दिल्ली के इस दुकान में मिलता है 29 हजार रु तक का बर्गर, अंदर डालते हैं शुद्ध-शाकाहारी मछली का मीट

First Published 28, Sep 2020, 11:11 AM

फ़ूड डेस्क: भारत में स्ट्रीट फ़ूड काफी मशहूर है। अगर आपको कम पैसों में पेटभर खाना हो, वो भी टेस्ट में बेहतरीन खाना, तो आप भारत की सड़कों का रुख कर सकते हैं। भारत के स्ट्रीट फूड्स अपनी कम कीमत के कारण मशहूर हैं। यहां आपको चाइनीज से लेकर इटालियन खाना तक सड़कों पर मिल जाएगा। चाउमीन से लेकर बर्गर तक आपको सड़क किनारे लगे फ़ूड स्टाल्स में मिल जाएंगे। बात अगर बर्गर्स की करें, तो भारत में आपको 20 से 50 तक के रेंज के बर्गर आसानी से कहीं भी भी मिल जाएंगे। लेकिन आज हम आपको जिस शॉप के बारे में बताने जा रहे हैं, वहां आपको एक बर्गर खाने के लिए 29 हजार रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं। जी हां, दिल्ली के गीता कॉलोनी में मौजूद वीर जी बर्गर में 35 से 40 तरह के बर्गर मिलते हैं। यहां के मशहूर सलामी बर्गर की कीमत जहां 13 हजार है, वहीं एक ख़ास बर्गर की कीमत 16 हजार है। ये बर्गर वेज मछली से बनाई जाती है। जी हां, मछली जो शाकाहारी है।  आइये आपको दिखाते हैं दुकान में कैसे तैयार की जाती है बेशकीमती बर्गर...  

<p>दुकान के मशहूर सलामी बर्गर की कीमत 13 हजार रुपए है। इसके लिए सबसे पहले ये पैक्ड सलामी को अपने ख़ास मैदे में मिलाए सीक्रेट मसालों के बैटर में डूबाते हैं।&nbsp;</p>

दुकान के मशहूर सलामी बर्गर की कीमत 13 हजार रुपए है। इसके लिए सबसे पहले ये पैक्ड सलामी को अपने ख़ास मैदे में मिलाए सीक्रेट मसालों के बैटर में डूबाते हैं। 

<p>इसके बाद सलामी को कॉर्नफ्लार में लपेटा जाता है। इससे टिक्की में क्रंच एड हो जाता है।&nbsp;</p>

इसके बाद सलामी को कॉर्नफ्लार में लपेटा जाता है। इससे टिक्की में क्रंच एड हो जाता है। 

<p>फिर टिक्की को गर्म तेल में फ्राई किया जाता है। इसे गोल्डन होने तक फ्राई किया जाता है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

फिर टिक्की को गर्म तेल में फ्राई किया जाता है। इसे गोल्डन होने तक फ्राई किया जाता है। 
 

<p>ठीक इसी तरह से ये यूज करते हैं गोल्डन वेज फिश। जी हां, यहां शाकाहारी मछली का बर्गर भी मिलता है। &nbsp;</p>

ठीक इसी तरह से ये यूज करते हैं गोल्डन वेज फिश। जी हां, यहां शाकाहारी मछली का बर्गर भी मिलता है।  

<p>ये मछली सब्जियों से बनाई जाती है। इसलिए इसे वेज मछली कहा जाता है।&nbsp;</p>

ये मछली सब्जियों से बनाई जाती है। इसलिए इसे वेज मछली कहा जाता है। 

<p>इस मछली को भी ये स्पेशल बैटर में डुबाकर डीप फ्राई करते हैं।&nbsp;</p>

इस मछली को भी ये स्पेशल बैटर में डुबाकर डीप फ्राई करते हैं। 

<p>इसके बाद दो स्पेशल पाव के बीच तंदूरी सॉस, प्याज, टमाटर, मेयोनीज मिलकर सलामी टिक्का रखा जाता है। &nbsp;</p>

इसके बाद दो स्पेशल पाव के बीच तंदूरी सॉस, प्याज, टमाटर, मेयोनीज मिलकर सलामी टिक्का रखा जाता है।  

<p>इसी तरह वेज मछली का बर्गर भी तैयार किया जाता है। इसमें चीज की मात्रा भी ज्यादा रखी जाती है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

इसी तरह वेज मछली का बर्गर भी तैयार किया जाता है। इसमें चीज की मात्रा भी ज्यादा रखी जाती है। 
 

<p>इन बर्गर्स की यहां काफी डिमांड है। लोग इतने महंगे बर्गर्स को सिर्फ टेस्ट के कारण ही खाने के लिए भीड़ लगाते हैं।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

इन बर्गर्स की यहां काफी डिमांड है। लोग इतने महंगे बर्गर्स को सिर्फ टेस्ट के कारण ही खाने के लिए भीड़ लगाते हैं। 
 

<p>शाम होते ही इस शॉप में कस्टमर्स की भीड़ लगने लगती है। अब इस शॉप की चर्चा दिल्ली के बाहर भी होने लगी है। ये शॉप दिल्ली के गीता कॉलोनी में है, जिसके बारे में कॉलोनी के हर शख्स को जानकारी &nbsp;है। अपने ख़ास मेन्यू और फिर उसके दाम के कारण ही ये स्पेशल है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

शाम होते ही इस शॉप में कस्टमर्स की भीड़ लगने लगती है। अब इस शॉप की चर्चा दिल्ली के बाहर भी होने लगी है। ये शॉप दिल्ली के गीता कॉलोनी में है, जिसके बारे में कॉलोनी के हर शख्स को जानकारी  है। अपने ख़ास मेन्यू और फिर उसके दाम के कारण ही ये स्पेशल है। 
 

loader