Asianet News Hindi

भाभी दूर खड़ी हाथ जोड़ती रही, पुलिसवालों ने देवर को डंडे से मारते हुए कराई मेंढक चाल

First Published Apr 3, 2020, 11:34 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करनाल, हरियाणा. कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई में डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मचारियों के साथ ही पुलिस पूरी शिद्दत से अपनी ड्यूटी निभा रही है। लेकिन कुछ लोगों की वजह से पूरे डिपार्टमेंट की किरकिरी हो जाती है। यह तस्वीर इसी का उदाहरण है। आपातकालीन परिस्थितियों में प्रशासन ने भी लोगों को घर से बाहर निकलने की छूट दे रखी है। खासकर किसी की बीमारी का इलाज कराने कोई भी बाजिव तर्क देकर हॉस्पिटल या मेडिकल स्टोर जा सकता है। लेकिन इन दो पुलिसवालों ने वर्दी का मान न रखते हुए एक युवक के साथ दबंगई दिखा दी। वो अपनी भाभी को किसी डॉक्टर के पास ले जा रहा था। भाभी बीमार थी। लेकिन इन दो पुलिसवालों ने उसकी बात नहीं सुनी और डंडे मारते हुए उसे मेंढक चाल चलवाई। हालांकि, जब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, तो दोनों को लाइन हाजिर कर दिया गया।

करनाल एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया ने बताया कि युवक को निसिंग पुलिस के नाके पर दो पुलिसवालों ने रोक लिया था। उन्होंने युवक की इमरजेंसी को नहीं समझा। लिहाजा वीडियो में दिखाई दिए एएसआई राजबीर सिंह और ईश्वर सिंह को लाइन हाजिर कर दिया गया है। बताते हैं कि इस घटना का वीडियो कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर वायरल करते लिखा था कि किसी की मजबूरी समझना चाहिए।(आगे देखें लॉक डाउन के दौरान की कुछ तस्वीरें)

करनाल एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया ने बताया कि युवक को निसिंग पुलिस के नाके पर दो पुलिसवालों ने रोक लिया था। उन्होंने युवक की इमरजेंसी को नहीं समझा। लिहाजा वीडियो में दिखाई दिए एएसआई राजबीर सिंह और ईश्वर सिंह को लाइन हाजिर कर दिया गया है। बताते हैं कि इस घटना का वीडियो कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर वायरल करते लिखा था कि किसी की मजबूरी समझना चाहिए।(आगे देखें लॉक डाउन के दौरान की कुछ तस्वीरें)

हालांकि कई मामलों में पुलिस की यह कार्रवाई बाजिव है। ये लोग बेवजह घरों से निकले थे।

हालांकि कई मामलों में पुलिस की यह कार्रवाई बाजिव है। ये लोग बेवजह घरों से निकले थे।

कुछ लोग पकड़े जाने पर झूठे बहाने बनाने लगते हैं। जब झूठ सामने आता है, तो हाथ जोड़ने लगते हैं।

कुछ लोग पकड़े जाने पर झूठे बहाने बनाने लगते हैं। जब झूठ सामने आता है, तो हाथ जोड़ने लगते हैं।

ये लोग सिर्फ लॉक डाउन को देखने बाहर निकले थे।

ये लोग सिर्फ लॉक डाउन को देखने बाहर निकले थे।

फिजूल घर से निकले इस शख्स को पुलिस ने रोका, तो वो दबंगई दिखाने लगा।

फिजूल घर से निकले इस शख्स को पुलिस ने रोका, तो वो दबंगई दिखाने लगा।

लॉक डाउन के दौरान पुलिस गरीबों और भूखों की मदद भी कर रही है।

लॉक डाउन के दौरान पुलिस गरीबों और भूखों की मदद भी कर रही है।

लॉक डाउन के दौरान पुलिस को काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा रहा है। खुद को भी संक्रमण से बचाना एक चुनौती है।

लॉक डाउन के दौरान पुलिस को काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा रहा है। खुद को भी संक्रमण से बचाना एक चुनौती है।

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकना है, तो लॉक डाउन का पालन करना ही होगा।

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकना है, तो लॉक डाउन का पालन करना ही होगा।

लॉक डाउन का पालन कराने पुलिस लगातार लोगों को समझाइश दे रही है।

लॉक डाउन का पालन कराने पुलिस लगातार लोगों को समझाइश दे रही है।

लॉक डाउन के दौरान जरूरी चीजों के लिए प्रशासन ने छूट दे रखी है।

लॉक डाउन के दौरान जरूरी चीजों के लिए प्रशासन ने छूट दे रखी है।

पुलिस लगातार गश्त कर रही है, ताकि लोग लॉक डाउन का पालन करें।

पुलिस लगातार गश्त कर रही है, ताकि लोग लॉक डाउन का पालन करें।

पुलिस के लिए लॉक डाउन का पालन कराना आसान नहीं है।

पुलिस के लिए लॉक डाउन का पालन कराना आसान नहीं है।

ऐसी कई तस्वीरें सामने आई थीं, जिसमें लोग टैंकरों में छुपकर निकले थे। लिहाजा, पुलिस को चौकसी बरतनी पड़ रही है।

ऐसी कई तस्वीरें सामने आई थीं, जिसमें लोग टैंकरों में छुपकर निकले थे। लिहाजा, पुलिस को चौकसी बरतनी पड़ रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios