Asianet News Hindi

एक्टिंग करने के लिए ली थी रिश्वत...ऋषि कपूर ने 3 साल पहले जयपुर में खोले थे जिंदगी के ऐसे 5 राज

First Published Apr 30, 2020, 4:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर, करोड़ों दिलों पर राज करने वाले जिंदादिल अभिनेता ऋषि कपूर ने भी बॉलीवुड एक्टर इरफान खान के निधन के महज एक दिन बाद इस दुनिया को अलविदा कह दिया। उन्होंने गुरुवार सुबह मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली। 67 साल के ऋषि ल्यूकेमिया यानी ब्लड कैंसर से जूझ रहे थे। उनके मौत की सबसे पहले जानकारी अमिताभ बच्चन ने ट्वीट करके दी थी।

दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर उर्फ चिंटू अपनी एक्टिंग के अलावा बेबाकी के लिए भी जाने जाते थे। वह बीमार होने के बावजूद भी सोशल मीडिया पर एक्टिव रहकर देश में चल रहे सभी मद्दों पर अपनी बात रखते थे। वो किसी बात को कहने से नहीं चूकते थे। बात 3 साल पुरानी है जब वो साल 2017 में जयपुर के एक लिटरेचर फेस्टिवल में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे। जहां उन्होंने फैन के बीच अपनी जिंदगी के कई राज खोले थे। जानते हैं क्या थे वह पांच राज...

दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर उर्फ चिंटू अपनी एक्टिंग के अलावा बेबाकी के लिए भी जाने जाते थे। वह बीमार होने के बावजूद भी सोशल मीडिया पर एक्टिव रहकर देश में चल रहे सभी मद्दों पर अपनी बात रखते थे। वो किसी बात को कहने से नहीं चूकते थे। बात 3 साल पुरानी है जब वो साल 2017 में जयपुर के एक लिटरेचर फेस्टिवल में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे। जहां उन्होंने फैन के बीच अपनी जिंदगी के कई राज खोले थे। जानते हैं क्या थे वह पांच राज...

                                जब ऋषि कपूर ने सुनाया था बचपन का पहला राज
फेस्टिवल के दौरान ऋषि कपूर बताया था-जब मैं छोटा था तो बहुत मस्ती करता था, जिसके लिए मुझको मार भी खानी पड़ती थी। जब मैं रोता था तो अक्सर आइने में देखा करता था। ये किस्सा मुझको बड़े होने पर  'शशि कपूर जी सुनाया करते थे'।

               

                           (यह तस्वीर साल 2017 के लिटरेचर फेस्टिवल की है।)

                                जब ऋषि कपूर ने सुनाया था बचपन का पहला राज
फेस्टिवल के दौरान ऋषि कपूर बताया था-जब मैं छोटा था तो बहुत मस्ती करता था, जिसके लिए मुझको मार भी खानी पड़ती थी। जब मैं रोता था तो अक्सर आइने में देखा करता था। ये किस्सा मुझको बड़े होने पर  'शशि कपूर जी सुनाया करते थे'।

               

                           (यह तस्वीर साल 2017 के लिटरेचर फेस्टिवल की है।)

                                दूसरा राज- 25 साल तक लोगों को बनाया था बेवकूफ
ऋषि कपूर ने बताया था-मैंने अपने 25 साल के कॅरियर में सिर्फ स्विट्जरलैंड में जर्सी पहनकर एक्ट्रेस के साथ गाने गाए हैं। हां एक्टिंग तो अब कर रहा हूं। मतलब अब तक आपको बेवकूफ बना रहा था। हालांकि, मैं ईश्वर का बहुत शुक्रगुजार हूं कि मैं इस दौर में हूं जब मेरा बेटा भी फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रहा है और अच्छा अदाकारी कर लेता है।

                                दूसरा राज- 25 साल तक लोगों को बनाया था बेवकूफ
ऋषि कपूर ने बताया था-मैंने अपने 25 साल के कॅरियर में सिर्फ स्विट्जरलैंड में जर्सी पहनकर एक्ट्रेस के साथ गाने गाए हैं। हां एक्टिंग तो अब कर रहा हूं। मतलब अब तक आपको बेवकूफ बना रहा था। हालांकि, मैं ईश्वर का बहुत शुक्रगुजार हूं कि मैं इस दौर में हूं जब मेरा बेटा भी फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रहा है और अच्छा अदाकारी कर लेता है।

                      ऋषि कपूर का तीसरा राज..जब दादा की आंखों में आए थे आंसू...
ऋषि कपूर ने बताया था कि मेरे लिए वो पल हमेशा यादगार था, जब मुझको देखकर दादा जी की आंखों में आंसू आ गए थे। दरअसल, फिल्म 'मेरा नाम जोकर' के लिए मुझे जब नेशनल अवार्ड मिला था तो पिता जी ने कहा था मैं ये पुरस्कार दादा जी के पास लेकर जाऊं'। दादा ने अवॉर्ड को सिर से लगाया और चूमे तो उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े थे। जब उन्होंने कहा कि राज ने आज मेरा कर्ज उतार दिया'।

                         (यह तस्वीर साल 2017 के लिटरेचर फेस्टिवल की है।)

                      ऋषि कपूर का तीसरा राज..जब दादा की आंखों में आए थे आंसू...
ऋषि कपूर ने बताया था कि मेरे लिए वो पल हमेशा यादगार था, जब मुझको देखकर दादा जी की आंखों में आंसू आ गए थे। दरअसल, फिल्म 'मेरा नाम जोकर' के लिए मुझे जब नेशनल अवार्ड मिला था तो पिता जी ने कहा था मैं ये पुरस्कार दादा जी के पास लेकर जाऊं'। दादा ने अवॉर्ड को सिर से लगाया और चूमे तो उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े थे। जब उन्होंने कहा कि राज ने आज मेरा कर्ज उतार दिया'।

                         (यह तस्वीर साल 2017 के लिटरेचर फेस्टिवल की है।)

                                     चौथा राज..ऐसे हुआ था ऋषि को नीतू से प्यार
ऋषि कपूर ने कहा था-मैंने और नीतू जी ने करीब साथ में 15 फिल्में साथ की थीं। तो ऐसे में प्यार तो होना ही था और वह हो भी गया। हम दोनों ने शादी से पहले तय किया था कि दोनों में एक को होम जर्नी करनी होगी और दूसरे को फिल्मी की। तो मैंने फिल्म की जर्नी चुन ली और नीतू ने अपने घर की ड्यूटी निभाई। वास्तव में अगर वह नहीं होती तो मेरी जर्नी यहां तक नहीं पहुंचती।
 

                           (फेस्टिवल में पत्नी नीतू सिंह के साथ ऋषि कपूर।)

                                     चौथा राज..ऐसे हुआ था ऋषि को नीतू से प्यार
ऋषि कपूर ने कहा था-मैंने और नीतू जी ने करीब साथ में 15 फिल्में साथ की थीं। तो ऐसे में प्यार तो होना ही था और वह हो भी गया। हम दोनों ने शादी से पहले तय किया था कि दोनों में एक को होम जर्नी करनी होगी और दूसरे को फिल्मी की। तो मैंने फिल्म की जर्नी चुन ली और नीतू ने अपने घर की ड्यूटी निभाई। वास्तव में अगर वह नहीं होती तो मेरी जर्नी यहां तक नहीं पहुंचती।
 

                           (फेस्टिवल में पत्नी नीतू सिंह के साथ ऋषि कपूर।)

                                 ऋषि कपूर ने ऐसे शुरू की थी रिश्वत लेना
ऋषि कपूर  ने कहा था- जब में दो साल का था तो उस समय मुझे फिल्म श्री 420 में एक छोटा सा रोल करना था, जिसमें मुझे कहा गया था कि तुमको पानी में चलना है, लेकिन मैंने ऐसा करने से मना कर दिया और रोने लगा। तो नरगिस जी ने एक चॉकलेट दिया तो मैंने यह अभिनय कर दिया। टॉपी की रिश्वत लेकर वो अभिनय किया था।

                             (यह तस्वीर साल 2017 के लिटरेचर फेस्टिवल की है।)

                                 ऋषि कपूर ने ऐसे शुरू की थी रिश्वत लेना
ऋषि कपूर  ने कहा था- जब में दो साल का था तो उस समय मुझे फिल्म श्री 420 में एक छोटा सा रोल करना था, जिसमें मुझे कहा गया था कि तुमको पानी में चलना है, लेकिन मैंने ऐसा करने से मना कर दिया और रोने लगा। तो नरगिस जी ने एक चॉकलेट दिया तो मैंने यह अभिनय कर दिया। टॉपी की रिश्वत लेकर वो अभिनय किया था।

                             (यह तस्वीर साल 2017 के लिटरेचर फेस्टिवल की है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios