Asianet News Hindi

तो इसलिए बात-बात पर भड़क जाती है ऐश्वर्या राय की सास, बेटी श्वेता ने बताई थी इसके पीछे की अजीब वजह

First Published Feb 20, 2021, 12:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. अमिताभ बच्चन (amitabh bachchan) की पत्नी जया बच्चन (jaya bachchan) एकबार फिर सिल्वर स्क्रीन पर दिखेंगी। रिपोर्ट्स के अनुसार जया अब मराठी सिनेमा में हाथ आजमाने वाली हैं। उनकी आने वाली फिल्म का डायरेक्शन मराठी फिल्मों के डायरेक्टर गजेंद्र अहिरे कर रहे हैं। जिन्होंने पहले अनुमति, द साइलेंस और शेवरी जैसी लगभग 50 से भी ज्यादा मराठी फिल्मों का निर्देशन किया है। जया करीब 7 साल बाद फिर से एक्टिंग की दुनिया में कदम रख रही है। जया आखिरी बार 7 साल पहले 2013 में रितुपर्णो घोष की फिल्म सनग्लास में काम किया था। हालांकि, यह फिल्म कभी रिलीज नहीं हो पाई। वैसे, कम ही लोग जानते हैं कि जया claustrophobic नामक बीमारी से ग्रस्त है। 

claustrophobic बीमारी की वजह से जया बच्चन बात-बात पर लोगों पर भड़क जाती है। उनकी इस बीमारी का खुलासा बेटी श्वेता बच्चन ने करन जौहर के शो में किया था।

claustrophobic बीमारी की वजह से जया बच्चन बात-बात पर लोगों पर भड़क जाती है। उनकी इस बीमारी का खुलासा बेटी श्वेता बच्चन ने करन जौहर के शो में किया था।

करन जौहर के चैट शो में पहुंचीं श्वेता और अभिषेक बच्चन ने बताया था कि उनकी मां को claustrophobic नाम की बीमारी है। ये एक ऐसी मानसिक स्थिति है, जिसमें इंसान अचानक भीड़ को देखकर परेशान हो जाता है। कई बार तो उसे गुस्सा आता है या फिर वो बेहोश भी हो सकता है। ऐसी अवस्था अक्सर लोगों को बाजार में, भीड़ वाले वाहन में या लिफ्ट में महसूस होती है।

करन जौहर के चैट शो में पहुंचीं श्वेता और अभिषेक बच्चन ने बताया था कि उनकी मां को claustrophobic नाम की बीमारी है। ये एक ऐसी मानसिक स्थिति है, जिसमें इंसान अचानक भीड़ को देखकर परेशान हो जाता है। कई बार तो उसे गुस्सा आता है या फिर वो बेहोश भी हो सकता है। ऐसी अवस्था अक्सर लोगों को बाजार में, भीड़ वाले वाहन में या लिफ्ट में महसूस होती है।

श्वेता बताया था कि मां को भीड़ देखकर परेशानी होती है। उन्हें यह बिल्कुल पसंद नहीं कि कोई धक्का दे या फिर टच करें। इसके अलावा कैमरे का फ्लैश आंखों में पड़ने से भी उन्हें परेशानी होती है। 

श्वेता बताया था कि मां को भीड़ देखकर परेशानी होती है। उन्हें यह बिल्कुल पसंद नहीं कि कोई धक्का दे या फिर टच करें। इसके अलावा कैमरे का फ्लैश आंखों में पड़ने से भी उन्हें परेशानी होती है। 

वहीं, अभिषेक ने बताया था कि वो अक्सर मां जया के जाने के बाद ही मीडिया के सामने से गुजरते हैं। जया के इस गुस्से का आलम ये है कि अब लोग भी उनके साथ फोटो खिंचवाने से कतराते हैं। कई बार तो जया के बच्चे भी उनके इस बर्ताव से परेशान हो जाते हैं।

वहीं, अभिषेक ने बताया था कि वो अक्सर मां जया के जाने के बाद ही मीडिया के सामने से गुजरते हैं। जया के इस गुस्से का आलम ये है कि अब लोग भी उनके साथ फोटो खिंचवाने से कतराते हैं। कई बार तो जया के बच्चे भी उनके इस बर्ताव से परेशान हो जाते हैं।

जया कैमरा में पोज देने से ज्यादातर कतराती नजर आती हैं। जया के इस तरह के बर्ताव के कई सारे वीडियो भी सोशल मीडिया पर हैं, जिनमें यह साफ दिखाई देता है। यहां तक कि जया कई बार मीडिया पर भड़क भी चुकी हैं। 

जया कैमरा में पोज देने से ज्यादातर कतराती नजर आती हैं। जया के इस तरह के बर्ताव के कई सारे वीडियो भी सोशल मीडिया पर हैं, जिनमें यह साफ दिखाई देता है। यहां तक कि जया कई बार मीडिया पर भड़क भी चुकी हैं। 

एक बार किसी पार्टी के दौरान जया और ऐश्वर्या साथ पहुंचीं थी। तभी किसी फोटोग्राफर ने ऐश्वर्या राय को 'ऐश ऐश' कहकर आवाज दी। इस पर जया उस फोटोग्राफर पर भड़क गईं और बोलीं  थी- क्या ऐश ऐश बुला रहे हो, ऐश्वर्या जी या मिसेज बच्चन कहो।

एक बार किसी पार्टी के दौरान जया और ऐश्वर्या साथ पहुंचीं थी। तभी किसी फोटोग्राफर ने ऐश्वर्या राय को 'ऐश ऐश' कहकर आवाज दी। इस पर जया उस फोटोग्राफर पर भड़क गईं और बोलीं  थी- क्या ऐश ऐश बुला रहे हो, ऐश्वर्या जी या मिसेज बच्चन कहो।

बता दें कि जया ने 1971 में आई फिल्म गुड्डी से अपने करियर की शुरुआत की थी। अपने 50 साल के करियर में जया ने कई हिट फिल्मों में काम किया। उन्होंने उपहार, जवानी दीवानी, परिचय, पिया का घर, समाधी,  कोशिश, शोर, जंजीर, मिली, चुपके-चुपके, शोले, नौकर, सिलसिला, कभी खुशी कभी गम, कल हो ना हो जैसी फिल्मों में काम किया है। 

बता दें कि जया ने 1971 में आई फिल्म गुड्डी से अपने करियर की शुरुआत की थी। अपने 50 साल के करियर में जया ने कई हिट फिल्मों में काम किया। उन्होंने उपहार, जवानी दीवानी, परिचय, पिया का घर, समाधी,  कोशिश, शोर, जंजीर, मिली, चुपके-चुपके, शोले, नौकर, सिलसिला, कभी खुशी कभी गम, कल हो ना हो जैसी फिल्मों में काम किया है। 

1973 में अमिताभ बच्चन के साथ शादी करने बाद जया ने फिल्मों में काम करना कम कर दिया था। इसके बाद इस वक्त ऐसा भी आया जब उन्होंने एक्टिंग करना ही छोड़ दिया था। 1981 में आई फिल्म सिलसिला के बाद वे 1998 में हजार चौरासी की मां फिल्म में नजर आई थी। 

1973 में अमिताभ बच्चन के साथ शादी करने बाद जया ने फिल्मों में काम करना कम कर दिया था। इसके बाद इस वक्त ऐसा भी आया जब उन्होंने एक्टिंग करना ही छोड़ दिया था। 1981 में आई फिल्म सिलसिला के बाद वे 1998 में हजार चौरासी की मां फिल्म में नजर आई थी। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios