Asianet News Hindi

अब ऐसी दिखती है करीना के चाचा की हीरोइन, 25 साल पहले अचानक हो गई थी गायब, अब कर रही ये काम

First Published Feb 11, 2021, 1:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. करीना कपूर (kareena kapoor) के चाचा राजीव कपूर (rajeev kapoor) का 58 की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से मंगलवार (9 फरवरी) निधन हो गया था। आज यानी गुरुवार को उनका चौथा है लेकिन कपूर खानदान द्वारा चौथे की रस्म नहीं निभाई जाएगी। इसकी वजह से कोरोना महामारी। राजीव की भाभी नीतू सिंह (neetu singh) ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट शेयर कर देवर के चौथे को लेकर जानकारी दी थी। नीतू ने बताया था- कोरोना महामारी को देखते हुए राजीव का चौथा नहीं होगा। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। वैसे, राजीव के निधन के बाद उनकी हीरोइन मंदाकिनी (mandakini) लाइमलाइट में आ गई है। दोनों ने 1985 में आई फिल्म राम तेरी गंगा मैली में साथ काम किया था। मंदाकिनी की यह डेब्यू फिल्म थी जबकि राजीव काफी पहले ही फिल्म एक जान है हम से बॉलीवुड में कदम रखा था। 

राज कपूर ने राजीव कपूर को राम तेरी गंगा मैली से री-लॉन्च किया था। इस फिल्म में राजीव कपूर के साथ नए चेहरे के रूप में मंदाकिनी को लिया गया था। ये फिल्म सुपरहिट हुई और मंदाकिनी रातों रात हिट हो गई थी। हालांकि, इस फिल्म राजीव को खास फायदा नहीं मिला लेकिन मंदाकिनी के सामने फिल्मों की लाइन लग गई।

राज कपूर ने राजीव कपूर को राम तेरी गंगा मैली से री-लॉन्च किया था। इस फिल्म में राजीव कपूर के साथ नए चेहरे के रूप में मंदाकिनी को लिया गया था। ये फिल्म सुपरहिट हुई और मंदाकिनी रातों रात हिट हो गई थी। हालांकि, इस फिल्म राजीव को खास फायदा नहीं मिला लेकिन मंदाकिनी के सामने फिल्मों की लाइन लग गई।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इसी फिल्म के बाद पिता राज कपूर और बेटे राजीव कपूर के बीच रिश्ते में ऐसी दरार आई, जो कभी भर नहीं पाई। कहा जाता है कि राजीव कपूर, अपने पिता से इतने नाराज थे कि उनके निधन के बाद अंतिम संस्कार तक में नहीं गए थे। यही नहीं कपूर परिवार से अलग वो तीन दिन तक शराब के नशे में चूर रहे थे।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इसी फिल्म के बाद पिता राज कपूर और बेटे राजीव कपूर के बीच रिश्ते में ऐसी दरार आई, जो कभी भर नहीं पाई। कहा जाता है कि राजीव कपूर, अपने पिता से इतने नाराज थे कि उनके निधन के बाद अंतिम संस्कार तक में नहीं गए थे। यही नहीं कपूर परिवार से अलग वो तीन दिन तक शराब के नशे में चूर रहे थे।

बात मंदाकिनी की करे तो उनका असली नाम यास्मीम जोसेफ है। मंदाकिनी ने इस फिल्म के बाद कई फिल्में की लेकिन उनको राम तेरी गंगा मैली फिल्म से ही पहचाना जाता है।

बात मंदाकिनी की करे तो उनका असली नाम यास्मीम जोसेफ है। मंदाकिनी ने इस फिल्म के बाद कई फिल्में की लेकिन उनको राम तेरी गंगा मैली फिल्म से ही पहचाना जाता है।

कई सुपरहिट फिल्मों में काम करने वाली मंदाकिनी पिछले 25 साल से इंडस्ट्री से गायब है। वे आखिरी बार 1996 में फिल्म जोरदार में नजर आई थी। फिल्मों में काम करने के दौरान उनका नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जुड़ा था। कहा ये भी जाता है कि दाऊद से जान पहचान होने के कारण उन्हें कई फिल्मों में लिया गया था। और इसी वजह से उन्हें बहुत बदनामी भी झेलनी पड़ गई थी।
 

कई सुपरहिट फिल्मों में काम करने वाली मंदाकिनी पिछले 25 साल से इंडस्ट्री से गायब है। वे आखिरी बार 1996 में फिल्म जोरदार में नजर आई थी। फिल्मों में काम करने के दौरान उनका नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जुड़ा था। कहा ये भी जाता है कि दाऊद से जान पहचान होने के कारण उन्हें कई फिल्मों में लिया गया था। और इसी वजह से उन्हें बहुत बदनामी भी झेलनी पड़ गई थी।
 

खबरें तो ये भी आईं थी कि दोनों ने शादी कर ली थी लेकिन मंदाकिनी ने हमेशा इस बात को खारिज किया। उन्होंने ये जरूर स्वीकार किया कि दाऊद से उनकी जान पहचान थी। जब बदनामी हुई तो काम मिलना कम हो गया। जितनी तेजी से वे ऊपर उठी थी उसी रफ्तार से उनका करियर भी नीचे गिरता चला गया।

खबरें तो ये भी आईं थी कि दोनों ने शादी कर ली थी लेकिन मंदाकिनी ने हमेशा इस बात को खारिज किया। उन्होंने ये जरूर स्वीकार किया कि दाऊद से उनकी जान पहचान थी। जब बदनामी हुई तो काम मिलना कम हो गया। जितनी तेजी से वे ऊपर उठी थी उसी रफ्तार से उनका करियर भी नीचे गिरता चला गया।

फिल्में नहीं मिलने के कारण मंदाकिनी ने गाना शुरू कर दिया। दो एलबम भी निकाले लेकिन चल नहीं पाए। मंदाकिनी ने फिर डॉ. काग्युर टी रिनपोचे ठाकुर से 1990 में शादी की।

फिल्में नहीं मिलने के कारण मंदाकिनी ने गाना शुरू कर दिया। दो एलबम भी निकाले लेकिन चल नहीं पाए। मंदाकिनी ने फिर डॉ. काग्युर टी रिनपोचे ठाकुर से 1990 में शादी की।

मंदाकिनी मुंबई में ही अपने पति के साथ रहती हैं। यहां कपल मिलकर तिब्बतन हर्बल सेंटर चलाता हैं। यहां मंदाकिनी लोगों को तिब्बती योगा भी सिखाती हैं। 

मंदाकिनी मुंबई में ही अपने पति के साथ रहती हैं। यहां कपल मिलकर तिब्बतन हर्बल सेंटर चलाता हैं। यहां मंदाकिनी लोगों को तिब्बती योगा भी सिखाती हैं। 

मंदाकिनी के पति ठाकुर 1970 से 1980 के दशक में मर्फी रेडियो के प्रिंट के ऐड में नजर आते थे। आपको बता दें कि रणबीर कपूर की फिल्म बर्फी में इस बच्चे का जिक्र था। बाद में ठाकुर बौद्ध भिक्षु बनें और 1990 में उन्होंने मंदाकिनी से शादी की थी। मंदाकिनी और ठाकुर के 2 बच्चे हुए। बेटा रब्बील और बेटी राब्जे।
 

मंदाकिनी के पति ठाकुर 1970 से 1980 के दशक में मर्फी रेडियो के प्रिंट के ऐड में नजर आते थे। आपको बता दें कि रणबीर कपूर की फिल्म बर्फी में इस बच्चे का जिक्र था। बाद में ठाकुर बौद्ध भिक्षु बनें और 1990 में उन्होंने मंदाकिनी से शादी की थी। मंदाकिनी और ठाकुर के 2 बच्चे हुए। बेटा रब्बील और बेटी राब्जे।
 

मंदाकिनी इंस्टाग्राम पर भी एक्टिव रहती है। कभी बेहद खूबसूरत दिखने वाली मंदाकिनी के लुक में वक्त के साथ बदलाव देखने को मिल रहा है। उनका वजन भी बढ़ गया है। 

मंदाकिनी इंस्टाग्राम पर भी एक्टिव रहती है। कभी बेहद खूबसूरत दिखने वाली मंदाकिनी के लुक में वक्त के साथ बदलाव देखने को मिल रहा है। उनका वजन भी बढ़ गया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios