कोई कोरोना तो किसी ने गंभीर बीमारी से... 70 दिनों में दुनिया छोड़ गए ये 13 बॉलीवुड सेलेब्स

First Published 1, Jun 2020, 5:15 PM

मुंबई। बॉलीवुउ की पॉपुलर संगीतकार जोड़ी साजिद-वाजिद में से वाजिद खान का 42 साल की उम्र में निधन हो गया। वे लंबे समय से किडनी की समस्या से जूझ रहे थे, साथ ही कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए थे। रविवार रात अचानक हालत बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया, लेकिन वे नहीं बच सके। वैसे कोरोना लॉकडाउन के बीच बॉलीवुड के कई सुपरस्टार दुनिया को अलविदा कह गए। इनमें इरफान खान से लेकर ऋषि कपूर तक कई सेलेब्स शामिल हैं। इस पैकेज में हम बता रहे हैं ऐसे ही एक्टर्स के बारे में। 

<p>29 अप्रैल को इरफान खान का निधन हो गया। मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। उन्हें करीब एक सप्ताह पहले कोलोन इन्फेक्शन के चलते भर्ती कराया गया था। बता दें कि इरफान खान को न्यूरोइंडोक्राइन कैंसर था और उन्होंने लंदन में इसका इलाज भी कराया था।  </p>

29 अप्रैल को इरफान खान का निधन हो गया। मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। उन्हें करीब एक सप्ताह पहले कोलोन इन्फेक्शन के चलते भर्ती कराया गया था। बता दें कि इरफान खान को न्यूरोइंडोक्राइन कैंसर था और उन्होंने लंदन में इसका इलाज भी कराया था।  

<p>कोरोना लॉकडाउन के बीच ऋषि कपूर का 30 अप्रैल की सुबह मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में निधन हो गया था। वह 67 साल के थे। ऋषि ल्यूकेमिया (ब्लड कैंसर) से जूझ रहे थे। उनके अंतिम संस्कार में लॉकडाउन की वजह से चुनिंदा 20 लोग ही शामिल हुए थे।</p>

कोरोना लॉकडाउन के बीच ऋषि कपूर का 30 अप्रैल की सुबह मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में निधन हो गया था। वह 67 साल के थे। ऋषि ल्यूकेमिया (ब्लड कैंसर) से जूझ रहे थे। उनके अंतिम संस्कार में लॉकडाउन की वजह से चुनिंदा 20 लोग ही शामिल हुए थे।

<p>ऋषि कपूर और इरफान खान के बाद 'पीके' और 'रॉकऑन' से बॉलीवुड की दुनिया में पहचान बनाने वाले साई गुंडेवर का 42 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। साई गुंडेवर काफी दिनों से ब्रेन कैंसर से जूझ रहे थे और बीते 10 मई को एक्टर ने दुनिया को अलविदा कह दिया। साई गुंडेवर ने एमटीवी स्प्लिट्सविला से जबरदस्त पहचान बनाई थी।</p>

ऋषि कपूर और इरफान खान के बाद 'पीके' और 'रॉकऑन' से बॉलीवुड की दुनिया में पहचान बनाने वाले साई गुंडेवर का 42 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। साई गुंडेवर काफी दिनों से ब्रेन कैंसर से जूझ रहे थे और बीते 10 मई को एक्टर ने दुनिया को अलविदा कह दिया। साई गुंडेवर ने एमटीवी स्प्लिट्सविला से जबरदस्त पहचान बनाई थी।

<p>23 मई को सलमान खान की फिल्म 'रेडी' में काम कर चुके एक्टर मोहित बघेल महज 27 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह गए। इतनी छोटी उम्र में ही मोहित कैंसर जैसी बीमारी से लड़ रहे थे। मोहित के निधन पर बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री के लोगों ने गहरा दुख जताया। </p>

23 मई को सलमान खान की फिल्म 'रेडी' में काम कर चुके एक्टर मोहित बघेल महज 27 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह गए। इतनी छोटी उम्र में ही मोहित कैंसर जैसी बीमारी से लड़ रहे थे। मोहित के निधन पर बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री के लोगों ने गहरा दुख जताया। 

<p>रामानंद सागर की रामायण में सुग्रीव का किरदार निभाने वाले एक्टर श्याम सुंदर कलानी का निधन हो गया है। उनका निधन 6 अप्रैल को पंचकूला के नजदीक कालका में हुआ। घरवालों के मुताबिक, वो लंबे समय से कैंसर से लड़ रहे थे। अरुण गोविल ने ट्विटर पर शोक संदेश में लिखा- मिस्टर श्याम सुंदर के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। उन्होंने रामानंद सागर की रामायण में सुग्रीव का किरदार निभाया था। बहुत अच्छी शख़्सियत और सज्जन व्यक्ति। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।'</p>

रामानंद सागर की रामायण में सुग्रीव का किरदार निभाने वाले एक्टर श्याम सुंदर कलानी का निधन हो गया है। उनका निधन 6 अप्रैल को पंचकूला के नजदीक कालका में हुआ। घरवालों के मुताबिक, वो लंबे समय से कैंसर से लड़ रहे थे। अरुण गोविल ने ट्विटर पर शोक संदेश में लिखा- मिस्टर श्याम सुंदर के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। उन्होंने रामानंद सागर की रामायण में सुग्रीव का किरदार निभाया था। बहुत अच्छी शख़्सियत और सज्जन व्यक्ति। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।'

<p>राजकपूर की फिल्म 'बरसात' से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाली एक्ट्रेस निम्मी का 26 मार्च को मुंबई में निधन हो गया। वो पिछले कई महीनों से बीमार चल रही थीं। एक्ट्रेस की उम्र 88 साल थी। निम्मी ने करीब 16 सालों तक फिल्मों में काम किया। साल 1949 से 1965 तक एक्ट्रेस इंडस्ट्री में एक्टिव थीं। वो तमाम बेहतरीन एक्ट्रेस की लिस्ट में शामिल थीं। उनका असली नाम 'नवाब बानो' था।</p>

राजकपूर की फिल्म 'बरसात' से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाली एक्ट्रेस निम्मी का 26 मार्च को मुंबई में निधन हो गया। वो पिछले कई महीनों से बीमार चल रही थीं। एक्ट्रेस की उम्र 88 साल थी। निम्मी ने करीब 16 सालों तक फिल्मों में काम किया। साल 1949 से 1965 तक एक्ट्रेस इंडस्ट्री में एक्टिव थीं। वो तमाम बेहतरीन एक्ट्रेस की लिस्ट में शामिल थीं। उनका असली नाम 'नवाब बानो' था।

<p>रेखा और राकेश रोशन के साथ फिल्म 'खूबसूरत' में काम कर चुके एक्टर रंजीत चौधरी का 65 साल की उम्र में 15 अप्रैल को निधन हो गया है। वह एक अच्छे अभिनेता होने के साथ-साथ कमाल के लेखक और निर्देशक भी थे। ऋषिकेष मुखर्जी के निर्देशन में बनी राकेश रोशन की फिल्म 'खूबसूरत' में रंजीत ने रेखा के साथ काम किया था। इस फिल्म में उन्होंने जगन का किरदार प्ले किया था। </p>

रेखा और राकेश रोशन के साथ फिल्म 'खूबसूरत' में काम कर चुके एक्टर रंजीत चौधरी का 65 साल की उम्र में 15 अप्रैल को निधन हो गया है। वह एक अच्छे अभिनेता होने के साथ-साथ कमाल के लेखक और निर्देशक भी थे। ऋषिकेष मुखर्जी के निर्देशन में बनी राकेश रोशन की फिल्म 'खूबसूरत' में रंजीत ने रेखा के साथ काम किया था। इस फिल्म में उन्होंने जगन का किरदार प्ले किया था। 

<p>29 मई को मशहूर ज्योतिषी बेजान दारूवाला का निधन हो गया। उन्होंने 90 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। कोरोना के चलते फेफड़ों में संक्रमण की वजह से उन्हें अहमदाबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। बेजान दारूवाला एक ऐसे ज्योतिषी थे जिनकी कई भविष्यवाणियां सच साबित हुईं। </p>

29 मई को मशहूर ज्योतिषी बेजान दारूवाला का निधन हो गया। उन्होंने 90 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। कोरोना के चलते फेफड़ों में संक्रमण की वजह से उन्हें अहमदाबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। बेजान दारूवाला एक ऐसे ज्योतिषी थे जिनकी कई भविष्यवाणियां सच साबित हुईं। 

<p>29 मई को अमिताभ बच्चन और राजेश खन्ना की मशहूर फिल्म 'आनंद' के गाने 'कहीं दूर जब दिन ढल जाए..' के गीतकार योगेश का शुक्रवार को निधन हो गया। वो 77 साल के थे। स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने उनके निधन की खबर सोशल मीडिया पर देते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। योगेश गौर को गीतकार के रूप में पहला ब्रेक फिल्म सखी रॉबिन (1962) से मिला। इसमें उन्होंने छह गीत लिखे। योगेश ने छोटी सी बात (1976), बातों बातों में (1979), मंजिल (1979), रजनीगंधा (1974), प्रियतमा (1977) मंजिलें और भी हैं (1974) जैसी फिल्मों के लिए सॉन्ग लिखे।</p>

29 मई को अमिताभ बच्चन और राजेश खन्ना की मशहूर फिल्म 'आनंद' के गाने 'कहीं दूर जब दिन ढल जाए..' के गीतकार योगेश का शुक्रवार को निधन हो गया। वो 77 साल के थे। स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने उनके निधन की खबर सोशल मीडिया पर देते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। योगेश गौर को गीतकार के रूप में पहला ब्रेक फिल्म सखी रॉबिन (1962) से मिला। इसमें उन्होंने छह गीत लिखे। योगेश ने छोटी सी बात (1976), बातों बातों में (1979), मंजिल (1979), रजनीगंधा (1974), प्रियतमा (1977) मंजिलें और भी हैं (1974) जैसी फिल्मों के लिए सॉन्ग लिखे।

<p>26 मई को म्यूजिक डायरेक्टर प्रीतम के पिता का निधन हो गया। ये जानकारी सिंगर कैलाश खेर ने सोशल मीडिया के जरिए दी है। कैलाश ने ट्विटर पर दोस्त प्रीतम के साथ वाली एक फोटो शेयर की। उन्होंने उस पर कैप्शन लिखा- मेरे दोस्त के पिता जी देवलोक सिधार गए, दिवंगत आत्मा की सद्गति की मनोकामना। परिवार को ढांढस मिले यही प्रार्थना। </p>

26 मई को म्यूजिक डायरेक्टर प्रीतम के पिता का निधन हो गया। ये जानकारी सिंगर कैलाश खेर ने सोशल मीडिया के जरिए दी है। कैलाश ने ट्विटर पर दोस्त प्रीतम के साथ वाली एक फोटो शेयर की। उन्होंने उस पर कैप्शन लिखा- मेरे दोस्त के पिता जी देवलोक सिधार गए, दिवंगत आत्मा की सद्गति की मनोकामना। परिवार को ढांढस मिले यही प्रार्थना। 

<p>15 मई को कोयंबटूर के पास मेट्टूपलायम में हुई एक सड़क दुर्घटना में डेब्यू डायरेक्टर अरुण का निधन हो गया। फिल्म इंडस्ट्री में उन्हें वेंकट प्रक्कर के नाम से जाना जाता था। अरुण पॉपुलर डायरेक्टर शंकर के साथ फिल्मों में बतौर असिस्टेंट भी काम कर चुके हैं। अरुण के असामयिक निधन से साउथ फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर छा गई।</p>

15 मई को कोयंबटूर के पास मेट्टूपलायम में हुई एक सड़क दुर्घटना में डेब्यू डायरेक्टर अरुण का निधन हो गया। फिल्म इंडस्ट्री में उन्हें वेंकट प्रक्कर के नाम से जाना जाता था। अरुण पॉपुलर डायरेक्टर शंकर के साथ फिल्मों में बतौर असिस्टेंट भी काम कर चुके हैं। अरुण के असामयिक निधन से साउथ फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर छा गई।

<p>25 अप्रैल को मलयाली एक्टर रवि वल्लाठोल 67 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया है। बताया जा रहा है कि उन्हें यादाश्त संबंधी समस्या थी और उनका लंबे समय से इस बीमारी के लिए तिरुअनंतपुरम के प्राइवेट अस्पताल में इलाज चल रहा था। एक्टर ने शनिवार 25 अप्रैल 2020 को अपने वाजूठाकाडू स्थित घर में आखिरी सांस ली।</p>

25 अप्रैल को मलयाली एक्टर रवि वल्लाठोल 67 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया है। बताया जा रहा है कि उन्हें यादाश्त संबंधी समस्या थी और उनका लंबे समय से इस बीमारी के लिए तिरुअनंतपुरम के प्राइवेट अस्पताल में इलाज चल रहा था। एक्टर ने शनिवार 25 अप्रैल 2020 को अपने वाजूठाकाडू स्थित घर में आखिरी सांस ली।

loader