Asianet News Hindi

18 की उम्र में इस एक्ट्रेस ने खो दिया था पिता को, 12 साल बाद बताया किन मुश्किलों में गुजरी लाइफ

First Published Apr 21, 2020, 4:33 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. भूमि पोडनेकर को उनकी एक्टिंग की वजह से जाना जाता है। अपनी एक्टिंग के बलबूते एक्ट्रेस ने इंडस्ट्री में नाम कामया है। आज वो किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। वो एक सफल एक्टर के तौर पर गिनी जाती हैं। इन दिनों लॉकडाउन में सभी सेलेब्स फैमिली के साथ टाइम स्पेंड कर रहे हैं। ऐसे में भूमि पेडनेकर अपने पिता को यादकर भावुक हो गई हैं।

भूमि आज भले ही एक बेहतरीन और सफल एक्ट्रेस हैं, लेकिन इसके पीछा उनका कड़ा संघर्ष है। 18 साल की उम्र में उन्होंने पिता को खो दिया था। करीब 12 साल पहले उनके पिता का कैंसर की वजह से निधन हो गया था। 

भूमि आज भले ही एक बेहतरीन और सफल एक्ट्रेस हैं, लेकिन इसके पीछा उनका कड़ा संघर्ष है। 18 साल की उम्र में उन्होंने पिता को खो दिया था। करीब 12 साल पहले उनके पिता का कैंसर की वजह से निधन हो गया था। 

पिता की मौत के बाद भूमि और उनकी बहन की परवरिश उनकी मां ने सिंगल मदर के तौर पर की है। एक्ट्रेस पिता की मौत के बारे में बात करते हुए बताती हैं कि जब उनके पिता का निधन हुआ तो वो 18 की थीं और उनकी बहन समिक्षा 15 साल की थीं। 

पिता की मौत के बाद भूमि और उनकी बहन की परवरिश उनकी मां ने सिंगल मदर के तौर पर की है। एक्ट्रेस पिता की मौत के बारे में बात करते हुए बताती हैं कि जब उनके पिता का निधन हुआ तो वो 18 की थीं और उनकी बहन समिक्षा 15 साल की थीं। 

भूमि ने बताया कि कैंसर की वजह से उनके पिता को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ा। पेरेंट को खोना कभी आसान नहीं होता है। उनके पिता एक बेहतरीन पापा थे। वो उन्हें हमेशा हर दिन याद करती हैं। 

भूमि ने बताया कि कैंसर की वजह से उनके पिता को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ा। पेरेंट को खोना कभी आसान नहीं होता है। उनके पिता एक बेहतरीन पापा थे। वो उन्हें हमेशा हर दिन याद करती हैं। 

भूमि ने कहा कि वो पिता की मौत के बाद अपनी फैमिली को किसी वॉरियर से कम नहीं मानती हैं। पिता के जाने के बाद संघर्षों को लेकर एक्ट्रेस कहती हैं कि उन्होंने काम करना शुरू कर दिया था और 10 बार से भी ज्यादा बार उन्होंने कड़ी मेहनत किया।

भूमि ने कहा कि वो पिता की मौत के बाद अपनी फैमिली को किसी वॉरियर से कम नहीं मानती हैं। पिता के जाने के बाद संघर्षों को लेकर एक्ट्रेस कहती हैं कि उन्होंने काम करना शुरू कर दिया था और 10 बार से भी ज्यादा बार उन्होंने कड़ी मेहनत किया।

वो और उनकी बहन बड़े हो गए और तब ये एहसास हुआ कि गंदगी ही सच्चाई और इससे निपटने के लिए उन्हें और उनकी बहन को साथ में काम करने की जरूरत है। करीब दो सालों तक वो परेशानियों का सामना करते रहीं, लेकिन बाद में सब सही हो गया।

वो और उनकी बहन बड़े हो गए और तब ये एहसास हुआ कि गंदगी ही सच्चाई और इससे निपटने के लिए उन्हें और उनकी बहन को साथ में काम करने की जरूरत है। करीब दो सालों तक वो परेशानियों का सामना करते रहीं, लेकिन बाद में सब सही हो गया।

भूमि अपने बात को आगे बढ़ाते हुए कहती हैं कि अब वो जब भी पीछे मुड़कर देखती हैं तो बहुत खुशी मिलती है कि उन्होंने उन दिनों को कैसे पार किया।  

भूमि अपने बात को आगे बढ़ाते हुए कहती हैं कि अब वो जब भी पीछे मुड़कर देखती हैं तो बहुत खुशी मिलती है कि उन्होंने उन दिनों को कैसे पार किया।  

एक्ट्रेस ने कहा कि भले ही आज उनके पिता नहीं हैं लेकिन वो उन्हें हर जगह पाती हैं। आज जो भी कुछ हुआ वो सब उनका आशीर्वाद है। ये सब कुछ बहुत अच्छा था। वो खुद को और अपनी बहन को अपने पापा की तरह ही मानती हैं। 

एक्ट्रेस ने कहा कि भले ही आज उनके पिता नहीं हैं लेकिन वो उन्हें हर जगह पाती हैं। आज जो भी कुछ हुआ वो सब उनका आशीर्वाद है। ये सब कुछ बहुत अच्छा था। वो खुद को और अपनी बहन को अपने पापा की तरह ही मानती हैं। 

बता दें, भूमि पेडनेकर ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत यश राज के बैनर तले असिस्टेंट कास्टिंग डायरेक्टर के तौर पर की थी। यहां उन्होंने 6 साल तक काम किया था। इसके बाद एक्ट्रेस को 2015 में 'दम लगा के हईशा' में काम करने का मौका मिला। 
 

बता दें, भूमि पेडनेकर ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत यश राज के बैनर तले असिस्टेंट कास्टिंग डायरेक्टर के तौर पर की थी। यहां उन्होंने 6 साल तक काम किया था। इसके बाद एक्ट्रेस को 2015 में 'दम लगा के हईशा' में काम करने का मौका मिला। 
 

फिल्म 'दम लगा के हईशा' भूमि पेडनेकर के काम को खूब सराहा गया और उन्हें इसके लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड फोर फीमेल डेब्यू मिला। 

फिल्म 'दम लगा के हईशा' भूमि पेडनेकर के काम को खूब सराहा गया और उन्हें इसके लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड फोर फीमेल डेब्यू मिला। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios