Asianet News Hindi

जेब में 10 हजार रुपए लेकर जब रूठी गौरी को मनाने मुंबई गए थे शाहरुख, रेलवे स्टेशन पर गुजारी थी रातें

First Published Nov 2, 2020, 11:41 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान (shahrukh khan) आज 55 साल के हो गए हैं। उनका जन्म 2 नवंबर 1965 को दिल्ली में हुआ था। कई ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम करने वाले शाहरुख ने करियर की शुरुआत में बेहद संघर्ष किया। शाहरुख ने 28 साल पहले फिल्म 'दीवाना' से करियर की शुरुआत की थी। शाहरुख को सबसे ज्यादा फिल्मों में उनके रोमांटिक किरदार के लिए जाना जाता है। फिर चाहे बात आंखों में देखकर डायलॉग बोलने की हो या उनके सिग्नेचर स्टेप की, हर कोई उनका कायल हैं। आपको बता दें कि उनकी जिंदगी में एक वक्त ऐसा भी आया था जब उन्हें रेलवे स्टेशन की बेंच पर रातें गुजारनी पड़ी थी। यह सब उन्हें अपनी गर्लफ्रेंड गौरी (gauri) के लिए करना पड़ा था। आइए, आपको बताते है आखिर क्या है पूरी कहानी...

शाहरुख जब सिर्फ 19 साल के थे तब गौरी 14 साल की थीं। उसी वक्त उन्होंने पहली बार गौरी को देखा था और वो उनका लव एट फर्स्ट साइट था। उन्होंने जब गौरी से बात करने की कोशिश करनी चाही तो गौरी ने मना कर दिया। कई कोशिशों के बाद गौरी बात करने के लिए तैयारी हुई थी।

शाहरुख जब सिर्फ 19 साल के थे तब गौरी 14 साल की थीं। उसी वक्त उन्होंने पहली बार गौरी को देखा था और वो उनका लव एट फर्स्ट साइट था। उन्होंने जब गौरी से बात करने की कोशिश करनी चाही तो गौरी ने मना कर दिया। कई कोशिशों के बाद गौरी बात करने के लिए तैयारी हुई थी।

शाहरुख, गौरी के प्यार में पूरी तरह से पागल हो चुके थे। वह गौरी को लेकर इतने ज्यादा पजेसिव थे कि वह गौरी को किसी भी लड़के से बात नहीं करने देते थे। उन्हें बाल खोलकर घूमने से मना करते थे। इसी बात से नाराज होकर गौरी, शाहरुख को बिना बताए मुंबई चली गई। लेकिन शाहरुख तो उनके प्यार में इस कदर दीवाने थे कि वह उन्हें ढूंढते हुए उनके पास पहुंच गए। 

शाहरुख, गौरी के प्यार में पूरी तरह से पागल हो चुके थे। वह गौरी को लेकर इतने ज्यादा पजेसिव थे कि वह गौरी को किसी भी लड़के से बात नहीं करने देते थे। उन्हें बाल खोलकर घूमने से मना करते थे। इसी बात से नाराज होकर गौरी, शाहरुख को बिना बताए मुंबई चली गई। लेकिन शाहरुख तो उनके प्यार में इस कदर दीवाने थे कि वह उन्हें ढूंढते हुए उनके पास पहुंच गए। 

शाहरुख को परेशान देखकर उनकी मम्मी लतीफ फातिमा उनके पास आई और 10 हजार रुपए दिए। उनकी मम्मी ने कहा कि मुंबई जाओ और जिस लड़की से प्यार करते हो उसे वापस लेकर आओ। शाहरुख मुंबई पहुंचे और पहले दो दिन अपने दोस्त के फ्लैट पर गुजारे। फिर दोस्त के पेरेंट्स लौट आए तो शाहरुख को रेलवे स्टेशनव पर रातें गुजारनी पड़ी। खूब ढूंढने के बाद आखिरकार उन्हें गौरी मिली और वे उसे मनाकर वापस ले आए। 

शाहरुख को परेशान देखकर उनकी मम्मी लतीफ फातिमा उनके पास आई और 10 हजार रुपए दिए। उनकी मम्मी ने कहा कि मुंबई जाओ और जिस लड़की से प्यार करते हो उसे वापस लेकर आओ। शाहरुख मुंबई पहुंचे और पहले दो दिन अपने दोस्त के फ्लैट पर गुजारे। फिर दोस्त के पेरेंट्स लौट आए तो शाहरुख को रेलवे स्टेशनव पर रातें गुजारनी पड़ी। खूब ढूंढने के बाद आखिरकार उन्हें गौरी मिली और वे उसे मनाकर वापस ले आए। 

एक मैगजीन में छपे अपने आर्टिकल में शाहरुख ने कहा था- उस समय गौरी को लेकर मेरी दीवानगी बेहद बढ़ चुकी थी। अगर वो स्विमसूट पहनती या अपने बाल खुले रखती तो मैं उससे लड़ने लगता था। जब वो अपने बाल खोलती थी तो बेहद खूबसूरत लगती थी। मैं नहीं चाहता था कि दूसरे लड़के उसे देखें। फिल्मों की तरह ही शाहरुख और गौरी की रियल लव स्टोरी में भी कई मुश्किलें आईं थी। 

एक मैगजीन में छपे अपने आर्टिकल में शाहरुख ने कहा था- उस समय गौरी को लेकर मेरी दीवानगी बेहद बढ़ चुकी थी। अगर वो स्विमसूट पहनती या अपने बाल खुले रखती तो मैं उससे लड़ने लगता था। जब वो अपने बाल खोलती थी तो बेहद खूबसूरत लगती थी। मैं नहीं चाहता था कि दूसरे लड़के उसे देखें। फिल्मों की तरह ही शाहरुख और गौरी की रियल लव स्टोरी में भी कई मुश्किलें आईं थी। 

शाहरुख और गौरी तो अपने प्यार को शादी में बदलने के लिए तैयार थे मगर दोनों के धर्म अलग होने की वजह से इनके घरवालों को कड़ी आपत्ति थी। शाहरुख ने गौरी के परिवार वालों को मनाने के लिए खूब पापड़ बेले और उन्हें मनाने में आखिरकार कामयाब हो गए। 

शाहरुख और गौरी तो अपने प्यार को शादी में बदलने के लिए तैयार थे मगर दोनों के धर्म अलग होने की वजह से इनके घरवालों को कड़ी आपत्ति थी। शाहरुख ने गौरी के परिवार वालों को मनाने के लिए खूब पापड़ बेले और उन्हें मनाने में आखिरकार कामयाब हो गए। 

26 अगस्त 1991 को शाहरुख और गौरी ने कोर्ट में शादी कर ली। बाद में इन दोनों का निकाह भी हुआ जिसमें गौरी का नाम आयशा रखा गया। इसके बाद 25 अक्टूबर 1991 को हिंदू रीति-रिवाजों के मुताबिक दोनों की शादी हुई। कपल के तीन बच्चे हैं। 

26 अगस्त 1991 को शाहरुख और गौरी ने कोर्ट में शादी कर ली। बाद में इन दोनों का निकाह भी हुआ जिसमें गौरी का नाम आयशा रखा गया। इसके बाद 25 अक्टूबर 1991 को हिंदू रीति-रिवाजों के मुताबिक दोनों की शादी हुई। कपल के तीन बच्चे हैं। 

फिल्मों में आने से पहले शाहरुख ने टीवी शो 'सर्कस' और 'फौजी' में काम किया था। हिंदी सिनेमा में उन्होंने कदम फिल्म दीवाना से रखा। कम लोग ही जानते हैं कि शाहरुख दीवाना से पहले दिल आशना है की शूटिंग पूरी कर चुके थे। उन्होंने साइन भी पहले यही फिल्म की थी। फिल्मों के अलावा शाहरुख खान टीवी पर भी सक्रिय रहे हैं। वे केबीसी, क्या आप पांचवीं पास से तेज हैं, जोर का झटका जैसे रियलिटी शो होस्ट कर चुके हैं।

फिल्मों में आने से पहले शाहरुख ने टीवी शो 'सर्कस' और 'फौजी' में काम किया था। हिंदी सिनेमा में उन्होंने कदम फिल्म दीवाना से रखा। कम लोग ही जानते हैं कि शाहरुख दीवाना से पहले दिल आशना है की शूटिंग पूरी कर चुके थे। उन्होंने साइन भी पहले यही फिल्म की थी। फिल्मों के अलावा शाहरुख खान टीवी पर भी सक्रिय रहे हैं। वे केबीसी, क्या आप पांचवीं पास से तेज हैं, जोर का झटका जैसे रियलिटी शो होस्ट कर चुके हैं।

शाहरुख ने बाजीगर, डर, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, दिल तो पागल है, कभी खुशी कभी गम, देवदास, मैं हूं ना, वीर-जारा, मोहब्बतें, ओम शांति ओम, कल हो न हो, कुछ कुछ होता है, चक दे इंडिया, रब ने बना दी जोड़ी, स्वदेश जैसी कई हिट फिल्मों में काम किया है। 

शाहरुख ने बाजीगर, डर, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, दिल तो पागल है, कभी खुशी कभी गम, देवदास, मैं हूं ना, वीर-जारा, मोहब्बतें, ओम शांति ओम, कल हो न हो, कुछ कुछ होता है, चक दे इंडिया, रब ने बना दी जोड़ी, स्वदेश जैसी कई हिट फिल्मों में काम किया है। 

शाहरुख पत्नी गौरी और तीनों बच्चों के साथ।

शाहरुख पत्नी गौरी और तीनों बच्चों के साथ।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios