Asianet News Hindi

ये हैं देवी लक्ष्मी के खास मंत्र, इनका जाप करने से पूरी हो सकती हैं आपकी हर मनोकामना

First Published Mar 6, 2021, 12:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. जीवन के सभी भौतिक सुख देवी लक्ष्मी की कृपा से ही मिलते हैं। जिसके पास मां लक्ष्मी का आशीष होता है, उसके धन-वैभव में कभी भी कोई कमी नहीं होती है। देवी लक्ष्मी की पूजा करने वाला व्यक्ति हमेशा खुश और सुखी होता है। ज्योतिष शास्त्र में देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने के अनेक उपाय व मंत्र बताए गए हैं। आज हम आपको देवी लक्ष्मी के कुछ खास मंत्रों के बारे में बता रहे हैं, जिनका जाप करने से आपकी परेशानियां दूर हो सकती हैं। ये हैं वो खास मंत्र…

1. धन लाभ के लिए मंत्र- ऊं धनाय नम:
 

1. धन लाभ के लिए मंत्र- ऊं धनाय नम:
 

2. घर सुख के लिए मंत्र- ऊं लक्ष्मी नम:

2. घर सुख के लिए मंत्र- ऊं लक्ष्मी नम:

3. बिगड़ा काम बनाने के लिए मंत्र- ऊं ह्रीं ह्रीं श्री लक्ष्मी वासुदेवाय नम

3. बिगड़ा काम बनाने के लिए मंत्र- ऊं ह्रीं ह्रीं श्री लक्ष्मी वासुदेवाय नम

4. पत्नी सुख लिए मंत्र- लक्ष्मी नारायण नम:

4. पत्नी सुख लिए मंत्र- लक्ष्मी नारायण नम:

5. सफलता के लिए मंत्र- ऊं श्रीं ह्रीं क्लीं श्री सिद्ध लक्ष्म्यै नम:

 

5. सफलता के लिए मंत्र- ऊं श्रीं ह्रीं क्लीं श्री सिद्ध लक्ष्म्यै नम:

 

मंत्र जाप से पहले करें देवी लक्ष्मी की पूजा
- मां लक्ष्मी का पूजन करने से पहले घर को साफ-सुथरा करें। फिर खुद स्नान करके स्वच्छ कपड़े पहनें।
- पूजा स्थल पर सबसे पहले चौकी रखें, उस पर पीला या लाल कपड़ा बिछाएं। उसके बाद उस पर मां लक्ष्मी की मूर्ति या फोटो रखें।
- मां लक्ष्मी का 16 श्रृंगार करें और सामर्थ्य के मुताबिक उन्हें चढ़ावा चढ़ाएं। मां लक्ष्मी कमल के पुष्प पर विराजती हैं इसलिए अगर कमल का फूल मिले तो मां को वो चढ़ाएं।
- इसके बाद कमल गट्‌टे या स्फटिक की माला से इन मंत्रों का जाप करें। कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें।

मंत्र जाप से पहले करें देवी लक्ष्मी की पूजा
- मां लक्ष्मी का पूजन करने से पहले घर को साफ-सुथरा करें। फिर खुद स्नान करके स्वच्छ कपड़े पहनें।
- पूजा स्थल पर सबसे पहले चौकी रखें, उस पर पीला या लाल कपड़ा बिछाएं। उसके बाद उस पर मां लक्ष्मी की मूर्ति या फोटो रखें।
- मां लक्ष्मी का 16 श्रृंगार करें और सामर्थ्य के मुताबिक उन्हें चढ़ावा चढ़ाएं। मां लक्ष्मी कमल के पुष्प पर विराजती हैं इसलिए अगर कमल का फूल मिले तो मां को वो चढ़ाएं।
- इसके बाद कमल गट्‌टे या स्फटिक की माला से इन मंत्रों का जाप करें। कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios