Asianet News Hindi

परिवार को छोड़ आखिर क्यों संन्यासी बने विनोद खन्ना, पापा की मौत के 2 साल बाद खोला था बेटे ने राज

First Published Jan 19, 2021, 11:31 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. स्पीरिचुअल गुरु ओशो रजनीश (osho rajneesh) की आज 31वीं की डेथ एनिवर्सरी है। 19 जनवरी, 1990 को उनका निधन पुणे में हुआ था। ओशो रजनीश का जन्म मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के कुचवाड़ा गांव में हुआ था। ओशो शब्द लैटिन भाषा के शब्द ओशोनिक से लिया गया है, जिसका अर्थ है सागर में विलीन हो जाना। 1960 के दशक में वे आचार्य रजनीश के नाम से एवं 1970-80 के दशक में भगवान श्री रजनीश नाम से और 1989 से ओशो के नामे से जाने गए। यूं तो उनके सैकड़ों अनुयायी रहे लेकिन बॉलीवुड एक्टर विनोद खन्ना (vinod khanna) भी इनके प्रभावों से अछूते नहीं रहे। विनोद भी अब इस दुनिया में नहीं है लेकिन उनकी मौत के करीब 2 साल बाद उनके बेटे अक्षय खन्ना (akshaye khanna) ने इस राज से पर्दा उठाया था कि आखिर क्यों पापा पत्नी और बच्चों को छोड़कर संन्यासी बन गए थे। 

बता दें कि विनोद खन्ना 1982 में सब कुछ छोड़कर ओशो की शरण में चले गए थे। उन्होंने अपने करियर के चरम पर संन्यास लिया था और करीब दस सालों तक इंडस्ट्री से दूरी रहे थे। 

बता दें कि विनोद खन्ना 1982 में सब कुछ छोड़कर ओशो की शरण में चले गए थे। उन्होंने अपने करियर के चरम पर संन्यास लिया था और करीब दस सालों तक इंडस्ट्री से दूरी रहे थे। 

अक्षय खन्ना ने इंटरव्यू के दौरान बताया था- संन्यास जीवन की दिशा बदल देने वाला फैसला होता है। मेरे पापा को जब लगा की उन्हें यह करना चाहिए तो उन्होंने यह किया। जब मैं पांच साल का था तब मैं यह बात नहीं समझ सकता था लेकिन अब मैं यह बात समझ सकता हूं।

अक्षय खन्ना ने इंटरव्यू के दौरान बताया था- संन्यास जीवन की दिशा बदल देने वाला फैसला होता है। मेरे पापा को जब लगा की उन्हें यह करना चाहिए तो उन्होंने यह किया। जब मैं पांच साल का था तब मैं यह बात नहीं समझ सकता था लेकिन अब मैं यह बात समझ सकता हूं।

कहा जाता है कि लोगों का ओशो से मोहभंग हो गया था इसलिए विनोद खन्ना अपनी पुरानी जिंदगी में वापस आ गए थे इस सवाल पर अक्षय ने बताया था कि जितना उन्होंने इस बारे में अपने पापा से बात की और समझा तो उनकी वापसी की यह वजह नहीं थी। दरअसल धर्म-संप्रदाय से मोह भंग हो गया था, जिसके बाद सभी को अपनी राह खोजनी पड़ी। उनके पिता भी उसी वक्त वापस आए। अगर ऐसा नहीं होता तो वे कभी भी वापस नहीं आते।

कहा जाता है कि लोगों का ओशो से मोहभंग हो गया था इसलिए विनोद खन्ना अपनी पुरानी जिंदगी में वापस आ गए थे इस सवाल पर अक्षय ने बताया था कि जितना उन्होंने इस बारे में अपने पापा से बात की और समझा तो उनकी वापसी की यह वजह नहीं थी। दरअसल धर्म-संप्रदाय से मोह भंग हो गया था, जिसके बाद सभी को अपनी राह खोजनी पड़ी। उनके पिता भी उसी वक्त वापस आए। अगर ऐसा नहीं होता तो वे कभी भी वापस नहीं आते।

बता दें कि विनोद तो चले गए लेकिन उनके जाने के बाद उनके बच्चों को काफी कुछ सहन करना पड़ा। जब उनकी पत्नी गीतांजलि बेटों अक्षय और राहुल को स्कूल छोड़ने जातीं तो सभी बच्चे उन्हें यह कहकर चिढ़ाते थे कि तुम्हारा बाप अपने गुरु के साथ भाग गया। ऐसे ताने सुन गीतांजलि बेहद परेशान रहने लगीं और इस वजह से उन्होंने विनोद खन्ना से तलाक ले लिया।

बता दें कि विनोद तो चले गए लेकिन उनके जाने के बाद उनके बच्चों को काफी कुछ सहन करना पड़ा। जब उनकी पत्नी गीतांजलि बेटों अक्षय और राहुल को स्कूल छोड़ने जातीं तो सभी बच्चे उन्हें यह कहकर चिढ़ाते थे कि तुम्हारा बाप अपने गुरु के साथ भाग गया। ऐसे ताने सुन गीतांजलि बेहद परेशान रहने लगीं और इस वजह से उन्होंने विनोद खन्ना से तलाक ले लिया।

1990 में विनोद खन्ना ने फिल्मों में वापसी की और दोबारा शादी की। दूसरी शादी से उन्हें एक और बेटा हुआ जिसका नाम साक्षी खन्ना है। 2017 अप्रैल में विनोद खन्ना का निधन हो गया। वजह बताई गई कि उन्हें ब्लैडर कैंसर था। 

1990 में विनोद खन्ना ने फिल्मों में वापसी की और दोबारा शादी की। दूसरी शादी से उन्हें एक और बेटा हुआ जिसका नाम साक्षी खन्ना है। 2017 अप्रैल में विनोद खन्ना का निधन हो गया। वजह बताई गई कि उन्हें ब्लैडर कैंसर था। 

बात अक्षय की करें तो उनके भाई राहुल खन्ना भी एक्टिंग करते हैं, लेकिन उन्हें अक्षय जितनी पॉपुलैरिटी नहीं मिल पाई। अक्षय और उनके भाई राहुल खन्ना को देखकर लगता है कि अक्षय उम्र में उनसे बड़े हैं। लेकिन हकीकत ये है कि अक्षय खन्ना राहुल से 3 साल छोटे हैं।

बात अक्षय की करें तो उनके भाई राहुल खन्ना भी एक्टिंग करते हैं, लेकिन उन्हें अक्षय जितनी पॉपुलैरिटी नहीं मिल पाई। अक्षय और उनके भाई राहुल खन्ना को देखकर लगता है कि अक्षय उम्र में उनसे बड़े हैं। लेकिन हकीकत ये है कि अक्षय खन्ना राहुल से 3 साल छोटे हैं।

दरअसल, अक्षय एक्टिंग में पहले आए और वो पॉपुलर भी ज्यादा हैं। अक्षय ने जहां, 1997 में करियर शुरू किया वहीं उनके बड़े भाई राहुल की डेब्यू फिल्म 1999 में आई फिल्म 'अर्थ' है।

दरअसल, अक्षय एक्टिंग में पहले आए और वो पॉपुलर भी ज्यादा हैं। अक्षय ने जहां, 1997 में करियर शुरू किया वहीं उनके बड़े भाई राहुल की डेब्यू फिल्म 1999 में आई फिल्म 'अर्थ' है।

अक्षय खन्ना ने 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान शादी न करने की वजह बताई थी। अक्षय के मुताबिक- मैं कमिटमेंट नहीं कर सकता और इसी वजह से मैं लंबे समय तक किसी एक रिलेशनशिप में नहीं रह सकता। ज्यादातर लोगों को लंबे वक्त तक एक ही रिलेशनशिप में रहना अच्छा लगता है लेकिन मेरे साथ ऐसा नहीं है। मुझे लगता है कि जब मन करें एक रिलेशनशिप से दूसरी में जाने की फ्रीडम होनी चाहिए। 

अक्षय खन्ना ने 2017 में एक इंटरव्यू के दौरान शादी न करने की वजह बताई थी। अक्षय के मुताबिक- मैं कमिटमेंट नहीं कर सकता और इसी वजह से मैं लंबे समय तक किसी एक रिलेशनशिप में नहीं रह सकता। ज्यादातर लोगों को लंबे वक्त तक एक ही रिलेशनशिप में रहना अच्छा लगता है लेकिन मेरे साथ ऐसा नहीं है। मुझे लगता है कि जब मन करें एक रिलेशनशिप से दूसरी में जाने की फ्रीडम होनी चाहिए। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios