Fact Check : पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए होगा बीजेपी-ओवैसी का गठबंधन? जानें वायरल ट्वीट का सच

First Published Nov 26, 2020, 12:20 PM IST

फैक्ट चेक. BJP AIMIM Alliance: पश्चिम बंगाल (west bengal) के विधानसभा चुनाव (assembly election) में अभी भले ही वक्‍त हो, लेकिन सोशल मीडिया में इस चुनाव से जुडी फर्जी खबरें वायरल होना शुरू हो चुकी हैं। फेसबुक पर कुछ यूजर्स भाजपा के नाम से एक फेक ट्वीट को यह कहते हुए वायरल कर रहे हैं कि पश्चिम बंगाल के आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा AIMIM के साथ गठबंधन करेगी।

क्या वाकई बिहार चुनाव में चौंकाने वाले प्रदर्शन के बाद ओवैसी बंगाल में बीजेपी से हाथ मिलाने वाले हैं? सोशल मीडिया पर बीजेपी के एक कथित ट्वीट के जरिए ऐसा ही दावा किया जा रहा है।  फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि इसका सच क्या है?

<p>बिहार में ओवैसी की पार्टी ने न सिर्फ 5 सीटें जीतीं बल्कि कई सीटों पर नतीजों में उलटफेर का कारण भी बनी। कई लोगों का ये मानना है कि ओवैसी की पार्टी AIMIM की वजह से मुस्लिम वोट बंट जाते हैं जिससे बीजेपी को फायदा पहुंचता है। इस वजह से कांग्रेस के कई नेता ये आरोप लगा रहे हैं कि ओवैसी की पार्टी बीजेपी से मिली हुई है।</p>

बिहार में ओवैसी की पार्टी ने न सिर्फ 5 सीटें जीतीं बल्कि कई सीटों पर नतीजों में उलटफेर का कारण भी बनी। कई लोगों का ये मानना है कि ओवैसी की पार्टी AIMIM की वजह से मुस्लिम वोट बंट जाते हैं जिससे बीजेपी को फायदा पहुंचता है। इस वजह से कांग्रेस के कई नेता ये आरोप लगा रहे हैं कि ओवैसी की पार्टी बीजेपी से मिली हुई है।

<p><strong>वायरल पोस्ट क्या है?</strong></p>

<p>फेसबुक यूजर अनिल शर्मा ने 21 नवंबर को फेक ट्वीट को पोस्‍ट करते हुए लिखा: “जीतने के लिए किसी भी हद तक जाना पड़ेगा जरूर जाएंगे, पहले उन्हीं को लड़ाइयेगे फिर उन्हीं को आपस मे लाडवा देंगे, कोई रोजगार की तरफ ध्यान बिलकुल नहीं देगा।”</p>

<p>भाजपा के नाम से किए गए ट्वीट में लिखा गया : “We have formed alliance with AIMIM in upcoming WB elections.”</p>

<p>&nbsp;</p>

वायरल पोस्ट क्या है?

फेसबुक यूजर अनिल शर्मा ने 21 नवंबर को फेक ट्वीट को पोस्‍ट करते हुए लिखा: “जीतने के लिए किसी भी हद तक जाना पड़ेगा जरूर जाएंगे, पहले उन्हीं को लड़ाइयेगे फिर उन्हीं को आपस मे लाडवा देंगे, कोई रोजगार की तरफ ध्यान बिलकुल नहीं देगा।”

भाजपा के नाम से किए गए ट्वीट में लिखा गया : “We have formed alliance with AIMIM in upcoming WB elections.”

 

<p>सोशल मीडिया पर वायरल बीजेपी के कथित ट्वीट का एक स्क्रीनशॉट शेयर किया जा रहा है जिसमें लिखा है, “पश्चिम बंगाल में होने वाले आगामी चुनावों के लिए हमने एआईएमआईएम पार्टी के साथ गठबंधन किया है।” इस ट्वीट के साथ कैप्शन लिखा है,‘इत्तेहाद-ऐ-भारतीय जनता मुसलमीन’</p>

सोशल मीडिया पर वायरल बीजेपी के कथित ट्वीट का एक स्क्रीनशॉट शेयर किया जा रहा है जिसमें लिखा है, “पश्चिम बंगाल में होने वाले आगामी चुनावों के लिए हमने एआईएमआईएम पार्टी के साथ गठबंधन किया है।” इस ट्वीट के साथ कैप्शन लिखा है,‘इत्तेहाद-ऐ-भारतीय जनता मुसलमीन’

<p><strong>फैक्ट चेक</strong><br />
<br />
सबसे पहले वायरल हो रहे दावे की सच्‍चाई जानने के लिए गूगल में ‘ओवैसी और भाजपा का गठबंधन’ जैसे कीवर्ड टाइप करके खबरों को सर्च करना शुरू किया। हमें असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआइएमआइएम का भाजपा के साथ किसी भी प्रकार के गठबंधन से जुड़ी कोई खबर नहीं मिली, जबकि खबरों से यह जरूर पता चला कि असदुद्दीन ओवैसी ने ममता बनर्जी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की पेशकश की थी।<br />
<br />
जागरण डॉट कॉम पर 19 नवंबर को पब्लिश खबर में बताया गया कि ओवैसी ने ममता के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन की पेशकश करते हुए कहा कि उनकी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने में तृणमूल कांग्रेस की मदद करेगी। पूरी खबर यहां पढ़ सकते हैं।&nbsp;</p>

फैक्ट चेक

सबसे पहले वायरल हो रहे दावे की सच्‍चाई जानने के लिए गूगल में ‘ओवैसी और भाजपा का गठबंधन’ जैसे कीवर्ड टाइप करके खबरों को सर्च करना शुरू किया। हमें असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआइएमआइएम का भाजपा के साथ किसी भी प्रकार के गठबंधन से जुड़ी कोई खबर नहीं मिली, जबकि खबरों से यह जरूर पता चला कि असदुद्दीन ओवैसी ने ममता बनर्जी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की पेशकश की थी।

जागरण डॉट कॉम पर 19 नवंबर को पब्लिश खबर में बताया गया कि ओवैसी ने ममता के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन की पेशकश करते हुए कहा कि उनकी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने में तृणमूल कांग्रेस की मदद करेगी। पूरी खबर यहां पढ़ सकते हैं। 

<p>पड़ताल<br />
<br />
वायरल ट्वीट के बीजेपी हैंडल की पड़ताल में हमने भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल BJP4India को स्‍कैन करना शुरू किया। हमें भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ऐसा कोई ट्वीट नहीं मिला, जिसमें आगामी बंगाल चुनावों में ओवैसी की पार्टी के साथ गठबंधन की बात कही गई हो। 20 नवंबर को ही हमें भाजपा के ट्विटर हैंडल पर वह ट्वीट जरूर मिला, जिसमें भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नडडा ओवेसी की पार्टी को समाज तोड़ने वाला बता रहे हैं।<br />
<br />
हमने वायरल ट्वीट को बारीकी से देखा और बीजेपी के असली ट्वीट्स से उसकी तुलना की। हमने पाया कि वायरल ट्वीट में भारतीय जनता पार्टी का ट्विटर हैंडल ‘@bjp4india’ लिखा है। वहीं भाजपा का आधिकारिक ट्विटर हैंडल ‘@BJP4India’ है। यानी अगर ये ट्वीट बीजेपी के असली ट्विटर हैंडल से किया गया होता, तो इसमें b, j और p अक्षर कैपिटल लेटर में लिखे होते।</p>

पड़ताल

वायरल ट्वीट के बीजेपी हैंडल की पड़ताल में हमने भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल BJP4India को स्‍कैन करना शुरू किया। हमें भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ऐसा कोई ट्वीट नहीं मिला, जिसमें आगामी बंगाल चुनावों में ओवैसी की पार्टी के साथ गठबंधन की बात कही गई हो। 20 नवंबर को ही हमें भाजपा के ट्विटर हैंडल पर वह ट्वीट जरूर मिला, जिसमें भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नडडा ओवेसी की पार्टी को समाज तोड़ने वाला बता रहे हैं।

हमने वायरल ट्वीट को बारीकी से देखा और बीजेपी के असली ट्वीट्स से उसकी तुलना की। हमने पाया कि वायरल ट्वीट में भारतीय जनता पार्टी का ट्विटर हैंडल ‘@bjp4india’ लिखा है। वहीं भाजपा का आधिकारिक ट्विटर हैंडल ‘@BJP4India’ है। यानी अगर ये ट्वीट बीजेपी के असली ट्विटर हैंडल से किया गया होता, तो इसमें b, j और p अक्षर कैपिटल लेटर में लिखे होते।

<p><strong>ये निकला नतीजा</strong><br />
<br />
पड़ताल में भाजपा के नाम से वायरल ट्वीट फर्जी निकला। भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस तरह का कोई ट्वीट नहीं किया गया।</p>

ये निकला नतीजा

पड़ताल में भाजपा के नाम से वायरल ट्वीट फर्जी निकला। भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस तरह का कोई ट्वीट नहीं किया गया।

Today's Poll

आप कितने खिलाड़ियों के साथ ऑनलाइन गेम खेलना पसंद करते हैं?