Asianet News Hindi

1 दिन में भूल से भी ना पीएं इससे ज्यादा पानी, फायदे की जगह बॉडी में होने लगेगी कई परेशानियां

First Published Nov 30, 2020, 8:50 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लाइफस्टाइल डेस्क : पानी हमारे शरीर के लिए कितना जरुरी है, ये तो हम सब जानते हैं। अक्सर हमने लोगों को कहते सुना है कि दिन में 8-10 ग्लास या उससे ज्यादा पानी पीना चाहिए। लेकिन अगर हम ये कहे की जरुरत से ज्यादा पानी भी आपको नुकसान पहुंचा सकता है, तो आपको यकीन करना मुश्किल होगा, पर ये सच है कि  गलत समय पर गलत तरीके से पीया गया पानी शरीर को सिर्फ और सिर्फ नुकसान ही पहुंचाता है। तो चलिए जानते हैं हमें एक दिन में कितना पानी पीना चाहिए और किस समय। 

कहते है रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून। जी हां पानी के बिना सब कुछ अधूरा ही होता है। हमारा 70 प्रतिशत शरीर भी पानी से ही बना है, इसलिए बॉडी से टॉक्सिन्स निकालने के लिए पानी पीया जाता है। लेकिन एक दिन में कितना पानी पीएं ये सवाल सालों से बरकरार है।

कहते है रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून। जी हां पानी के बिना सब कुछ अधूरा ही होता है। हमारा 70 प्रतिशत शरीर भी पानी से ही बना है, इसलिए बॉडी से टॉक्सिन्स निकालने के लिए पानी पीया जाता है। लेकिन एक दिन में कितना पानी पीएं ये सवाल सालों से बरकरार है।

पानी पीने का एक सही तरीका और समय होता है। अगर हम इस हिसाब से पानी नहीं पीएंगे, तो ये अमृत हमारे लिए जहर का भी काम कर सकता है।

पानी पीने का एक सही तरीका और समय होता है। अगर हम इस हिसाब से पानी नहीं पीएंगे, तो ये अमृत हमारे लिए जहर का भी काम कर सकता है।

आपको बता दें कि पानी हमारे शरीर की रक्तधाराओं के माध्यम से किडनियों में पहुंचता है। हालांकि उसकी भी एक सीमा होती है। इसलिए 1 घंटे में हमें सिर्फ 800 से 1000 मिली लीटर पानी पीना चाहिए।

आपको बता दें कि पानी हमारे शरीर की रक्तधाराओं के माध्यम से किडनियों में पहुंचता है। हालांकि उसकी भी एक सीमा होती है। इसलिए 1 घंटे में हमें सिर्फ 800 से 1000 मिली लीटर पानी पीना चाहिए।

सुबह उठकर खाली पेट पानी पीना कई लोगों को परेशान करता है। लेकिन बता दें कि सुबह सबसे पहले अगर आप 2 गिलास पानी पीते है, तो आपको पेट संबंधी परेशानियां जैसे कब्ज या अपच आदि समस्याएं नहीं होती और पेट भी ठीक तरह से साफ होता है। आप तांबे में रखा पानी पी सकते है या गर्म पानी पीएं या फिर पानी में नींबू व शहद मिलाकर भी पी सकते है।

सुबह उठकर खाली पेट पानी पीना कई लोगों को परेशान करता है। लेकिन बता दें कि सुबह सबसे पहले अगर आप 2 गिलास पानी पीते है, तो आपको पेट संबंधी परेशानियां जैसे कब्ज या अपच आदि समस्याएं नहीं होती और पेट भी ठीक तरह से साफ होता है। आप तांबे में रखा पानी पी सकते है या गर्म पानी पीएं या फिर पानी में नींबू व शहद मिलाकर भी पी सकते है।

अक्सर हमने देखा है कि लोगों खाने के साथ एक बोतल पानी रखते है और खाते समय पूरा पानी पी लेते है। ऐसे करना बिलकुल गलत है। कभी भी खाने के साथ पानी नहीं पीना चाहिए। इससे खाने को पाचन की प्रक्रिया स्लो हो जाती है। अगर आपको पानी पीने की जरूरत महसूस हो रही हैं तो महज एक या दो घूंट ही पानी पीएं। साथ ही कोशिश करें कि आप गुनगुना पानी पीएं। 

अक्सर हमने देखा है कि लोगों खाने के साथ एक बोतल पानी रखते है और खाते समय पूरा पानी पी लेते है। ऐसे करना बिलकुल गलत है। कभी भी खाने के साथ पानी नहीं पीना चाहिए। इससे खाने को पाचन की प्रक्रिया स्लो हो जाती है। अगर आपको पानी पीने की जरूरत महसूस हो रही हैं तो महज एक या दो घूंट ही पानी पीएं। साथ ही कोशिश करें कि आप गुनगुना पानी पीएं। 

खड़े होकर पानी पीने से भी सेहत को नुकसान होता है। ऐसा करने से इंसान के जोड़ों में दर्द की शिकायत होती है। इसलिए हमेशा बैठकर व आराम से ही पानी पीना चाहिए। 

खड़े होकर पानी पीने से भी सेहत को नुकसान होता है। ऐसा करने से इंसान के जोड़ों में दर्द की शिकायत होती है। इसलिए हमेशा बैठकर व आराम से ही पानी पीना चाहिए। 

कभी भी एक साथ खूब सारा पानी नहीं पीना चाहिए, इसके बजाय घूंट−घूंटकर पानी पीना अच्छा होता है। इकठ्ठा पानी पीने से आपको भारीपन, दुविधा या उींदापन महसूस हो सकता है। 

कभी भी एक साथ खूब सारा पानी नहीं पीना चाहिए, इसके बजाय घूंट−घूंटकर पानी पीना अच्छा होता है। इकठ्ठा पानी पीने से आपको भारीपन, दुविधा या उींदापन महसूस हो सकता है। 

हर समय पानी पीने से शरीर में सोडियम की कमी हो जाती है। सोडियम की कमी होने से दिमाग और फेफड़ों में सूजन आ जाती है।

हर समय पानी पीने से शरीर में सोडियम की कमी हो जाती है। सोडियम की कमी होने से दिमाग और फेफड़ों में सूजन आ जाती है।

अब सवाल उठता है कि एक दिन में कितना पानी पीएं? तो आपको बता दें कि हर इंसान की पानी की जरूरत अलग-अलग होती है। इसलिए रोज 8-10  गिलास पानी पीने का फॉर्मूला सब पर लागू नहीं होता। हमें जब जरूरत महसूस हो तब पानी पीना चाहिए। डॉक्टर्स कहते हैं कि हमें पानी की उतनी ही जरूरत है, जितना शरीर मांगे।

अब सवाल उठता है कि एक दिन में कितना पानी पीएं? तो आपको बता दें कि हर इंसान की पानी की जरूरत अलग-अलग होती है। इसलिए रोज 8-10  गिलास पानी पीने का फॉर्मूला सब पर लागू नहीं होता। हमें जब जरूरत महसूस हो तब पानी पीना चाहिए। डॉक्टर्स कहते हैं कि हमें पानी की उतनी ही जरूरत है, जितना शरीर मांगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios