Asianet News Hindi

IAS इंटरव्यू में पूछा ऐसा सवाल कि दिमाग की हिल गईं नसें, कैंडिडेट ने फिर शांत होकर दिया ये जवाब

First Published Jun 10, 2020, 1:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: IAS Interview Tough Tricky Questions: दोस्तों संघ लोक सेवा आयोग (UPSC Exam) की परीक्षा पास करना बहुत ही कठिन है। सिविल सर्विसिस (Civil Services Exams) की परीक्षा में बहुत ही मुश्किल सवाल पूछे जाते हैं। वहीं लिखित परीक्षाएं पास करने के बाद IAS बनने की आखिरी कड़ी में इंटरव्यू प्रक्रिया होती है। आपने आज तक बहुत से कठिन सवाल सुने होंगे पर आज हम आपको कुछ ऐसे सवालों के बारे में बताएंगे जो हैं तो सरल लेकिन उनके जवाब आपको आसानी से नहीं देते बनेंगे। दरअसल हम जो आज आपके लिए कुछ खास सवाल लाए हैं। ये सभी यूपीएससी इंटरव्यू (UPSC Interview) के ट्रिकी संभावित सवाल हैं जिनसे व्यक्ति की बुद्धि को समझने में मदद मिलती है।

 

तो देखते हैं आईएएस इंटरव्यू के इन कठिन सवालों (IAS Interview Tough Tricky Questions)  के जवाब देने में आपका दिमाग कितना तेज काम करता है। 

जवाब: हर द्रव की सतह पर एक बल काम करता है जिसे पृष्ठ तनाव कहते हैं। ऐसे में जब पानी कहीं गिरता है या जमीन पर तो पानी पृथ्वी के गुरूत्वाकार्षण बल के कारण गोल आकार की बूंदो का रूप ले लेती हैं। 

जवाब: हर द्रव की सतह पर एक बल काम करता है जिसे पृष्ठ तनाव कहते हैं। ऐसे में जब पानी कहीं गिरता है या जमीन पर तो पानी पृथ्वी के गुरूत्वाकार्षण बल के कारण गोल आकार की बूंदो का रूप ले लेती हैं। 

जवाब: इंसानों में 4 मुख्य तरह के ब्लड ग्रुप होते हैं और उसी तरह कुत्ते में 13 तरह के DEA होते हैं। घोड़े में 8 तरह के और बिल्ली में 3 तरह के ऐसे में हम कह सकते हैं कि इंसानों और जानवरों के ब्लड ग्रुप अलग-अलग होते हैं। 

जवाब: इंसानों में 4 मुख्य तरह के ब्लड ग्रुप होते हैं और उसी तरह कुत्ते में 13 तरह के DEA होते हैं। घोड़े में 8 तरह के और बिल्ली में 3 तरह के ऐसे में हम कह सकते हैं कि इंसानों और जानवरों के ब्लड ग्रुप अलग-अलग होते हैं। 

जवाब: कोई भी रेल लाइन दांये या बांये  मुड़ने पर के लिए थोड़ा अधिक लम्बाई में गोलाकार घूम जाती है।  ट्रेन के पहिये किसी स्टीयरिंग से बंधे नहीं होते हैं।टर्निंग के लिए टर्न आउट का प्रयोग होता है। ट्रेन ट्रैक पर चलती है। ट्रैक जिस दिशा में जाने के लिए बनाया जाता है ट्रेन उसी दिशा में जाएगी।

जवाब: कोई भी रेल लाइन दांये या बांये  मुड़ने पर के लिए थोड़ा अधिक लम्बाई में गोलाकार घूम जाती है।  ट्रेन के पहिये किसी स्टीयरिंग से बंधे नहीं होते हैं।टर्निंग के लिए टर्न आउट का प्रयोग होता है। ट्रेन ट्रैक पर चलती है। ट्रैक जिस दिशा में जाने के लिए बनाया जाता है ट्रेन उसी दिशा में जाएगी।

जवाब: गर्मी के मौसम में ज्यादातर ऐसा होता है कि दोपहर में लंच करने के बाद नींद आने लगती है। दरअसल खाना खाने के बाद कुछ समय के लिए शरीर में खून की मात्र कम हो जाती है। दूसरा  खाने की कुछ ऐसी चीजें होती हैं जो शरीर में आलस पैदा करती हैं। अगर आप लंच में दाल, पनीर , आलू, नमकीन खाते हैं तो नींद आने लगते हैं। इन्हें खाने से शरीर की नसों में खिंचाव नहीं हो पाता जिस वजह से नींद आती है।
 

जवाब: गर्मी के मौसम में ज्यादातर ऐसा होता है कि दोपहर में लंच करने के बाद नींद आने लगती है। दरअसल खाना खाने के बाद कुछ समय के लिए शरीर में खून की मात्र कम हो जाती है। दूसरा  खाने की कुछ ऐसी चीजें होती हैं जो शरीर में आलस पैदा करती हैं। अगर आप लंच में दाल, पनीर , आलू, नमकीन खाते हैं तो नींद आने लगते हैं। इन्हें खाने से शरीर की नसों में खिंचाव नहीं हो पाता जिस वजह से नींद आती है।
 

जवाब: स्पेशल इफ़ेक्ट शूटिंग (चाहे हॉलीवुड हो या बॉलीवुड) के लिए हरे रंग के पर्दे (बैकग्राउंड) का इस्तेमाल किया जाता है, इसी कारण त्वचा के रंग से बिल्कुल अलग रंग; जो कि हरा या नीला है, इस्तेमाल किया जाता है। हरे रंग में किसी भी अन्य रंग की अपेक्षा रोशनी को अपने में समाहित करने की कई गुना क्षमता होती है। शूटिंग के समय हरे या नीले रंग के बैकग्राउंड को अलग से शूट किये गए या कंप्यूटर जनरेटेड इमेज ( सीजीआई ) से बदल दिया जाता है, फिल्मो में स्पेशल इफेक्ट्स के लिए भी ऐसा किया जाता है ताकि बैकग्राउंड बदला जा सके। 

जवाब: स्पेशल इफ़ेक्ट शूटिंग (चाहे हॉलीवुड हो या बॉलीवुड) के लिए हरे रंग के पर्दे (बैकग्राउंड) का इस्तेमाल किया जाता है, इसी कारण त्वचा के रंग से बिल्कुल अलग रंग; जो कि हरा या नीला है, इस्तेमाल किया जाता है। हरे रंग में किसी भी अन्य रंग की अपेक्षा रोशनी को अपने में समाहित करने की कई गुना क्षमता होती है। शूटिंग के समय हरे या नीले रंग के बैकग्राउंड को अलग से शूट किये गए या कंप्यूटर जनरेटेड इमेज ( सीजीआई ) से बदल दिया जाता है, फिल्मो में स्पेशल इफेक्ट्स के लिए भी ऐसा किया जाता है ताकि बैकग्राउंड बदला जा सके। 

जवाब: गुजरात में शेर के घास खाने का एक वीडयो सामने आया था। ये जमकर वायरल हुआ शेर अपने शिकार के पंख, बाल और हड्डियों को पचाने के लिए घास खाते हैं, ऐसे में ये झूठी बात हो सकती है कि शेर घास नहीं खाते। 

जवाब: गुजरात में शेर के घास खाने का एक वीडयो सामने आया था। ये जमकर वायरल हुआ शेर अपने शिकार के पंख, बाल और हड्डियों को पचाने के लिए घास खाते हैं, ऐसे में ये झूठी बात हो सकती है कि शेर घास नहीं खाते। 

जवाब:  दिसंबर 2019 IPL ऑक्शन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी Pat Cummins सबसे महंगे बिके थे, कोलकाता नाइटराइडर्स ने उन्हें 15.5 करोड़ में खरीदा था। 

जवाब:  दिसंबर 2019 IPL ऑक्शन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी Pat Cummins सबसे महंगे बिके थे, कोलकाता नाइटराइडर्स ने उन्हें 15.5 करोड़ में खरीदा था। 

जवाब: ये शख्स भारतीय है और मिजोरम में पहाड़ियों गके बीच में बसे बटवंग गांव में रहता है। इसका नाम जियोा चाना है और उसने सबसे ज्यादा शादियां की हैं उसकी 39 पत्ननियां, 94 बच्चे और 33 पोते और पोतियां हैं। 

जवाब: ये शख्स भारतीय है और मिजोरम में पहाड़ियों गके बीच में बसे बटवंग गांव में रहता है। इसका नाम जियोा चाना है और उसने सबसे ज्यादा शादियां की हैं उसकी 39 पत्ननियां, 94 बच्चे और 33 पोते और पोतियां हैं। 

जवाब: बुल्गारिया के एक वैज्ञानिक ने ही सबसे पहले दही जमने के तरीक़े पर रिसर्च की थी। वो बुल्गारिया के ट्रन इलाक़े का रहने वाला था। वैज्ञानिक का नाम था स्टामेन ग्रीगोरोव बुल्गारिया के इस वैज्ञानिक के नाम पर ट्रन इलाक़े में दही म्यूज़ियम भी बनाया गया है जो दुनिया में अपनी तरह का एक ही म्यूज़ियम है।

जवाब: बुल्गारिया के एक वैज्ञानिक ने ही सबसे पहले दही जमने के तरीक़े पर रिसर्च की थी। वो बुल्गारिया के ट्रन इलाक़े का रहने वाला था। वैज्ञानिक का नाम था स्टामेन ग्रीगोरोव बुल्गारिया के इस वैज्ञानिक के नाम पर ट्रन इलाक़े में दही म्यूज़ियम भी बनाया गया है जो दुनिया में अपनी तरह का एक ही म्यूज़ियम है।

जवाब: तम्बाकू में 60 से ज्यादा रसायन होते है और इसमें सबसे खतरनाक रसायन निकोटीन है जो बेहद नशीला होता है। डॉक्टरों की मानें तो सिगरेट, गुटखा और तंबाकू के कारण गला, सांस की नली और फेफड़े का कैंसर होता है। जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनमें गले और फेफड़ों के कैंसर का खतरा सबसे अधिक होता है। 

जवाब: तम्बाकू में 60 से ज्यादा रसायन होते है और इसमें सबसे खतरनाक रसायन निकोटीन है जो बेहद नशीला होता है। डॉक्टरों की मानें तो सिगरेट, गुटखा और तंबाकू के कारण गला, सांस की नली और फेफड़े का कैंसर होता है। जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनमें गले और फेफड़ों के कैंसर का खतरा सबसे अधिक होता है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios