Asianet News Hindi

अब दूध पीने से नहीं होगी एसिडिटी की शिकायत, बस डाइट में इस तरह करें शामिल

First Published Mar 13, 2021, 2:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फूड डेस्क : बच्चे से लेकर बड़े तक को दूध पीने की सलह दी जाती है। ये हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। लेकिन कई बार दूध पीने से लोगों को एसिडिटी की शिकायत हो जाती है। एसिडिटी (Gastric acid) की समस्या होने पर पेट में जलन, छाती में दर्द और सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। एसिडिटी होने पर कई लोग दूध पीना भी छोड़ देते है, जबकि उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। फिर लोगों का सवाल होगा कि एसिडिसी से कैसे निपटा जाएं? तो चलिए आज हम आपको बताते है दूध को आसानी से पचाने के कुछ टिप्स, जिससे ना आपको एसिडिटी होगी, ना ही पेट की अन्य समस्या।

दूध में लेक्टोज तत्व (lactose) की भरपूर मात्रा पाई जाती है जिसके कारण इसे पचने में समय लगता है। कई बार इसका सेवन करने से पेट दर्द, अपच और एसिडिटी की समस्या भी हो जाती है।

दूध में लेक्टोज तत्व (lactose) की भरपूर मात्रा पाई जाती है जिसके कारण इसे पचने में समय लगता है। कई बार इसका सेवन करने से पेट दर्द, अपच और एसिडिटी की समस्या भी हो जाती है।

कुछ फूड और ड्रिंक अगर खाली पेट लिए जाएं तो सेहत को नुकसान हो सकता है। इन्हें खाने से शरीर में एसिड का लेवल बढ़ता है। इन्हीं ड्रिंक्स में से एक है दूध। दूध में मौजूद सैचुरेटेड फैट (Saturated fat) और प्रोटीन (Protein) पेट की मसल्स को कमजोर कर सकते है, इसलिए इसे खाली पेट कभी नहीं पीना चाहिए।

कुछ फूड और ड्रिंक अगर खाली पेट लिए जाएं तो सेहत को नुकसान हो सकता है। इन्हें खाने से शरीर में एसिड का लेवल बढ़ता है। इन्हीं ड्रिंक्स में से एक है दूध। दूध में मौजूद सैचुरेटेड फैट (Saturated fat) और प्रोटीन (Protein) पेट की मसल्स को कमजोर कर सकते है, इसलिए इसे खाली पेट कभी नहीं पीना चाहिए।

अक्सर लोग दूध का पैकेट खोलकर डायरेक्ट पी लेते हैं। ऐसा करना बिलकुल गलत है। हमें कभी भी कच्चा दूध बिल्कुल नहीं पीना चाहिए। यह पेट के लिए सही नहीं होता है।
 

अक्सर लोग दूध का पैकेट खोलकर डायरेक्ट पी लेते हैं। ऐसा करना बिलकुल गलत है। हमें कभी भी कच्चा दूध बिल्कुल नहीं पीना चाहिए। यह पेट के लिए सही नहीं होता है।
 

कहा जाता है कि लोगों को रात के समय गर्म दूध पीकर सोना चाहिए, लेकिन जिन्हें गैस्ट्रिक समस्या होती है उन्हें ठंडा दूध ही पीना चाहिए। इससे दूध आसानी से हजम होता है और पेट में जलन से भी राहत मिलती है।

कहा जाता है कि लोगों को रात के समय गर्म दूध पीकर सोना चाहिए, लेकिन जिन्हें गैस्ट्रिक समस्या होती है उन्हें ठंडा दूध ही पीना चाहिए। इससे दूध आसानी से हजम होता है और पेट में जलन से भी राहत मिलती है।

दूध और हल्दी का कॉम्बिनेशन सदियों से चला आ रहा है। बड़े- बुजुर्ग हल्दी वाला दूध पीने की सलह देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि हल्दी डालकर दूध पीने से यह जल्दी हजम होता है।
 

दूध और हल्दी का कॉम्बिनेशन सदियों से चला आ रहा है। बड़े- बुजुर्ग हल्दी वाला दूध पीने की सलह देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि हल्दी डालकर दूध पीने से यह जल्दी हजम होता है।
 

दूध में जरा सा अदरक कद्दूकस कर डालकर पीने से यह कफ नहीं बनाता है। साथ ही अदरक, लौंग, इलायची और केसर डालकर पीने से पेट फूलने की समस्या से आराम मिलता है।

दूध में जरा सा अदरक कद्दूकस कर डालकर पीने से यह कफ नहीं बनाता है। साथ ही अदरक, लौंग, इलायची और केसर डालकर पीने से पेट फूलने की समस्या से आराम मिलता है।

पेट की एसिटिडी को कम करने के लिए दो चम्मच इसबगोल को ठंडे दूध में मिलाकर खाने के बाद पीने से एसिडिटी नहीं होती है।

पेट की एसिटिडी को कम करने के लिए दो चम्मच इसबगोल को ठंडे दूध में मिलाकर खाने के बाद पीने से एसिडिटी नहीं होती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को एसिडिटी की ज्यादा दिक्कत होती है। ऐसे में उन्हें गर्म दूध की जगह ठंडा दूध ही पीना चाहिए। दूध पीने के तुरंत बाद लेटे नहीं, थोड़ा वॉक जरूर करें।

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को एसिडिटी की ज्यादा दिक्कत होती है। ऐसे में उन्हें गर्म दूध की जगह ठंडा दूध ही पीना चाहिए। दूध पीने के तुरंत बाद लेटे नहीं, थोड़ा वॉक जरूर करें।

कई बार बच्चों को दूध पीने के बाद तुरंत उल्टी हो जाती है। ऐसे में बच्चों के दूध में इलायची पाउडर मिलाकर पिलाने से उल्टी नहीं होती है। याद रखें कि बच्चों को एक साथ पूरा दूध नहीं पिलाना चाहिए, उन्हें धीरे-धीरे दूध देना चाहिए। साथ ही छोटे बच्चों को दूध पिलाने के बाद डकार जरूर दिलवाएं।

कई बार बच्चों को दूध पीने के बाद तुरंत उल्टी हो जाती है। ऐसे में बच्चों के दूध में इलायची पाउडर मिलाकर पिलाने से उल्टी नहीं होती है। याद रखें कि बच्चों को एक साथ पूरा दूध नहीं पिलाना चाहिए, उन्हें धीरे-धीरे दूध देना चाहिए। साथ ही छोटे बच्चों को दूध पिलाने के बाद डकार जरूर दिलवाएं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios