Asianet News Hindi

ऑक्सीजन लगी थी हाथ बंधे थे..ICU में महिला से वार्ड बॉय रातभर करता रहा रेप, पति को लिखकर बयां किया दर्द

First Published Mar 17, 2021, 2:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर से मानवता को शर्मसार कर देने वाली ऐसी हैवानियत की घटना सामने आई है, जिसे करने से पहले एक बार राक्षस को भी सोचना पड़े। यहां एक प्राइवेट अस्पताल के आईसीयू में भर्ती महिला मरीज के साथ वार्ड बॉय पूरी रात रेप करता रहा। हैरानी की बात यह है कि आरोपी ने इस दरिंदगी को उस दौरान अंजाम दिया जब ऑपरेशन के बाद महिला मरीजे के मुंह पर ऑक्सीजन लगा हुआ था और दोनों हाथ बंधे हुए थे।
 

दरअसल, यह घिनौनी घटना जयपुर के शैल्बी अस्पताल का है। जहां सोमवार रात ICU बार्ड में एक मेल नर्सिंगकर्मी खुशीराम गुर्जर ने महिला मरीज के साथ इस दरिंदगी को अंजाम दिया। बताया जाता है कि पीड़िता बोलने की हालत में नहीं थी, इसलिए उसने यह बात अपने पति को सुबह इशारे में बताने की कोशिश की, लेकिन वह समझ नहीं सका। इसके बाद पीड़िता ने अपनी आपबीती लिखकर बताई तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। इसके बाद आरोपी की शिकायत कराई और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

दरअसल, यह घिनौनी घटना जयपुर के शैल्बी अस्पताल का है। जहां सोमवार रात ICU बार्ड में एक मेल नर्सिंगकर्मी खुशीराम गुर्जर ने महिला मरीज के साथ इस दरिंदगी को अंजाम दिया। बताया जाता है कि पीड़िता बोलने की हालत में नहीं थी, इसलिए उसने यह बात अपने पति को सुबह इशारे में बताने की कोशिश की, लेकिन वह समझ नहीं सका। इसके बाद पीड़िता ने अपनी आपबीती लिखकर बताई तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। इसके बाद आरोपी की शिकायत कराई और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।


घिनौनी घटना को अंजाम देते वक्त आरोपी को महिला पर जरा सी भी तरस नहीं आया। कुछ घंटे पहले ही उसकी सर्जरी हुई थी, वह दर्द से चीख रही थी और हैवान अपनी हवस पूरी करता रहा। इस दौरान पीड़िता कई बार बेहोश भी हुई, आरोपी महिला को बार-बार पिंच करके देखा कि महिला होश में है या नहीं। उसकी हालत इतनी भी ठीक नहीं थी कि वह चीख पाती, लेकिन दरिंदे ने इसी बात का फायदा उठाया। जब उसने किसी को इस हरकत के बारे में बताने का कहा तो जान से मारने की धमकी देकर चुप करा दिया। फोटो प्रतीकात्मक)


घिनौनी घटना को अंजाम देते वक्त आरोपी को महिला पर जरा सी भी तरस नहीं आया। कुछ घंटे पहले ही उसकी सर्जरी हुई थी, वह दर्द से चीख रही थी और हैवान अपनी हवस पूरी करता रहा। इस दौरान पीड़िता कई बार बेहोश भी हुई, आरोपी महिला को बार-बार पिंच करके देखा कि महिला होश में है या नहीं। उसकी हालत इतनी भी ठीक नहीं थी कि वह चीख पाती, लेकिन दरिंदे ने इसी बात का फायदा उठाया। जब उसने किसी को इस हरकत के बारे में बताने का कहा तो जान से मारने की धमकी देकर चुप करा दिया। फोटो प्रतीकात्मक)


बता दें कि महिला मरीज के साथ हैवान बना आरोपी खुशीराम गुर्जर मूल रूप से करौली जिले के नादौती गांव का रहने वाला है। वह यहां पर कानोता इलाके में किराए से रहता है। जयपुर के शैल्बी अस्पताल में नर्सिंगकर्मी के तौर पर नौकरी करता है। शिकायत के बाद पुलिस ने हॉस्पिटल में लगे CCTV कैमरों के आधार पर आरोपी की पहचान करके तलाश शुरू की। जिसके बाद मोबाइल के लोकेशन के आधार पर दबिश देकर उसे दबोच लिया गया। (आरोपी नर्सिंगकर्मी खुशीराम गुर्जर)


बता दें कि महिला मरीज के साथ हैवान बना आरोपी खुशीराम गुर्जर मूल रूप से करौली जिले के नादौती गांव का रहने वाला है। वह यहां पर कानोता इलाके में किराए से रहता है। जयपुर के शैल्बी अस्पताल में नर्सिंगकर्मी के तौर पर नौकरी करता है। शिकायत के बाद पुलिस ने हॉस्पिटल में लगे CCTV कैमरों के आधार पर आरोपी की पहचान करके तलाश शुरू की। जिसके बाद मोबाइल के लोकेशन के आधार पर दबिश देकर उसे दबोच लिया गया। (आरोपी नर्सिंगकर्मी खुशीराम गुर्जर)

पीड़िता के पति ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी पत्नी को सोमवार शाम एडमिट किया था।  जिसके बाद तबीयत ज्यादा खराब होने की वजह से शाम को उसका ऑपरेशन किया गया। हॉसपिटल के नियमों के अनुसार आईसीयू में किसी का रुकना नहीं दिया जाता है। नर्सों ने कहा गया की जब जरूरत होगी तो आपको कॉल कर बुला लेंगे। जिसके चलते में रात को अपने घर चला गया। लेकिन मुझे क्या पता था कि हम यहां जिंदगी बचाने के लिए आए थे, लेकिन यहां तो जिंदगी ही बर्बाद हो गई। 

पीड़िता के पति ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी पत्नी को सोमवार शाम एडमिट किया था।  जिसके बाद तबीयत ज्यादा खराब होने की वजह से शाम को उसका ऑपरेशन किया गया। हॉसपिटल के नियमों के अनुसार आईसीयू में किसी का रुकना नहीं दिया जाता है। नर्सों ने कहा गया की जब जरूरत होगी तो आपको कॉल कर बुला लेंगे। जिसके चलते में रात को अपने घर चला गया। लेकिन मुझे क्या पता था कि हम यहां जिंदगी बचाने के लिए आए थे, लेकिन यहां तो जिंदगी ही बर्बाद हो गई। 


मामले की जांच कर रहे जयपुर के डीसीपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि यह अपराध बेहद गंभीर है। आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा,जिसके बाद उसकी सजा तय होगी। उन्होंने बताया कि पीड़िता के पति ने कल शाम  चित्रकूट थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। आरोपी को आगरा रोड से हिरासत में लिया गया है। 
 


मामले की जांच कर रहे जयपुर के डीसीपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि यह अपराध बेहद गंभीर है। आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा,जिसके बाद उसकी सजा तय होगी। उन्होंने बताया कि पीड़िता के पति ने कल शाम  चित्रकूट थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। आरोपी को आगरा रोड से हिरासत में लिया गया है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios