Asianet News Hindi

जब भारत की यंग ब्रिगेड ने रचा था इतिहास, शॉ की कप्तानी में 8 विकेट से कंगारुओं से छीना था वर्ल्ड कप

First Published Feb 3, 2021, 4:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय क्रिकेट में कई तारीखे ऐसी हैं, जिनका इतिहास बहुत खास रहा है। उन्हीं में से एक तारीख है 3 फरवरी (3 february 2018)। ये भारतीय क्रिकेट के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में लिखी गई है। आज से 3 साल पहले इसी दिन भारत ने चौथी बार अंडर-19 का क्रिकेट विश्व कप अपने नाम किया था और कंगारुओं को 8 विकेट से रौंद दिया था। जूनियर सचिन की उपाधि लेने वाले पृथ्वी शॉ (prithvi shaw) की कप्तानी में भारत ने ये कारनामा कर दिखाया था। 3 फरवरी 2018 को न्यूजीलैंड के बे ओवल मैदान में खेले गए इस फाइनल मुकाबले (under-19 world cup 2018) में भारतीय टीम ने आस्ट्रेलिया को चारों खाने चित कर दिया। इंडियन बॉलर्स ने आस्ट्रेलिया की टीम को 216 रन पर समेटकर बल्लेबाजों के काम को आसान कर दिया था। आइए आज आपको बताते हैं इस दिन को इतिहास बनाने वाले खिलाड़ियों के बारे में..

साल 2018 में अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 13 जनवरी से 3 फरवरी तक न्यूजीलैंड में आयोजित किया गया था। ये अंडर-19  वर्ल्ड कप का 12वां टूर्नामेंट था। 

साल 2018 में अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 13 जनवरी से 3 फरवरी तक न्यूजीलैंड में आयोजित किया गया था। ये अंडर-19  वर्ल्ड कप का 12वां टूर्नामेंट था। 

तारीख थी 3 फरवरी 2018, जगह थी न्यूजीलैंड का बे ओवल मैदान और आमने-सामने थी, दो दमदार टीमें भारत-ऑस्ट्रेलिया। मैच की शुरुआत हुई टॉस के साथ। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान जेसन संघा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी।

तारीख थी 3 फरवरी 2018, जगह थी न्यूजीलैंड का बे ओवल मैदान और आमने-सामने थी, दो दमदार टीमें भारत-ऑस्ट्रेलिया। मैच की शुरुआत हुई टॉस के साथ। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान जेसन संघा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी।

पहली ही पारी में भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर बनाने से रोक दिया और ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम को 47.2 ओवरों में ऑल आउट कर दिया। भारत की ओर से कमलेश नागरकोटी, ईशान पोरेल, शिवा सिंह और अनुकूल रॉय ने 2-2 विकेट चटकाएं। जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत को 217 रनों का लक्ष्य ही दे पाई।

पहली ही पारी में भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर बनाने से रोक दिया और ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम को 47.2 ओवरों में ऑल आउट कर दिया। भारत की ओर से कमलेश नागरकोटी, ईशान पोरेल, शिवा सिंह और अनुकूल रॉय ने 2-2 विकेट चटकाएं। जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत को 217 रनों का लक्ष्य ही दे पाई।

जवाब में दूसरी पारी में आई भारतीय टीम के लिए आधा काम दो गेंदबाजों ने कर दिया था और बाकि का काम बल्लेबाजों ने कर दिखाया। भारत ने केवल 2 विकेट के नुकसान पर महज 38.5 ओवरों में 220 रन बनाकर अंडर19 वर्ल्ड कप 2018 अपने नाम कर लिया।

जवाब में दूसरी पारी में आई भारतीय टीम के लिए आधा काम दो गेंदबाजों ने कर दिया था और बाकि का काम बल्लेबाजों ने कर दिखाया। भारत ने केवल 2 विकेट के नुकसान पर महज 38.5 ओवरों में 220 रन बनाकर अंडर19 वर्ल्ड कप 2018 अपने नाम कर लिया।

इस पारी में मनजोत कालरा ने 101 और हार्विक देसाई 47 रनों की नाबाद पारी खेली। वहीं, टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ ने 31 और शुभमन गिल ने 29 रन बनाए थे। 

इस पारी में मनजोत कालरा ने 101 और हार्विक देसाई 47 रनों की नाबाद पारी खेली। वहीं, टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ ने 31 और शुभमन गिल ने 29 रन बनाए थे। 

बेहतरीन बल्लेबाजी के लिए मनजोत कालरा को मैन ऑफ द मैच चुना गया, जबकि पूरे टूर्नामेंट में 372 रन बनाने वाले शुभमान गिल प्लेयर ऑफ द सीरीज बनाया गया।

बेहतरीन बल्लेबाजी के लिए मनजोत कालरा को मैन ऑफ द मैच चुना गया, जबकि पूरे टूर्नामेंट में 372 रन बनाने वाले शुभमान गिल प्लेयर ऑफ द सीरीज बनाया गया।

भारत ने इस अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप में रिकार्ड चौथी बार जीत दर्ज की थी। इससे पहले भारत ने पहली बार ये खिताब मोहम्मद कैफ के नेतृत्व में 2000 में जीता था। इसके बाद 2008 में विराट कोहली और 2012 में उन्मुक्त चंद की कप्तानी में भारत अंडर19 वर्ल्ड कप जीत चुकी हैं।

भारत ने इस अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप में रिकार्ड चौथी बार जीत दर्ज की थी। इससे पहले भारत ने पहली बार ये खिताब मोहम्मद कैफ के नेतृत्व में 2000 में जीता था। इसके बाद 2008 में विराट कोहली और 2012 में उन्मुक्त चंद की कप्तानी में भारत अंडर19 वर्ल्ड कप जीत चुकी हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios