Asianet News Hindi

बहन की शादी होते ही भाई की मौत, पिता ने बेटी को विदा करने के बाद इकलौते बेटे की उठाई अर्थी

First Published Feb 28, 2020, 1:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इंदौर. सोचो अगर शादी वाले दिन किसी के घर में मातम पसर जाए तो उस परिवार का क्या हाल होगा । ऐसी ही एक घटना इंदौर के एक कश्यप परिवार में घटी। जहां सुबह उन्होंने बेटी को दुल्हन बनाकर विदा किया और शाम को इकलौते बेटे की मौत हो गई। दरअसल, श्याम नगर एनएक्स में रहने वाले आशाराम कश्यप की बुधवार को बेटी की शादी थी और शाम को उनके बेटे आयुष की मौत हो गई।

आयुष कश्यप बहन की शादी वाले दिन शाम को बड़ी बहन प्रियंका को छोड़ने एयरपोर्ट जा रहा था। इस दौरन उसकी बाइक डिवाइडर से टकरा गई। जिसमें उसकी मौत हो गई और बहन गंभीर रूप से घायल हो गई।

आयुष कश्यप बहन की शादी वाले दिन शाम को बड़ी बहन प्रियंका को छोड़ने एयरपोर्ट जा रहा था। इस दौरन उसकी बाइक डिवाइडर से टकरा गई। जिसमें उसकी मौत हो गई और बहन गंभीर रूप से घायल हो गई।

बेटे की मौत के बाद पिता आशाराम और पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता एक ही बात कह रहे हैं कि मैं कितना अभागा हूं। देखो सुबह बेटी को विदा किया, दूसरे दिन बेटे की चिता जलाई।

बेटे की मौत के बाद पिता आशाराम और पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता एक ही बात कह रहे हैं कि मैं कितना अभागा हूं। देखो सुबह बेटी को विदा किया, दूसरे दिन बेटे की चिता जलाई।

20 वर्षीय आयुष कश्यप इकलौता बेटा था। वह एक निजी कॉलेज से इंजीनियरिंग डिप्लोमा कर रहा था। पुलिस ने बताया, हादसे में घायल प्रियंका के होश आने के बाद ही पता चलेगा कि आयुष की मौत कैसे हुई।

20 वर्षीय आयुष कश्यप इकलौता बेटा था। वह एक निजी कॉलेज से इंजीनियरिंग डिप्लोमा कर रहा था। पुलिस ने बताया, हादसे में घायल प्रियंका के होश आने के बाद ही पता चलेगा कि आयुष की मौत कैसे हुई।

परिजन के अनुसार- आयुष तीन बहनों अर्चना, दीपिका और प्रियंका का इकलौता भाई था। अर्चना की शादी हो चुकी है। पिता आशाराम कश्यप एक कंपनी में मैकेनिक हैं।

परिजन के अनुसार- आयुष तीन बहनों अर्चना, दीपिका और प्रियंका का इकलौता भाई था। अर्चना की शादी हो चुकी है। पिता आशाराम कश्यप एक कंपनी में मैकेनिक हैं।

आयुष की घायल बहन अहमदाबाद के एक बैंक में अफसर थी। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

आयुष की घायल बहन अहमदाबाद के एक बैंक में अफसर थी। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios