एक्ट्रेस पत्नी को दर्दनाक मौत देकर सालियों को करता रहा मैसेज, शातिर पति के प्लान को ना समझ सकी वो

First Published 13, Feb 2020, 2:17 PM IST

हल्द्वानी ( उत्तराखंड).14 दिन पहले यानी 31 जनवरी को अवैध संबध के शक में एक पति ने अपने दोस्त के साथ मिलकर पहले पत्नी की हत्या की फिर इंजन ऑयल डालकर उसका शव जला दिया। आरोपी इतना शातिर था कि किसी को उस पर शक ना हो इसके लिए वह मृतका के मोबाइल से सालियों को मैसेज भेजता रहा। जब कभी उसकी साली जीजा से बात करती तो कहता अनीता एक सीरियल की ट्रेनिंग के लिए मुंबई गई है। लेकिन उसका यह खेल ज्यादा दिन तक नहीं चल सका। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर हत्या के पीछे की वजह बताई है। इस घटना को रविंद्र पाल आहूजा और उसके दोस्त कुलदीप सिंह ने मिलकर अंजाम दिया था। मृतक महिला एक टीवी कलाकर थी, जिसका नाम अनीता अहूजा था।
 

पुलिस पूछताछ में आरोपी पति ने बताया,  उसने पहले पत्नी की चाय में नशे की गोलियां मिलाई थी, ताकि वह बेसुध हो जाए। इसके बाद उसने दोस्त के साथ मिलकर रात 1.30 बजे कार की डिग्गी से रस्सी निकालकर अनीता का गला घोंट दिया। उसकी लाश को बैलपोखरा जाने वाली रोड पर इंजन ऑयल डालकर जला दी। इसके बाद दोनों वहां से फरार हो गए।

पुलिस पूछताछ में आरोपी पति ने बताया, उसने पहले पत्नी की चाय में नशे की गोलियां मिलाई थी, ताकि वह बेसुध हो जाए। इसके बाद उसने दोस्त के साथ मिलकर रात 1.30 बजे कार की डिग्गी से रस्सी निकालकर अनीता का गला घोंट दिया। उसकी लाश को बैलपोखरा जाने वाली रोड पर इंजन ऑयल डालकर जला दी। इसके बाद दोनों वहां से फरार हो गए।

मामले की जांच कर रहे पुलिस अफसर एसएसपी सुनील कुमार मीणा ने बताया कि 31 जनवरी को हल्द्वानी के बैलपोखरा क्षेत्र में एक महिला का जला हुआ शव मिला था। जिसकी पहचान हमने अनीता पाल अहूजा के रूप में की थी। हमारी टीम इस मामले की जांच कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में कार के मूवमेंट और नंबर प्लेट का पता चला। जिसके आधार पर हमने आरोपी कुलदीप सिंह को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।  उसके दोस्त रविंद्र पाल ने भी उसकी मदद की थी।

मामले की जांच कर रहे पुलिस अफसर एसएसपी सुनील कुमार मीणा ने बताया कि 31 जनवरी को हल्द्वानी के बैलपोखरा क्षेत्र में एक महिला का जला हुआ शव मिला था। जिसकी पहचान हमने अनीता पाल अहूजा के रूप में की थी। हमारी टीम इस मामले की जांच कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में कार के मूवमेंट और नंबर प्लेट का पता चला। जिसके आधार पर हमने आरोपी कुलदीप सिंह को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसके दोस्त रविंद्र पाल ने भी उसकी मदद की थी।

पूछताछ में आरोपी पति ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी अनीता टीवी शो में काम करती थी। उसे शक था कि पत्नी का एक कश्मीर युवक से अवैध संबंध है। काफी समझाने के बाद भी उसने उसकी बात नहीं सुनी। दिसंबर में वह फिल्मों में काम के लिए मुबंई जाने को कह रही थी।

पूछताछ में आरोपी पति ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी अनीता टीवी शो में काम करती थी। उसे शक था कि पत्नी का एक कश्मीर युवक से अवैध संबंध है। काफी समझाने के बाद भी उसने उसकी बात नहीं सुनी। दिसंबर में वह फिल्मों में काम के लिए मुबंई जाने को कह रही थी।

आरोपी  ने बताया, मैंने अपनी पत्नी को भरोसा दिलाया कि उसका दोस्त कुलदीप का कोई मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में जानने वाला है। उससे मेरी बात हो गई है, वह तुमको फिल्म या सीरियल में काम दिला सकता है। लेकिन इसके लिए हमको मुंबई चलना पड़ेगा। रविंद्र ने बताया की वह मेरी बात में आ गई और साथ चलने के लिए तैयार हो गई।

आरोपी ने बताया, मैंने अपनी पत्नी को भरोसा दिलाया कि उसका दोस्त कुलदीप का कोई मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में जानने वाला है। उससे मेरी बात हो गई है, वह तुमको फिल्म या सीरियल में काम दिला सकता है। लेकिन इसके लिए हमको मुंबई चलना पड़ेगा। रविंद्र ने बताया की वह मेरी बात में आ गई और साथ चलने के लिए तैयार हो गई।

रविंद्र ने बताया  24 जनवरी को कुलदीप के साथ मिलकर पत्नी की हत्या की योजना बनाई। दोस्त से ही हत्या के लिए रस्सी, जला हुआ 5-6 लीटर मोबिल आयल और एक कार का इंतजाम करने के लिए कहा। मैंने कुलदीप के खाते में पैसे भी डाले। प्लान के तहत हम पत्नी को दिल्ली से उत्तराखंड ले गए और गला घोंटकर जिंदा जला दिया।

रविंद्र ने बताया 24 जनवरी को कुलदीप के साथ मिलकर पत्नी की हत्या की योजना बनाई। दोस्त से ही हत्या के लिए रस्सी, जला हुआ 5-6 लीटर मोबिल आयल और एक कार का इंतजाम करने के लिए कहा। मैंने कुलदीप के खाते में पैसे भी डाले। प्लान के तहत हम पत्नी को दिल्ली से उत्तराखंड ले गए और गला घोंटकर जिंदा जला दिया।

आरोपी ने बताया, मारने से पहले पत्नी की चाय में नशे की गोलियां मिलाई थीं। ताकि वह बेसुध हो जाए। इसके बाद दोस्त के साथ मिलकर रात 1.30 बजे कार की डिग्गी से रस्सी निकालकर अनीता का गला घोंटा। मरने के बाद उसकी लाश बैलपोखरा जाने वाली रोड पर इंजन ऑयल डालकर जला दी। इसके बाद दोनों वहां से फरार हो गए।

आरोपी ने बताया, मारने से पहले पत्नी की चाय में नशे की गोलियां मिलाई थीं। ताकि वह बेसुध हो जाए। इसके बाद दोस्त के साथ मिलकर रात 1.30 बजे कार की डिग्गी से रस्सी निकालकर अनीता का गला घोंटा। मरने के बाद उसकी लाश बैलपोखरा जाने वाली रोड पर इंजन ऑयल डालकर जला दी। इसके बाद दोनों वहां से फरार हो गए।

loader