Asianet News Hindi

16 की उम्र में पत्नी के लिए पहली बार धड़का था एक्टर का दिल, बचपन की दोस्ती ऐसे बदली प्यार में

First Published Feb 9, 2020, 1:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. वैलेंटाइन वीक का तीसरा दिन यानी चॉकलेट डे 9 फरवरी को सेलब्रेट किया जा रहा है। ऐसे में आयुष्मान खुराना ने ताहिरा कश्यप के साथ अपनी प्रेम कहानी को शेयर किया है। आयुष्मान ने एक इंटरव्यू में बताया कि ताहिरा के लिए उनका पहला बार दिल 16 साल की उम्र में धड़का था। वो दोनों बचपन से ही दोस्त थे। उन्होंने ताहिरा का दिल चॉकलेट खिलाकर जीता था।

प्यार को लेकर आयुष्मान का मानना है कि प्यार एक दोस्ती है, क्योंकि पहले ये एक हद तक शुरुआती अटरेक्शन होता है। इसके बाद दोस्ती होती है और यही रिश्ते को आगे बढ़ाती है। आयुष्मान कहते हैं कि उनका और ताहिरा का रिश्ता आज भी दोस्ती का है और दोस्ती से ही उनके प्यार की शुरुआत हुई थी। वही उनका पहला प्यार थीं।

प्यार को लेकर आयुष्मान का मानना है कि प्यार एक दोस्ती है, क्योंकि पहले ये एक हद तक शुरुआती अटरेक्शन होता है। इसके बाद दोस्ती होती है और यही रिश्ते को आगे बढ़ाती है। आयुष्मान कहते हैं कि उनका और ताहिरा का रिश्ता आज भी दोस्ती का है और दोस्ती से ही उनके प्यार की शुरुआत हुई थी। वही उनका पहला प्यार थीं।

आयुष्मान ने ताहिरा को लेकर आगे कहा कि वो उन्हें पहले से ही जानते थे, लेकिन उनके लिए आयुष्मान का पहली बार दिल 16 साल की उम्र में धड़का था। तब वो दोनों एक ही स्कूल में 11वीं और 12वीं क्लास में पढ़ा करते थे। इतना ही नहीं दोनों कोचिंग क्लास भी साथ जाया करते थे। आयुष्मान और ताहिरा के पिता की आपस में अच्छी जान पहचान थी। एक दिन ताहिरा के की फैमिली उनके यहां डिनर पर आई तो इसके बाद ताहिरा और आयुष्मान का रिश्ता खास हो गया था।

आयुष्मान ने ताहिरा को लेकर आगे कहा कि वो उन्हें पहले से ही जानते थे, लेकिन उनके लिए आयुष्मान का पहली बार दिल 16 साल की उम्र में धड़का था। तब वो दोनों एक ही स्कूल में 11वीं और 12वीं क्लास में पढ़ा करते थे। इतना ही नहीं दोनों कोचिंग क्लास भी साथ जाया करते थे। आयुष्मान और ताहिरा के पिता की आपस में अच्छी जान पहचान थी। एक दिन ताहिरा के की फैमिली उनके यहां डिनर पर आई तो इसके बाद ताहिरा और आयुष्मान का रिश्ता खास हो गया था।

ताहिरा के साथ रिलेशनशिप को लेकर आयुष्मान कहते हैं कि उनकी स्कूल टाइम की ये लव स्टोरी आगे कॉलेज और थिएटर के दिनों में परवान चढ़ी। चंडीगढ़ में दोनों ने साथ में थिएटर किया। वहीं पर दोनों ने एक मंच तंत्र नाम का एक थिएटर ग्रुप भी साथ में बनाया था। आयुष्मान कहते हैं कि दोनों ने एक-दूसरे को लंबे समय तक डेट किया और फिर एक दिन एक्टर ने ताहिरा को शादी के लिए प्रपोज कर दिया था।

ताहिरा के साथ रिलेशनशिप को लेकर आयुष्मान कहते हैं कि उनकी स्कूल टाइम की ये लव स्टोरी आगे कॉलेज और थिएटर के दिनों में परवान चढ़ी। चंडीगढ़ में दोनों ने साथ में थिएटर किया। वहीं पर दोनों ने एक मंच तंत्र नाम का एक थिएटर ग्रुप भी साथ में बनाया था। आयुष्मान कहते हैं कि दोनों ने एक-दूसरे को लंबे समय तक डेट किया और फिर एक दिन एक्टर ने ताहिरा को शादी के लिए प्रपोज कर दिया था।

आयुष्मान ने बताया कि शादी को लेकर कोई बाधा नहीं आई क्योंकि वो लोग फैमिली फ्रेंड्स थे, इसलिए घरवाले आसानी से मान गए और शादी के लिए परमिशन दे दी। एक्टर का कहना है कि उनके लिए ये सब काफी आसान था क्योंकि वो दोनों एक-दूसरे को बचपन से ही जानते थे।

आयुष्मान ने बताया कि शादी को लेकर कोई बाधा नहीं आई क्योंकि वो लोग फैमिली फ्रेंड्स थे, इसलिए घरवाले आसानी से मान गए और शादी के लिए परमिशन दे दी। एक्टर का कहना है कि उनके लिए ये सब काफी आसान था क्योंकि वो दोनों एक-दूसरे को बचपन से ही जानते थे।

आयुष्मान खुराना ने अपने रिश्ते का एक सीक्रेट भी बताया कि उन्होंने ताहिरा को चॉकलेट खिला-खिलाकर उनका दिल जीता। क्योंकि ताहिरा को चॉकलेट काफी पसंद है। वो उनके लिए हर डेट पर ब्राउनीज लेकर जाया करते थे और उसकी मिठास के साथ-साथ उनके रिश्ते में भी मिठास घुलती रही।

आयुष्मान खुराना ने अपने रिश्ते का एक सीक्रेट भी बताया कि उन्होंने ताहिरा को चॉकलेट खिला-खिलाकर उनका दिल जीता। क्योंकि ताहिरा को चॉकलेट काफी पसंद है। वो उनके लिए हर डेट पर ब्राउनीज लेकर जाया करते थे और उसकी मिठास के साथ-साथ उनके रिश्ते में भी मिठास घुलती रही।

एक्टर ने बताया कि वो आज भी ताहिरा को उनकी पसंदीदा ब्राउनी चॉकलेट्स खिलाते हैं। वह भी हमेशा आयुष्मान के लिए उनकी पसंदीदा चॉकलेट फ्लेवर केक का इंतजाम रखती हैं।

एक्टर ने बताया कि वो आज भी ताहिरा को उनकी पसंदीदा ब्राउनी चॉकलेट्स खिलाते हैं। वह भी हमेशा आयुष्मान के लिए उनकी पसंदीदा चॉकलेट फ्लेवर केक का इंतजाम रखती हैं।

आयुष्मान ने जीवनसाथी के बारे में बात करते हुए कहा कि ये बहुत ही नसीब की बात होती है कि किसी को वो इंसान मिल जाए, जिसे उसने शुरू से ही चाहा हो, जिससे उसकी बनती हो, जो उसे हर स्तर पर समझता है। आयुष्मान अपने और ताहिरा को लेकर कहते हैं कि उन दोनों की रूचि एक जैसी है। दोनों लिखते-पढ़ते हैं और थिएटर से जुड़े रहे। किसी को जीवनसाथी के रूप में सही इंसान मिल जाए तो दुनिया में इससे बेहतर कुछ भी नहीं है।

आयुष्मान ने जीवनसाथी के बारे में बात करते हुए कहा कि ये बहुत ही नसीब की बात होती है कि किसी को वो इंसान मिल जाए, जिसे उसने शुरू से ही चाहा हो, जिससे उसकी बनती हो, जो उसे हर स्तर पर समझता है। आयुष्मान अपने और ताहिरा को लेकर कहते हैं कि उन दोनों की रूचि एक जैसी है। दोनों लिखते-पढ़ते हैं और थिएटर से जुड़े रहे। किसी को जीवनसाथी के रूप में सही इंसान मिल जाए तो दुनिया में इससे बेहतर कुछ भी नहीं है।

आयुष्मान ताहिरा को अपनी पत्नी ही नहीं बल्कि उन्हें अपना कोच भी मानते हैं। एक्टर बताते हैं कि जब वो कॉलेज में पढ़ते थे तो वो उन्हें प्रेरित करती थीं। वो आज भी उनकी इस्पिरेशन हैं। आयुष्मान का मानना है कि वो और ताहिरा एक-दूसरे से सीखते सिखाते रहते हैं। वैलेंटाइन डे को लेकर आयुष्मान कहते हैं कि कुछ करने या प्यार जताने के लिए एक ही हफ्ता या एक ही दिन मिले तो क्या फायदा..! उनके लिए तो हर दिन वैलेंटाइंस डे हो सकता है।

आयुष्मान ताहिरा को अपनी पत्नी ही नहीं बल्कि उन्हें अपना कोच भी मानते हैं। एक्टर बताते हैं कि जब वो कॉलेज में पढ़ते थे तो वो उन्हें प्रेरित करती थीं। वो आज भी उनकी इस्पिरेशन हैं। आयुष्मान का मानना है कि वो और ताहिरा एक-दूसरे से सीखते सिखाते रहते हैं। वैलेंटाइन डे को लेकर आयुष्मान कहते हैं कि कुछ करने या प्यार जताने के लिए एक ही हफ्ता या एक ही दिन मिले तो क्या फायदा..! उनके लिए तो हर दिन वैलेंटाइंस डे हो सकता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios