Asianet News Hindi

ऑटो चालक के बेटे ने तोड़ा आईपीएल का ये रिकार्ड, फ्री में गरीब बच्चों को भी देते हैं ट्रेनिंग

First Published Oct 22, 2020, 11:21 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क : दुबई में आईपीएल 2020 (IPL2020) के मैच खेले जा रहे हैं। बुधवार के मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) ने कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को 8 विकेट से हरा दिया। इस मैच में  मोहम्‍मद सिराज (Mohammed Siraj) की घातक गेंदबाजी के आगे कोलकाता नाइट राइडर्स सिर्फ 84 रन ही बना पाई। मो. सिराज की गेंदबाजी इस मुकाबले मे देखने लायक थी। वो आईपीएल के इतिहास में पहले ऐसे गेंदबाज बने जिन्होंने किसी मैच में लगातार दो ओवर मेडन फेंके। लेकिन क्या आप जानते है सिराज का बचपन बहुत गरीबी में बीता है, उनके पिता ऑटो चालते थे। पिता नें अपने आर्थिक हालात को सिराज के क्रिकेट करियर में रोड़ा नहीं बनने दिया। आइए आज आपको बताते है, इस यंग और सुपर टैलेंटेड गली बॉय की कहानी।

आईपीएल 2020 के 13वें सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु उम्मीद से कहीं ज्यादा अच्छा प्रदर्शन कर रही है। आरसीबी एक के बाद एक मैच जीतती जा रही है। इसी जीत के चलते प्वाइंट्स टेबल में वह 14 अंक के साथ दूसरे नंबर पर पहुंच गई है।

आईपीएल 2020 के 13वें सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु उम्मीद से कहीं ज्यादा अच्छा प्रदर्शन कर रही है। आरसीबी एक के बाद एक मैच जीतती जा रही है। इसी जीत के चलते प्वाइंट्स टेबल में वह 14 अंक के साथ दूसरे नंबर पर पहुंच गई है।

बुधवार को अबु धाबी में हुए आरसीबी और केकेआर के मैच में बैंगलुरु ने शानदार जीत दर्ज की है। मोहम्‍मद सिराज की घातक गेंदबाजी के आगे कोलकाता नाइट राइडर्स सिर्फ 84 रन ही बना पाई।

बुधवार को अबु धाबी में हुए आरसीबी और केकेआर के मैच में बैंगलुरु ने शानदार जीत दर्ज की है। मोहम्‍मद सिराज की घातक गेंदबाजी के आगे कोलकाता नाइट राइडर्स सिर्फ 84 रन ही बना पाई।

आरसीबी के यंग और सुपर टैलेंटेड प्लेयर मोहम्मज सिराज ने 4 ओवर में 8 रन देकर 3 विकेट लिए। इनमें उन्होंने 2 ओवर मेडन भी फेंके और इसके साथ ही वो आइपीएल के इतिहास में पहले ऐसे गेंदबाज बने जिन्होंने किसी मैच में लगातार दो ओवर मेडन फेंके।

आरसीबी के यंग और सुपर टैलेंटेड प्लेयर मोहम्मज सिराज ने 4 ओवर में 8 रन देकर 3 विकेट लिए। इनमें उन्होंने 2 ओवर मेडन भी फेंके और इसके साथ ही वो आइपीएल के इतिहास में पहले ऐसे गेंदबाज बने जिन्होंने किसी मैच में लगातार दो ओवर मेडन फेंके।

सिराज से पहले किसी भी गेंदबाज ने किसी मैच में लगातार दो मेडन ओवर नहीं फेंके थे। सिराज ने अपने स्पेल का पहला और दूसरा ओवर ऐसा फेंका की बल्लेबाज एक भी रन नहीं बना पाएं।

सिराज से पहले किसी भी गेंदबाज ने किसी मैच में लगातार दो मेडन ओवर नहीं फेंके थे। सिराज ने अपने स्पेल का पहला और दूसरा ओवर ऐसा फेंका की बल्लेबाज एक भी रन नहीं बना पाएं।

साल 2017 में मोहम्मद सिराज का टीम इंडिया में चयन किया गया था। हैदराबाद के गली बॉय के लिए यह किसी सपने के पूरे होने जैसा है। इसके बाद उन्हें आईपीएल के दसवें सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद ने  2.6 करोड़ में खरीदा था। इस दौरान सिराज ने हैदराबाद के लिए शानदार प्रदर्शन किया।

साल 2017 में मोहम्मद सिराज का टीम इंडिया में चयन किया गया था। हैदराबाद के गली बॉय के लिए यह किसी सपने के पूरे होने जैसा है। इसके बाद उन्हें आईपीएल के दसवें सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद ने  2.6 करोड़ में खरीदा था। इस दौरान सिराज ने हैदराबाद के लिए शानदार प्रदर्शन किया।

सिराज के क्रिकेटर बनने का सपना इतनी आसानी से पूरा नहीं हुआ। गरीबी के साएं में पले-बढ़े इस बॉलर को कई दिक्कतों को सामना करना पड़ा। लेकिन उनके पिता ने पाई-पाई जोड़कर बेटे का सपना पूरा किया।

सिराज के क्रिकेटर बनने का सपना इतनी आसानी से पूरा नहीं हुआ। गरीबी के साएं में पले-बढ़े इस बॉलर को कई दिक्कतों को सामना करना पड़ा। लेकिन उनके पिता ने पाई-पाई जोड़कर बेटे का सपना पूरा किया।

बता दें कि सिराज के पिता मोहम्मद गौस एक ऑटो चालक थे। लेकिन पिता ने कभी आर्थिक तंगी को बेटे के क्रिकेटर बनने के सपने के आड़े नहीं आने दिया और तमाम दिक्कतों के बावजूद उन्होंने ऑटो चलाकर बेटे के लिए क्रिकेट की महंगी किट का इंतजाम किया। 

बता दें कि सिराज के पिता मोहम्मद गौस एक ऑटो चालक थे। लेकिन पिता ने कभी आर्थिक तंगी को बेटे के क्रिकेटर बनने के सपने के आड़े नहीं आने दिया और तमाम दिक्कतों के बावजूद उन्होंने ऑटो चलाकर बेटे के लिए क्रिकेट की महंगी किट का इंतजाम किया। 

सिराज सिर्फ एक शानदार बॉलर ही नहीं बल्कि बेहद नेकदिल इंसान भी है। वह अपने घर के आसपास जरूरतमंद बच्चों को फ्री में क्रिकेट कोचिंग देते हैं। उनका कहना है कि पैसा कभी भी टैलेंट के आगे रोड़ा नहीं बनना चाहिए। 
 

सिराज सिर्फ एक शानदार बॉलर ही नहीं बल्कि बेहद नेकदिल इंसान भी है। वह अपने घर के आसपास जरूरतमंद बच्चों को फ्री में क्रिकेट कोचिंग देते हैं। उनका कहना है कि पैसा कभी भी टैलेंट के आगे रोड़ा नहीं बनना चाहिए। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios