाब. बारिश, तूफान या हिमपात होने के लिए हमें पानी और किसी प्रकार का वातावरण चाहिए होता है। लेकिन चंद्रमा का कोई वायुमंडल नहीं है यहां का कोई मौसम ही नहीं है। यहां कोई तूफान नहीं आता है। 

जवाब. बारिश, तूफान या हिमपात होने के लिए हमें पानी और किसी प्रकार का वातावरण चाहिए होता है। लेकिन चंद्रमा का कोई वायुमंडल नहीं है यहां का कोई मौसम ही नहीं है। यहां कोई तूफान नहीं आता है। 

जवाब. पार्ले जी बिस्कुट में G के मलतब कई रहे हैं। जैसे पार्ले जी को 1980 के दशक तक Gluco कहा जाता था जिसका मतलब था ग्लूकोज। बाद में इसे G फॉर जीनियस भी कहा जाने लगा। 

जवाब. पार्ले जी बिस्कुट में G के मलतब कई रहे हैं। जैसे पार्ले जी को 1980 के दशक तक Gluco कहा जाता था जिसका मतलब था ग्लूकोज। बाद में इसे G फॉर जीनियस भी कहा जाने लगा। 

जवाब.सर्च का मतलब है कि आप उन सवालों के जवाब तलाश रहे हैं जो पहले से मौजूद हैं। वहीं रिसर्च का मतलब है किसी नए विषय पर खोज करना या निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए नई-नई सामग्री जमा करना। 

जवाब.सर्च का मतलब है कि आप उन सवालों के जवाब तलाश रहे हैं जो पहले से मौजूद हैं। वहीं रिसर्च का मतलब है किसी नए विषय पर खोज करना या निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए नई-नई सामग्री जमा करना। 

जवाब. पृथ्वी के झुकाव के कारण आर्कटिक सर्कल के स्थानों में ऐसा संभव है। जैसे आलास्का, उत्तरी नार्वे और आइसलैंड में यहां दिन रात एक-साथ दिखाए देते हैं इसका वीडियो यूट्यूब पर मौजूद है। 

जवाब. पृथ्वी के झुकाव के कारण आर्कटिक सर्कल के स्थानों में ऐसा संभव है। जैसे आलास्का, उत्तरी नार्वे और आइसलैंड में यहां दिन रात एक-साथ दिखाए देते हैं इसका वीडियो यूट्यूब पर मौजूद है। 

जवाब.  चीन भी एशिया में है लेकिन क्या आपके मन में कभी ये सवाल आया है कि चीन क्रिकेट क्यों नहीं खेलता है ? दरअसल इसकी कई वजह हैं, अंग्रेजों द्वारा चीन का उपनिवेश कभी नहीं किया गया था। सभी प्रमुख क्रिकेट खेलने वाले देशों के पास लंबे ब्रिटिश उपनिवेश का इतिहास है। चीन में दर्जनों सस्ता और अधिक सुलभ खेल उपलब्ध हैं। बास्केट बॉल और फुटबॉल के अलावा, जो लोकप्रिय हैं, चीनी खिलाड़ियों को बैडमिंटन, टेबल टेनिस इत्यादि जैसे खेलों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।

 

चीन हमेशा ओलंपिक्स को समर्थन करता है और उसी के लिए मेहनत करता है। इसलिए चीन हमेशा ओलंपिक्स में ज्यादा मैडल पाते है। आपको पता होगा कि क्रिकेट ओलंपिक्स का हिस्सा नहीं है और शायद होगा भी नहीं, ये एक बड़ी वजह है कि चीन क्रिकेट को उतना बढ़ावा नहीं देता है।

जवाब.  चीन भी एशिया में है लेकिन क्या आपके मन में कभी ये सवाल आया है कि चीन क्रिकेट क्यों नहीं खेलता है ? दरअसल इसकी कई वजह हैं, अंग्रेजों द्वारा चीन का उपनिवेश कभी नहीं किया गया था। सभी प्रमुख क्रिकेट खेलने वाले देशों के पास लंबे ब्रिटिश उपनिवेश का इतिहास है। चीन में दर्जनों सस्ता और अधिक सुलभ खेल उपलब्ध हैं। बास्केट बॉल और फुटबॉल के अलावा, जो लोकप्रिय हैं, चीनी खिलाड़ियों को बैडमिंटन, टेबल टेनिस इत्यादि जैसे खेलों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।

 

चीन हमेशा ओलंपिक्स को समर्थन करता है और उसी के लिए मेहनत करता है। इसलिए चीन हमेशा ओलंपिक्स में ज्यादा मैडल पाते है। आपको पता होगा कि क्रिकेट ओलंपिक्स का हिस्सा नहीं है और शायद होगा भी नहीं, ये एक बड़ी वजह है कि चीन क्रिकेट को उतना बढ़ावा नहीं देता है।

जवाब. टाइटैनिक जैसा दूसरा जहाज बनाने की कोशिश की गई थी लेकिन मरने वाले लोगों के परिवारों ने इसका जमकर विरोध किया, कहा गया कि ये मृतकों का अपमान होगा। हालांकि मॉडर्न टाइम में पानी और समंदर के बीच तैरते आलीशान होटल बनाए जाते हैं। 

जवाब. टाइटैनिक जैसा दूसरा जहाज बनाने की कोशिश की गई थी लेकिन मरने वाले लोगों के परिवारों ने इसका जमकर विरोध किया, कहा गया कि ये मृतकों का अपमान होगा। हालांकि मॉडर्न टाइम में पानी और समंदर के बीच तैरते आलीशान होटल बनाए जाते हैं। 

जवाब. लोग अयस्क से लोहा बनाया जाता है, और ये धरती से खनिज के रूप में निका जाता है। धरती के गर्भ में चौथा सबसे अधिक पाया जाने वाला खनिज है।

जवाब. लोग अयस्क से लोहा बनाया जाता है, और ये धरती से खनिज के रूप में निका जाता है। धरती के गर्भ में चौथा सबसे अधिक पाया जाने वाला खनिज है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios