Asianet News Hindi

तो इसलिए इस एक्टर से अमिताभ-शाहरुख को होती थी जलन, शूटिंग सेट पर बना ली थी दूरियां, बात तक नहीं करते थे

First Published Dec 14, 2020, 1:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. अमिताभ बच्चन (amitabh bachchan), जया बच्चन (jaya bachchan), शाहरुख खान (shahrukh khan), काजोल (kajol), ऋतिक रोशन (hrithik roshan) और करीना कपूर (kareena kapoor) स्टारर कभी खुशी कभी गम (kabhi khushi kabhie gham) को रिलीज हुए 19 साल हो गए हैं। करन जौहर (karan johar) के निर्देशन में बनी यह फिल्म 14 दिसंबर, 2001 को रिलीज हुई थी। फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी। कभी खुशी कभी गम, कुछ कुछ होता है के बाद करन जौहर के निर्देशन में बनी दूसरी फिल्म थी। यह 2001 की दूसरी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी। पहले स्थान पर डायरेक्टर अनिल शर्मा की सनी देओल और अमीषा पटेल स्टारर गदर : एक प्रेमकथा थी। 'गदर..' ने जहां 76.88 करोड़ रुपए कमाए थे तो वहीं 'कभी खुशी..' ने 55.65 करोड़ रुपए की कमाई की थी। वैसे, इस फिल्म से जुड़ा एक हैरान करने वाला किस्सा करन ने अपनी किताब एन अनसुटेबल ब्वॉय में बताया है। आइए, आपको बताते हैं क्या है यह किस्सा...

करन जौहर फिल्म कभी खुशी कभी गम के डायरेक्टर है। उन्होंने अपने किताब में खुलासा किया कि शाहरुख खान, अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और काजोल सेट पर ऋतिक रोशन से दूरी बनाकर रखते थे और इसके लिए उन्हें बुरा लगता था। उन्होंने बताया कि सेट पर ये दुश्मनी फिल्म कहो ना प्यार है की सक्सेस की वजह से थी।

करन जौहर फिल्म कभी खुशी कभी गम के डायरेक्टर है। उन्होंने अपने किताब में खुलासा किया कि शाहरुख खान, अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और काजोल सेट पर ऋतिक रोशन से दूरी बनाकर रखते थे और इसके लिए उन्हें बुरा लगता था। उन्होंने बताया कि सेट पर ये दुश्मनी फिल्म कहो ना प्यार है की सक्सेस की वजह से थी।

'कहो ना प्यार है' की सफलता के बाद ऋतिक इंडस्ट्री में काफी पॉपुलर हो गए थे और उनकी तुलना शाहरुख से होने लगी थी। करन ने बताया- 'यह बहुत ही गलत था क्योंकि ऋतिक बहुत ही जूनियर थे और शाहरुख पहले से ही बड़े स्टार थे, लेकिन वो दौर ऐसा था, जब शाहरुख की एक या दो फिल्में फ्लॉप हो गई थी।

'कहो ना प्यार है' की सफलता के बाद ऋतिक इंडस्ट्री में काफी पॉपुलर हो गए थे और उनकी तुलना शाहरुख से होने लगी थी। करन ने बताया- 'यह बहुत ही गलत था क्योंकि ऋतिक बहुत ही जूनियर थे और शाहरुख पहले से ही बड़े स्टार थे, लेकिन वो दौर ऐसा था, जब शाहरुख की एक या दो फिल्में फ्लॉप हो गई थी।

करन ने किताब में लिखा- उस दौरान मीडिया ने ऋतिक की तारीफ करना शुरू कर दी थी, जिसकी वजह से जो नकारात्मकता सामने आई, वह सही नहीं थी। हालांकि, उन्होंने ये भी बताया कि ऋतिक को ज्यादा लोगों से घुलना-मिलना पसंद नहीं था।

करन ने किताब में लिखा- उस दौरान मीडिया ने ऋतिक की तारीफ करना शुरू कर दी थी, जिसकी वजह से जो नकारात्मकता सामने आई, वह सही नहीं थी। हालांकि, उन्होंने ये भी बताया कि ऋतिक को ज्यादा लोगों से घुलना-मिलना पसंद नहीं था।

करन ने आगे लिखा- 'मुझे लगता था कि शूटिंग के दौरान ऋतिक को किसी न किसी की जरूरत होती थी पर अमिताभ और जया बच्चन उनसे बात नहीं करते थे। शाहरुख ने भी उनसे दूरी बना ली थी और काजोल तो पहले से ही एसआरके के साथी थी।'

करन ने आगे लिखा- 'मुझे लगता था कि शूटिंग के दौरान ऋतिक को किसी न किसी की जरूरत होती थी पर अमिताभ और जया बच्चन उनसे बात नहीं करते थे। शाहरुख ने भी उनसे दूरी बना ली थी और काजोल तो पहले से ही एसआरके के साथी थी।'

करन ने बताया कि उन्हें लगता था कि ऋतिक उस अकेले बच्चे की तरह थे, जो खो गया था। सेट पर वो उनको जितना संभव हो सके अच्छा फील कराने की कोशिश करते थे। और ऐसे में हमारे बीच अच्छी फ्रेंडशिप हो गई।

करन ने बताया कि उन्हें लगता था कि ऋतिक उस अकेले बच्चे की तरह थे, जो खो गया था। सेट पर वो उनको जितना संभव हो सके अच्छा फील कराने की कोशिश करते थे। और ऐसे में हमारे बीच अच्छी फ्रेंडशिप हो गई।

वैसे, आपको बता दें कि फिल्म में अचला सचदेव ने अमिताभ बच्चन की मां का किरदार निभाया था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस भूमिका के लिए पहली पसंद वहीदा रहमान थीं। वहीदा रहमान को फिल्म के लिए कास्ट कर लिया गया था। यहां तक कि उन्होंने कुछ सीन की शूटिंग भी कर ली थी। लेकिन इसी दौरान उनके पति कमलजीत का निधन हो गया और उन्होंने फिल्म छोड़ दी। 

वैसे, आपको बता दें कि फिल्म में अचला सचदेव ने अमिताभ बच्चन की मां का किरदार निभाया था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस भूमिका के लिए पहली पसंद वहीदा रहमान थीं। वहीदा रहमान को फिल्म के लिए कास्ट कर लिया गया था। यहां तक कि उन्होंने कुछ सीन की शूटिंग भी कर ली थी। लेकिन इसी दौरान उनके पति कमलजीत का निधन हो गया और उन्होंने फिल्म छोड़ दी। 

अभिषेक बच्चन ने इस फिल्म के कैमियो के लिए शूटिंग की थी। हालांकि, बाद में उन्होंने डायरेक्टर करन जौहर से इस सीन को फाइनल कॉपी से हटाने के लिए कहा था।

अभिषेक बच्चन ने इस फिल्म के कैमियो के लिए शूटिंग की थी। हालांकि, बाद में उन्होंने डायरेक्टर करन जौहर से इस सीन को फाइनल कॉपी से हटाने के लिए कहा था।

आमिर खान ने करन जौहर के शो 'कॉफी विद करन' में कहा था कि जब उन्होंने स्पेशल स्क्रीनिंग के दौरान 'कभी खुशी कभी गम' देखी तो उन्हें पसंद नहीं आई थी। वहां पूरी कास्ट मौजूद थी, लेकिन जैसे ही फिल्म खत्म हुई वे बिना किसी को बधाई दिए निकल गए। उन्होंने उस वक्त करन और शाहरुख को नजरअंदाज भी किया था। हालांकि, शो के दौरान उन्होंने करन से माफी भी मांगी थी।

आमिर खान ने करन जौहर के शो 'कॉफी विद करन' में कहा था कि जब उन्होंने स्पेशल स्क्रीनिंग के दौरान 'कभी खुशी कभी गम' देखी तो उन्हें पसंद नहीं आई थी। वहां पूरी कास्ट मौजूद थी, लेकिन जैसे ही फिल्म खत्म हुई वे बिना किसी को बधाई दिए निकल गए। उन्होंने उस वक्त करन और शाहरुख को नजरअंदाज भी किया था। हालांकि, शो के दौरान उन्होंने करन से माफी भी मांगी थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios