30 नवंबर को होगा उपच्छाया चंद्रग्रहण, जानिए कहां-कहां दिखाई देगा, ग्रहण के बाद क्या करना चाहिए?

First Published Nov 28, 2020, 10:40 AM IST

उज्जैन. इस बार 30 नवंबर, सोमवार को उपच्छाया ग्रहण का योग बन रहा है। हालांकि ये ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। इसलिए यहां इसकी कोई मान्यता नहीं रहेगी। ये ग्रहण उत्तरी, दक्षिणी अमेरिका, प्रशांत महासागर, ऑस्ट्रेलिया और एशिया महाद्वीप के पूर्वी भाग में देखा जा सकेगा।

<p>इस ग्रहण का समय भारतीय समयानुसार दोपहर करीब 1:04 बजे छाया से पहला स्पर्श। दोपहर 3:13 पर परम ग्रास चंद्रग्रहण होगा। शाम 5:22 पर उपच्छाया से आखिरी स्पर्श होगा।</p>

इस ग्रहण का समय भारतीय समयानुसार दोपहर करीब 1:04 बजे छाया से पहला स्पर्श। दोपहर 3:13 पर परम ग्रास चंद्रग्रहण होगा। शाम 5:22 पर उपच्छाया से आखिरी स्पर्श होगा।

<p>धर्म ग्रंथों के अनुसार ग्रहण के बाद पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए। अगर ऐसा संभव न हो तो घर पर ही स्नान मंत्र बोलकर नहाना चाहिए।</p>

धर्म ग्रंथों के अनुसार ग्रहण के बाद पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए। अगर ऐसा संभव न हो तो घर पर ही स्नान मंत्र बोलकर नहाना चाहिए।

<p>ब्राह्मणों को जनेऊ बदलना चाहिए।</p>

ब्राह्मणों को जनेऊ बदलना चाहिए।

<p>पूरे घर की साफ-सफाई भी ग्रहण के बाद करनी चाहिए।</p>

पूरे घर की साफ-सफाई भी ग्रहण के बाद करनी चाहिए।

<p>ग्रहण के बाद दान का विशेष महत्व है। जरूरतमंदों को खाद्य पदार्थों के अलावा अन्य जरूरी चीजें भी दान कर सकते हैं।</p>

ग्रहण के बाद दान का विशेष महत्व है। जरूरतमंदों को खाद्य पदार्थों के अलावा अन्य जरूरी चीजें भी दान कर सकते हैं।

<p>घर के मंदिर की साफ-सफाई कर भगवान की मूर्तियों को स्नान करवाना चाहिए।</p>

घर के मंदिर की साफ-सफाई कर भगवान की मूर्तियों को स्नान करवाना चाहिए।

Today's Poll

आप कितने खिलाड़ियों के साथ खेलना पसंद करते हैं?