Asianet News Hindi

यूपी के मुरादाबाद में कोरोना वैक्सीनेशन के बाद वार्ड बॉय की मौत, CMO ने दी सफाई-हार्ट अटैक आया था

First Published Jan 18, 2021, 1:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुरादाबाद, यूपी. यूपी के मुरादाबाद में कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद एक बार्ड बॉय की मौत हो गई। 48 वर्षीय शख्स जिला अस्पताल में तैनात था। वैक्सीन लगने के बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई थी। हालांकि सीएमओ ने मौत की वजह हार्ट अटैक बताई है। CMO ने कहा कि मौत की वजह वैक्सीन नहीं है। मृतक महिपाल सिंह जिला अस्पताल में वार्ड बॉय था। रविवार शाम उसकी मौत हो गई। उसे 24 घंटे पहले ही वैक्सीन लगाया गया था। महिपाल को वैक्सीन लगने के बाद रविवार शाम सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ हुई थी। उधर, मुरादाबाद के चीफ मेडिकल आफिसर(CMO) एमसी गर्ग ने स्पष्ट किया कि महिपाल की मौत का वैक्सीनेशन से कोई संबंध नहीं है। उसे शनिवार दोपहर वैक्सीन लगाई गई थी। शनिवार रात उसने नाइट ड्यूटी भी की थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह हार्ट संबंधी बीमारी बताई गई है। आगे पढ़ें..मृतक के बेटे ने क्या कहा?

मृतक महिपाल के बेटे विशाल ने बताया कि पिता को पहले से कोई दिक्कत रही होगी। लेकिन वैक्सीन के बाद तबीयत बिगड़ने लगी थी। विशाल ने बताया कि वो अपने पिता को शनिवार दोपहर करीब 1.30 बजे वैक्सीन सेंटर से घर लेकर आया था। उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। उन्हें निमोनिया, खांसी-जुकाम था। 
 

मृतक महिपाल के बेटे विशाल ने बताया कि पिता को पहले से कोई दिक्कत रही होगी। लेकिन वैक्सीन के बाद तबीयत बिगड़ने लगी थी। विशाल ने बताया कि वो अपने पिता को शनिवार दोपहर करीब 1.30 बजे वैक्सीन सेंटर से घर लेकर आया था। उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। उन्हें निमोनिया, खांसी-जुकाम था। 
 

बता दें कि 16 जनवरी से भारत में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई है। पहले दिन 1.91 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी। जबकि 2 दिनों में 2,24,301 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। 

बता दें कि 16 जनवरी से भारत में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई है। पहले दिन 1.91 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी। जबकि 2 दिनों में 2,24,301 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। 

पहले दिन 100 लोगों में साइड इफेक्ट दिखे थे। जबकि दो दिनों में करीब 447 लोगों में प्रतिकूल असर पड़ा। हालांकि इसका असर कम था। वैक्सीन के बाद सिर दर्द, चक्कर आना, पसीना आना और सीने में भारीपन जैसी मामूली समस्याएं हो रही हैं।

पहले दिन 100 लोगों में साइड इफेक्ट दिखे थे। जबकि दो दिनों में करीब 447 लोगों में प्रतिकूल असर पड़ा। हालांकि इसका असर कम था। वैक्सीन के बाद सिर दर्द, चक्कर आना, पसीना आना और सीने में भारीपन जैसी मामूली समस्याएं हो रही हैं।

रविवार को एडिशनल सेक्रेट्री, हेल्थ डॉ. मनोहर अगनानी ने बताया कि मंगलवार को 6 राज्यों में 553 सेशंस में वैक्सीनेशन हुआ। इन राज्यों में है-आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, मणिपुर और तमिलनाडु। 

रविवार को एडिशनल सेक्रेट्री, हेल्थ डॉ. मनोहर अगनानी ने बताया कि मंगलवार को 6 राज्यों में 553 सेशंस में वैक्सीनेशन हुआ। इन राज्यों में है-आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, मणिपुर और तमिलनाडु। 

बता दें कि पहले दिन सिर्फ 60% लोगों को ही वैक्सीन लगाई जा सकी थी। जबकि सरकार ने ऐलान किया था कि 3,006 जगहों पर 3 लाख 15 हजार 37 लोगों को टीका लगेगा। वैक्सीन की साइट्स जरूर बढ़कर 3351 हो गई थीं, वैक्सीन सिर्फ 1 लाख 91 हजार 181 को ही लगाई जा सकी। 

(तस्वीरें देश के अलग-अलग जगहों पर वैक्सीनेशन ड्राइव की हैं)

बता दें कि पहले दिन सिर्फ 60% लोगों को ही वैक्सीन लगाई जा सकी थी। जबकि सरकार ने ऐलान किया था कि 3,006 जगहों पर 3 लाख 15 हजार 37 लोगों को टीका लगेगा। वैक्सीन की साइट्स जरूर बढ़कर 3351 हो गई थीं, वैक्सीन सिर्फ 1 लाख 91 हजार 181 को ही लगाई जा सकी। 

(तस्वीरें देश के अलग-अलग जगहों पर वैक्सीनेशन ड्राइव की हैं)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios