Asianet News Hindi

Android 11 Update: 20 पर्सेंट ज्यादा तेजी से लॉन्च करेगा ऐप्स, जानें इसमें और क्या है खास

First Published Sep 16, 2020, 2:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टेक डेस्क। एंड्रॉइड 11 (Android 11) को  लॉन्च कर दिया। इसका लंबे समय से यूजर्स को इंतजार था। इसकी लॉन्चिंग की घोषणा इस साल फरवरी में ही की गई थी। इसे बीते मंगलवार को लॉन्च किया गया। फिलहाल, यह सिर्फ गूगल के पिक्सल स्मार्टफोन पर एवेलेबल होगा। वहीं, ओप्पो और शाओमी जैसे कई स्मार्टफोन ब्रांड अपने नए मॉडल्स में इसे शामिल करने की कोशिश में लगे हुए हैं। जानकारी के मुताबिक, एंड्रॉइड 11 पहले की तुलना में 20 फीसदी तेज रफ्तार से ऐप्स को लॉन्च करेगा। जानते हैं इसके फीचर्स के बारे में। 
(फाइल फोटो)

स्क्रीन रिकॉर्डिंग
स्क्रीन रिकॉर्डिंग फीचर स्क्रीनशॉट की तरह होता है। इसमें यूजर स्क्रीन पर हो रही एक्टिविटीज को वीडियो की तरह रिकॉर्ड कर सकता है। इस अपडेट के पहले भी यह फीचर कई स्मार्टफोन में मौजूद था। इस अपडेट से इसमें और भी सुविधा बढ़ी है। बिल्ड इन रिकॉर्डिंग ऑप्शन होने से यूजर फोन की मदद से ट्यूटोरियल वीडियो बना सकते हैं।
(फाइल फोटो)
 

स्क्रीन रिकॉर्डिंग
स्क्रीन रिकॉर्डिंग फीचर स्क्रीनशॉट की तरह होता है। इसमें यूजर स्क्रीन पर हो रही एक्टिविटीज को वीडियो की तरह रिकॉर्ड कर सकता है। इस अपडेट के पहले भी यह फीचर कई स्मार्टफोन में मौजूद था। इस अपडेट से इसमें और भी सुविधा बढ़ी है। बिल्ड इन रिकॉर्डिंग ऑप्शन होने से यूजर फोन की मदद से ट्यूटोरियल वीडियो बना सकते हैं।
(फाइल फोटो)
 

नया कन्वर्सेशन सिस्टम
एंड्रॉइड 10 में स्क्रीन पर नीचे स्वाइप करने पर नोटिफिकेशन बार नीचे आ जाता था, लेकिन एंड्रॉइड 11 में यह दो हिस्से में बच जाएगा। पहले हिस्से में नोटिफिकेशन होगी, वहीं दूसरे हिस्से में चैट। दूसरे हिस्से में वॉट्सऐप, मेसेंजर और ट्विटर जैसे ऐप के नोटिफिकेशन होंगे।
(फाइल फोटो)

नया कन्वर्सेशन सिस्टम
एंड्रॉइड 10 में स्क्रीन पर नीचे स्वाइप करने पर नोटिफिकेशन बार नीचे आ जाता था, लेकिन एंड्रॉइड 11 में यह दो हिस्से में बच जाएगा। पहले हिस्से में नोटिफिकेशन होगी, वहीं दूसरे हिस्से में चैट। दूसरे हिस्से में वॉट्सऐप, मेसेंजर और ट्विटर जैसे ऐप के नोटिफिकेशन होंगे।
(फाइल फोटो)

नोटिफिकेशन में नहीं दबेंगे मैसेज
पहले नोटिफिकेशन के बीच मैसेज दब जाया करते थे, लेकिन एंड्रॉइड 11 में कन्वर्सेसशन हिस्से में मैसेज की जानकारी मिलेगी। इसकी मदद से नोटिफिकेशन के जरिए ही रिप्लाई किया जा सकता है। इसमें चैट का बबल भी तैयार किया जा सकता है। यह पहले फेसबुक मेसेंजर में देखा जाता है। इसकी मदद से दूसरे ऐप का यूज करते हुए भी रिप्लाई किया जा सकेगा।
(फाइल फोटो)
 

नोटिफिकेशन में नहीं दबेंगे मैसेज
पहले नोटिफिकेशन के बीच मैसेज दब जाया करते थे, लेकिन एंड्रॉइड 11 में कन्वर्सेसशन हिस्से में मैसेज की जानकारी मिलेगी। इसकी मदद से नोटिफिकेशन के जरिए ही रिप्लाई किया जा सकता है। इसमें चैट का बबल भी तैयार किया जा सकता है। यह पहले फेसबुक मेसेंजर में देखा जाता है। इसकी मदद से दूसरे ऐप का यूज करते हुए भी रिप्लाई किया जा सकेगा।
(फाइल फोटो)
 

नए कंट्रोल्स
एंड्रॉइड 11 के कुछ फीचर्स के जरिए फोन से ही एसी, फ्रिज, टीवी और दूसरे डिवाइसेस को कंट्रोल किया जा सकता है। इस नए वर्जन में यूजर सिर्फ पावर बटन को देर तक प्रेस कर इस ऑप्शन का यूज कर सकते हैं। इसमें एक नया फीचर बेडटाइम मोड भी शामिल किया गया है। इसे रात में चालू कर देने पर 'डू नॉट डिस्टर्ब मोड' शुरू हो जाता है। इससे फोन की स्क्रीन ब्लैक एंड वाइट हो जाती है।
(फाइल फोटो)
 

नए कंट्रोल्स
एंड्रॉइड 11 के कुछ फीचर्स के जरिए फोन से ही एसी, फ्रिज, टीवी और दूसरे डिवाइसेस को कंट्रोल किया जा सकता है। इस नए वर्जन में यूजर सिर्फ पावर बटन को देर तक प्रेस कर इस ऑप्शन का यूज कर सकते हैं। इसमें एक नया फीचर बेडटाइम मोड भी शामिल किया गया है। इसे रात में चालू कर देने पर 'डू नॉट डिस्टर्ब मोड' शुरू हो जाता है। इससे फोन की स्क्रीन ब्लैक एंड वाइट हो जाती है।
(फाइल फोटो)
 

म्यूजिक कंट्रोल
इस नए वर्जन में फोन को अपडेट करने के बाद यूजर के लिए ब्लूटूथ स्पीकर और दूसरे डिवाइस पर म्यूजिक सुनना आसान हो जाएगा। एयरप्लेन मोड में फोन को रखने पर ब्लूटूथ डिवाइस फोन से कनेक्ट रहेगा। इसे बार-बार जोड़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी।  
(फाइल फोटो)

म्यूजिक कंट्रोल
इस नए वर्जन में फोन को अपडेट करने के बाद यूजर के लिए ब्लूटूथ स्पीकर और दूसरे डिवाइस पर म्यूजिक सुनना आसान हो जाएगा। एयरप्लेन मोड में फोन को रखने पर ब्लूटूथ डिवाइस फोन से कनेक्ट रहेगा। इसे बार-बार जोड़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी।  
(फाइल फोटो)

ऐप्स अरेंज करने में कोई परेशानी नहीं
एंड्रॉइड 11 अपडेट आने से पहले यूजर को ऐप एक जगह रखने के लिए फोल्डर बनाना पड़ता था, लेकिन इसमें ऐसा नहीं करना पड़ेगा। एंड्रॉइड 11 के स्मार्ट फोल्डर के जरिए फोन अपने आप ऐप्स को उनके नेचर के हिसाब से एक फोल्डर में डाल देगा।
(फाइल फोटो)

ऐप्स अरेंज करने में कोई परेशानी नहीं
एंड्रॉइड 11 अपडेट आने से पहले यूजर को ऐप एक जगह रखने के लिए फोल्डर बनाना पड़ता था, लेकिन इसमें ऐसा नहीं करना पड़ेगा। एंड्रॉइड 11 के स्मार्ट फोल्डर के जरिए फोन अपने आप ऐप्स को उनके नेचर के हिसाब से एक फोल्डर में डाल देगा।
(फाइल फोटो)

सिक्युरिटी और प्राइवेसी
एंड्रॉइड 11 अपडेट के बाद फोन के किसी भी ऐप को सिर्फ एक बार लोकेशन और स्टोरेज की परमिशन दी जा सकती है। पहले ऐप को परमिशन देते वक्त दो ऑप्शन मिलते थे - ऑल द टाइम और ओनली वाइल यूजिंग। ऑल द टाइम ऑप्शन चुनने पर ऐप हर वक्त पर्सनल डेटा जैसे लोकेशन, स्टोरेज और सेंसर की जानकारी लेता था। वहीं, दूसरे ऑप्शन में सिर्फ इस्तेमाल के वक्त ही ऐप की पहुंच डेटा तक हो पाती थी। 
(फाइल फोटो)
 

सिक्युरिटी और प्राइवेसी
एंड्रॉइड 11 अपडेट के बाद फोन के किसी भी ऐप को सिर्फ एक बार लोकेशन और स्टोरेज की परमिशन दी जा सकती है। पहले ऐप को परमिशन देते वक्त दो ऑप्शन मिलते थे - ऑल द टाइम और ओनली वाइल यूजिंग। ऑल द टाइम ऑप्शन चुनने पर ऐप हर वक्त पर्सनल डेटा जैसे लोकेशन, स्टोरेज और सेंसर की जानकारी लेता था। वहीं, दूसरे ऑप्शन में सिर्फ इस्तेमाल के वक्त ही ऐप की पहुंच डेटा तक हो पाती थी। 
(फाइल फोटो)
 

कौन से स्मार्टफोन में मिलेगा यह अपडेट
एंड्रॉइड 11 अपडेट अभी कुछ ब्रांड्स के चुनिंदा स्मार्टफोन में ही मिलेगा। इनमें गूगल पिक्सल, ओप्पो, वन प्लस, रियलमी, शाओमी और नोकिया के स्मार्टफोन शामिल हैं। 
(फाइल फोटो)
 

कौन से स्मार्टफोन में मिलेगा यह अपडेट
एंड्रॉइड 11 अपडेट अभी कुछ ब्रांड्स के चुनिंदा स्मार्टफोन में ही मिलेगा। इनमें गूगल पिक्सल, ओप्पो, वन प्लस, रियलमी, शाओमी और नोकिया के स्मार्टफोन शामिल हैं। 
(फाइल फोटो)
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios