Asianet News Hindi

'चंद्रकांता' से 'अंग्रेजी मीडियम' तक, साल दर साल ऐसे बदलता गया इरफान खान का Look

First Published Apr 29, 2020, 4:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। मशहूर एक्टर इरफान खान का निधन हो गया है। बुधवार को मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। 53 साल के इरफान अपने घर के बाथरूम में गिर गए थे। इसके बाद उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया था। उन्हें ब्रेन ट्यूमर था और उनकी कोलन इंफेक्शन की समस्या बढ़ गई थी। बता दें कि कई फिल्मों और टीवी सीरियल में काम कर चुके इरफान को पहचान टीवी शो 'चंद्रकांता' से मिली थी। इसमें उन्होंने बद्रीनाथ का किरदार निभाया था। 

इरफान को न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर हुआ था। मार्च 2018 में इरफान को अपनी बीमारी का पता चला था।

इरफान को न्यूरोइंडोक्राइन ट्यूमर हुआ था। मार्च 2018 में इरफान को अपनी बीमारी का पता चला था।

इरफान अप्रैल 2019 में ही भारत लौटे थे। लौटने के बाद इरफान ने ‘अंग्रेजी मीडियम’ फिल्म की शूटिंग शुरू की थी। यह फिल्म हाल ही में रिलीज हुई।

इरफान अप्रैल 2019 में ही भारत लौटे थे। लौटने के बाद इरफान ने ‘अंग्रेजी मीडियम’ फिल्म की शूटिंग शुरू की थी। यह फिल्म हाल ही में रिलीज हुई।

इरफान के परिवार में पत्नी सुतापा देवेंद्र सिकदर और दो बेटे बाबिल और अयान हैं। इरफान खान टोंक के नवाबी खानदान से ताल्लुक रखते हैं।

इरफान के परिवार में पत्नी सुतापा देवेंद्र सिकदर और दो बेटे बाबिल और अयान हैं। इरफान खान टोंक के नवाबी खानदान से ताल्लुक रखते हैं।

7 जनवरी 1967 को जन्मे इरफान का पूरा नाम साहबजादे इरफान अली खान था। वे एक्टर नहीं बल्कि क्रिकेटर बनना चाहते थे।

7 जनवरी 1967 को जन्मे इरफान का पूरा नाम साहबजादे इरफान अली खान था। वे एक्टर नहीं बल्कि क्रिकेटर बनना चाहते थे।

इरफान की डेब्यू मूवी 1988 में आई सलाम बॉम्बे है। इस मूवी में उन्होंने एक लेटर राइटर का रोल प्ले किया था। 

इरफान की डेब्यू मूवी 1988 में आई सलाम बॉम्बे है। इस मूवी में उन्होंने एक लेटर राइटर का रोल प्ले किया था। 

हालांकि इरफान को फिल्मों में पहचान 2002 में आई फिल्म 'हासिल' से मिली। इसमें उन्होंने रणविजय सिंह का रोल प्ले किया था। 

हालांकि इरफान को फिल्मों में पहचान 2002 में आई फिल्म 'हासिल' से मिली। इसमें उन्होंने रणविजय सिंह का रोल प्ले किया था। 

फिल्म हासिल में बेस्ट नेगेटिव रोल के लिए उन्हें फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला है।

फिल्म हासिल में बेस्ट नेगेटिव रोल के लिए उन्हें फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला है।

इरफान ने 'मकबूल', 'लाइफ इन अ मेट्रो', 'द लंच बॉक्स', 'पीकू', 'तलवार' और 'हिंदी मीडियम' जैसी फिल्मों में काम किया। 

इरफान ने 'मकबूल', 'लाइफ इन अ मेट्रो', 'द लंच बॉक्स', 'पीकू', 'तलवार' और 'हिंदी मीडियम' जैसी फिल्मों में काम किया। 

इरफान को 'हासिल' (निगेटिव रोल), 'लाइफ इन अ मेट्रो' (बेस्ट एक्टर), 'पान सिंह तोमर' (बेस्ट एक्टर क्रिटिक) और 'हिंदी मीडियम' (बेस्ट एक्टर) के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला।

इरफान को 'हासिल' (निगेटिव रोल), 'लाइफ इन अ मेट्रो' (बेस्ट एक्टर), 'पान सिंह तोमर' (बेस्ट एक्टर क्रिटिक) और 'हिंदी मीडियम' (बेस्ट एक्टर) के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला।

'पान सिंह तोमर' के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड दिया गया था। कला के क्षेत्र में उन्हें देश का चौथा सबसे बड़ा सम्मान पद्मश्री भी दिया गया।

'पान सिंह तोमर' के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड दिया गया था। कला के क्षेत्र में उन्हें देश का चौथा सबसे बड़ा सम्मान पद्मश्री भी दिया गया।

इरफान ने कई हॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया है। इनमें 'अ माइटी हार्ट', द वॉरियर, द दार्जिलिंग लिमिटेड, पार्टीशन, न्यूयॉर्क आई लव यू, द अमेजिंग स्पाइडरमैन, लाइफ ऑफ पाइ, इनफर्नो शामिल हैं।

इरफान ने कई हॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया है। इनमें 'अ माइटी हार्ट', द वॉरियर, द दार्जिलिंग लिमिटेड, पार्टीशन, न्यूयॉर्क आई लव यू, द अमेजिंग स्पाइडरमैन, लाइफ ऑफ पाइ, इनफर्नो शामिल हैं।

इरफान ने पानसिंह तोमर, लाइफ ऑफ पाइ, डी-डे, द लंचबॉक्स, किस्सा, पीकू, तलवार, इनफर्नो, मदारी, हिंदी मीडियम और करीब-करीब सिंगल जैसी बेहतरीन फिल्मों में काम किया।

इरफान ने पानसिंह तोमर, लाइफ ऑफ पाइ, डी-डे, द लंचबॉक्स, किस्सा, पीकू, तलवार, इनफर्नो, मदारी, हिंदी मीडियम और करीब-करीब सिंगल जैसी बेहतरीन फिल्मों में काम किया।

23 फरवरी, 1995 को इरफान खान ने एनएसडी ग्रैजुएट सुतापा सिकदर से शादी की।
 

23 फरवरी, 1995 को इरफान खान ने एनएसडी ग्रैजुएट सुतापा सिकदर से शादी की।
 

इरफान खान के दो बेट बाबिल और अयान हैं। 

इरफान खान के दो बेट बाबिल और अयान हैं। 

2012 में इरफान ने अपने नाम की स्पेलिंग चेंज की और उसमें एक एक्स्ट्रा R जोड़ा।

2012 में इरफान ने अपने नाम की स्पेलिंग चेंज की और उसमें एक एक्स्ट्रा R जोड़ा।

इरफान ने कहा था कि 16 साल की उम्र में वे सिर्फ इसलिए दूध लेने जाते थे, ताकि दूधवाले की बेटी की शक्ल देख सकें।

इरफान ने कहा था कि 16 साल की उम्र में वे सिर्फ इसलिए दूध लेने जाते थे, ताकि दूधवाले की बेटी की शक्ल देख सकें।

इरफान खान आखिरी बार 'अंग्रेजी मीडियम' में नजर आए थे, जो 13 मार्च को रिलीज हुई थी।

इरफान खान आखिरी बार 'अंग्रेजी मीडियम' में नजर आए थे, जो 13 मार्च को रिलीज हुई थी।

चार दिन पहले (शनिवार को) ही इरफान खान की माता का जयपुर में देहांत हो गया था। उसमें भी इरफान खान तबीयत खराब होने के कारण नहीं आ सके थे।

चार दिन पहले (शनिवार को) ही इरफान खान की माता का जयपुर में देहांत हो गया था। उसमें भी इरफान खान तबीयत खराब होने के कारण नहीं आ सके थे।

हालांकि, इसी दौरान लॉकडाउन के चलते यह फिल्म सिर्फ दो दिन ही सिनेमाघरों में चल पाई।

हालांकि, इसी दौरान लॉकडाउन के चलते यह फिल्म सिर्फ दो दिन ही सिनेमाघरों में चल पाई।

इरफान 2015 में राजस्थान सरकार के कैम्पेन 'रिसर्जेंट राजस्थान' के ब्रांड एम्बेसडर भी रहे थे।

इरफान 2015 में राजस्थान सरकार के कैम्पेन 'रिसर्जेंट राजस्थान' के ब्रांड एम्बेसडर भी रहे थे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios