महिला विधायक को सरकार ने दी जेड सुरक्षा, आगे-पीछे तैनात होंगे 35 पुलिसकर्मी..हर माह का खर्च 70 लाख

First Published 5, Jul 2020, 9:26 AM

जयपुर. राजस्थान की कांग्रेस विधायक और पूर्व ओलंपियन कृष्णा पूनिया को जेड़ श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई है। बता दें कि यह सुरक्षा विधायक को जान का खतरा होने के कारण सीआईडी ने मिली सूचना के आधार पर राज्य सरकार ने जेड़ श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला लिया है। चूरू एसपी तेजस्वनी गौतम ने 3 जुलाई को आदेश जारी कर दिए हैं।

<p>दरअसल, शनिवार शाम पुलिस के जवान विधायक के आवास पहुंचे। उनकी सुरक्षा में 2 एएसआई सहित 35 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। एस्कॉर्ट के लिए 12 पुलिसकर्मी। 3 ड्राइवर व डबल गार्ड में 10 पुलिसकर्मी। 6 पीएसओ और दो वाचर्स मैन (सिविल वर्दी)। विधायक के पति द्रोणाचार्य अवॉर्डी कोच वीरेंद्र पूनिया की सुरक्षा के लिए दो पीएसओ लगाए हैं।</p>

दरअसल, शनिवार शाम पुलिस के जवान विधायक के आवास पहुंचे। उनकी सुरक्षा में 2 एएसआई सहित 35 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। एस्कॉर्ट के लिए 12 पुलिसकर्मी। 3 ड्राइवर व डबल गार्ड में 10 पुलिसकर्मी। 6 पीएसओ और दो वाचर्स मैन (सिविल वर्दी)। विधायक के पति द्रोणाचार्य अवॉर्डी कोच वीरेंद्र पूनिया की सुरक्षा के लिए दो पीएसओ लगाए हैं।

<p>बता दें कि सादुलपुर से विधायक डॉ. कृष्णा पूनिया राजस्थान में उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बाद ऐसी दूसरी राजनेता हैं, जिनको जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।</p>

बता दें कि सादुलपुर से विधायक डॉ. कृष्णा पूनिया राजस्थान में उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बाद ऐसी दूसरी राजनेता हैं, जिनको जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

<p>पिछले दिनों कृष्णा पूनिया के निर्वाचन क्षेत्र के राजगढ़ थाना प्रभारी विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या ने आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में उन्होंने दबाव होने का आरोप लगाया था। इसके बाद भाजपा और बसपा सहित कई राजनीतिक दलों एवं विश्नोई समाज ने कृष्णा पूनिया के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरना दिया था। विश्नोई समाज के लोग हरियाणा के वरिष्ठ नेता कुलदीप विश्नोई एवं राजस्थान सरकार के वनमंत्री सुखराम विश्नोई की अगुवाई में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से भी मिले थे ।<br />
 </p>

पिछले दिनों कृष्णा पूनिया के निर्वाचन क्षेत्र के राजगढ़ थाना प्रभारी विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या ने आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में उन्होंने दबाव होने का आरोप लगाया था। इसके बाद भाजपा और बसपा सहित कई राजनीतिक दलों एवं विश्नोई समाज ने कृष्णा पूनिया के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरना दिया था। विश्नोई समाज के लोग हरियाणा के वरिष्ठ नेता कुलदीप विश्नोई एवं राजस्थान सरकार के वनमंत्री सुखराम विश्नोई की अगुवाई में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से भी मिले थे ।
 

<p><br />
पुलिस के मुताबिक, एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के नाम से बनी फेसबुक आईडी पर बिना किसी नाम से धमकी दी गई थी। जिसमें लिखा था एसएचओ विश्नोई की मौत के जिम्मेदार लोग तैयार रहें।<br />
 </p>


पुलिस के मुताबिक, एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के नाम से बनी फेसबुक आईडी पर बिना किसी नाम से धमकी दी गई थी। जिसमें लिखा था एसएचओ विश्नोई की मौत के जिम्मेदार लोग तैयार रहें।
 

<p><br />
विधायक कृष्णा पूनिया की इस सुरक्षा पर करीब 20 लाख रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। जानकारी के मुतबिक, एक एएसआई का रोज का 7 हजार रुपए खर्च होते हैं। वहीं हैड कांस्टेबल पर करीब 6500 रुपए का खर्च आता है। इस हिसाब से हर महीने का 70 लाख रुपए खर्च आएगा।<br />
 </p>


विधायक कृष्णा पूनिया की इस सुरक्षा पर करीब 20 लाख रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। जानकारी के मुतबिक, एक एएसआई का रोज का 7 हजार रुपए खर्च होते हैं। वहीं हैड कांस्टेबल पर करीब 6500 रुपए का खर्च आता है। इस हिसाब से हर महीने का 70 लाख रुपए खर्च आएगा।
 

<p>विधायक कृष्णा पूनिया के पति द्रोणाचार्य अवार्डी वीरेंद्र पूनिया रेलवे में में नौकरी करते हैं। वे जयपुर स्टेशन पर मुख्य टिकट निरीक्षक (सीटीआई/स्लीपर) के पद पर तैनात हैं।</p>

विधायक कृष्णा पूनिया के पति द्रोणाचार्य अवार्डी वीरेंद्र पूनिया रेलवे में में नौकरी करते हैं। वे जयपुर स्टेशन पर मुख्य टिकट निरीक्षक (सीटीआई/स्लीपर) के पद पर तैनात हैं।

<p><br />
बता दें कि विधायक बनने से पहले कृष्णा पूनिया जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट से बीजेपी नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह के सामने चुवाव भी लड़ चुकी हैं। हालांकि उनको हार का सामना करना पड़ा था।</p>


बता दें कि विधायक बनने से पहले कृष्णा पूनिया जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट से बीजेपी नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह के सामने चुवाव भी लड़ चुकी हैं। हालांकि उनको हार का सामना करना पड़ा था।

<p>कृष्णा पूनिया अन्तरराष्ट्रीय एथलीट रह चुकी हैं, वह कई बार अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम रोशन करने के साथ-साथ मेडल भी दिला चुकी हैं।</p>

कृष्णा पूनिया अन्तरराष्ट्रीय एथलीट रह चुकी हैं, वह कई बार अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम रोशन करने के साथ-साथ मेडल भी दिला चुकी हैं।

<p>राहुल गांधी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ कांग्रेस विधायक कृष्णा पूनिया।</p>

राहुल गांधी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ कांग्रेस विधायक कृष्णा पूनिया।

loader