Asianet News Hindi

देशप्रेम के बीच मातम: टीचर माता-पिता गए झंडा फहराने, लौटे तो इश्क में खून से सनी मिली बेटी

First Published Jan 26, 2021, 2:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


जयपुर (राजस्थान), एक तरफ जहां रिपब्लिक डे के अवसर पर हर तरफ देशभक्ति की गूंज सुनाई दे रही हैं। जहां लोग देशप्रेम में डूबे हुए हैं, वहीं दूसरी तरफ राजस्थान से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। जहां एक आशिक ने एकतरफा प्यार में एक लड़की को गर्लफ्रेंड मानते हुए उसकी हत्या कर दी। बता दें कि यह खौफनाक वारदात उस वक्त हुई जब लड़की के माता पिता अपने बेटी को घर छोड़कर झंडा फहराने के लिए स्कूल गए हुए थे।
 


दरअसल, यह वारदात मंगलवार सुबह भरतपुर के कोतवाली इलाके से मुखर्जी नगर में सामने आई है। जिस वक्त लोग झंडा फहरा रहे थे उसी दौरान सुनील नाम के युवक ने एकतरफा इश्क में 19 साल की अंकिता की गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। मामले का पता चलते ही इलाके में दहशत का माहौल बन गया, वहीं जानकारी मिलने के बाद पुलिस और एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची हैं।


दरअसल, यह वारदात मंगलवार सुबह भरतपुर के कोतवाली इलाके से मुखर्जी नगर में सामने आई है। जिस वक्त लोग झंडा फहरा रहे थे उसी दौरान सुनील नाम के युवक ने एकतरफा इश्क में 19 साल की अंकिता की गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। मामले का पता चलते ही इलाके में दहशत का माहौल बन गया, वहीं जानकारी मिलने के बाद पुलिस और एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची हैं।


बता दें कि अंकिता के माता-पिता स्कूल में टीचर हैं, वह सुबह 7 बजे झंडा बंधन के लिए घर से निकल गए थे। इसके अलावा वो मेन दरवाजे पर बाहर से ताला लगाकर गए थे। यानि घर के आगे और पीछे के दरवाजे पर ताला लगा हुआ था। मम्मी पापा के जाने के बाद बेटी धूप लेने के लिए छत पर गई थी, इसी दौरान नीचे मौजदू मृतका की छोटी बहन कनिष्का को गोली चलने की आवाज आई। उसने ऊपर जाकर देखा तो अंकिता खून से लथपथ पड़ी हुई थी। जहां उसने अपने पड़ोसी आरोपी सुनील को छत से भागते देखा।


बता दें कि अंकिता के माता-पिता स्कूल में टीचर हैं, वह सुबह 7 बजे झंडा बंधन के लिए घर से निकल गए थे। इसके अलावा वो मेन दरवाजे पर बाहर से ताला लगाकर गए थे। यानि घर के आगे और पीछे के दरवाजे पर ताला लगा हुआ था। मम्मी पापा के जाने के बाद बेटी धूप लेने के लिए छत पर गई थी, इसी दौरान नीचे मौजदू मृतका की छोटी बहन कनिष्का को गोली चलने की आवाज आई। उसने ऊपर जाकर देखा तो अंकिता खून से लथपथ पड़ी हुई थी। जहां उसने अपने पड़ोसी आरोपी सुनील को छत से भागते देखा।


इस दौरान पड़ौसी भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को सूचना मिली तो आरोपी की तलाश की गई। जो अपने घर में नहीं मिला। इस बीच इलाज के दौरान अंकिता की अस्पताल में मौत हो गई। युवती के माता-पिता गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के लिए स्कूल जा चुके थे। जिन्हें रास्ते में ही घटना की सूचना मिला। बताया जा रहा है कि युवक ने युवती के पसली के नीचे पेट के दाएं तरफ गोली मारी। एक गोली में ही युवती की मौत हो गई। (प्रतीकात्मक)


इस दौरान पड़ौसी भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को सूचना मिली तो आरोपी की तलाश की गई। जो अपने घर में नहीं मिला। इस बीच इलाज के दौरान अंकिता की अस्पताल में मौत हो गई। युवती के माता-पिता गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के लिए स्कूल जा चुके थे। जिन्हें रास्ते में ही घटना की सूचना मिला। बताया जा रहा है कि युवक ने युवती के पसली के नीचे पेट के दाएं तरफ गोली मारी। एक गोली में ही युवती की मौत हो गई। (प्रतीकात्मक)


माता-पिता को जब इस घटना की जानकारी लगी तो वह बीच रास्ते से भागे-भागे घर पहुंचे। इसके बाद बेटी को अस्पताल लेकर गए, जहां उसकी कुछ ही देर में मौत हो गई। बता दें कि आरोपी सुनील ने अंकिता की पसली के नीचे और पेट में गोली मारी थी। पुलिस को पिता ने बताया कि सुनील पहले भी कई बार उनकी बेटी को परेशान कर चुका था। कई बार हमने उसे समझाया, लेकिन वह नहीं माना। लोगों ने बताया कि युवक और युवती के बीच पहले भी विवाद हुआ था। बाद में राजीनामा करवा दिया गया। लेकिन जब कहीं अंकिता घर से जाती तो उसके पीछे-पीछे जाता और बात करने की कोशिश करता था।


माता-पिता को जब इस घटना की जानकारी लगी तो वह बीच रास्ते से भागे-भागे घर पहुंचे। इसके बाद बेटी को अस्पताल लेकर गए, जहां उसकी कुछ ही देर में मौत हो गई। बता दें कि आरोपी सुनील ने अंकिता की पसली के नीचे और पेट में गोली मारी थी। पुलिस को पिता ने बताया कि सुनील पहले भी कई बार उनकी बेटी को परेशान कर चुका था। कई बार हमने उसे समझाया, लेकिन वह नहीं माना। लोगों ने बताया कि युवक और युवती के बीच पहले भी विवाद हुआ था। बाद में राजीनामा करवा दिया गया। लेकिन जब कहीं अंकिता घर से जाती तो उसके पीछे-पीछे जाता और बात करने की कोशिश करता था।


भरतपुर पुलिस ने मामले की जांच करने के लिए डॉग स्क्वॉड को भी बुलाया है। जांच में सामने आया है कि आरोपी लड़की से एकतरफा प्यार करता था। दोनों के घर पास-पास में हैं, इसी बात का फायदा उठाकर उसने   फिल्मी स्टाइल में अपने घर की छत से सीढ़ी लगाकर दूसरे घर की छत पर पहुंचा। जहां से तीसरे घर की छत पर पहुंचा, जिसके बाद हत्या कर दी।
 


भरतपुर पुलिस ने मामले की जांच करने के लिए डॉग स्क्वॉड को भी बुलाया है। जांच में सामने आया है कि आरोपी लड़की से एकतरफा प्यार करता था। दोनों के घर पास-पास में हैं, इसी बात का फायदा उठाकर उसने   फिल्मी स्टाइल में अपने घर की छत से सीढ़ी लगाकर दूसरे घर की छत पर पहुंचा। जहां से तीसरे घर की छत पर पहुंचा, जिसके बाद हत्या कर दी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios