Asianet News Hindi

गरीबी दूर करने के लिए दिवाली की रात 12 बजे बाद करें राशि अनुसार इन मंत्रों का जाप

First Published Nov 13, 2020, 10:58 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. धर्म ग्रंथों के अनुसार, जिस व्यक्ति पर देवी लक्ष्मी की कृपा हो जाए उसे अपने जीवन में किसी भी तरह परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता। लक्ष्मी कृपा पाने के लिए दीपावली सबसे उपयुक्त दिन है। इस बार 14 नवंबर, शनिवार को दीपावली है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, इस दिन अगर देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए राशि अनुसार लक्ष्मी मंत्र का जाप किया जाए तो धन से संबंधित सभी समस्याएं दूर हो सकती हैं। जानिए राशि अनुसार मंत्र और जाप करने की विधि...

1. मेष राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्लीं सौ:
 

1. मेष राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्लीं सौ:
 

2. वृषभ राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्लीं श्रीं
 

2. वृषभ राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्लीं श्रीं
 

3. मिथुन राशि
मंत्र- ऊं क्ली ऐं सौ:
 

3. मिथुन राशि
मंत्र- ऊं क्ली ऐं सौ:
 

4. कर्क राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्ली श्रीं
 

4. कर्क राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्ली श्रीं
 

5. सिंह राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं श्रीं सौ:
 

5. सिंह राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं श्रीं सौ:
 

6. कन्या राशि
मंत्र- ऊं श्रीं ऐं सौ:
 

6. कन्या राशि
मंत्र- ऊं श्रीं ऐं सौ:
 

7. तुला राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं श्रीं सौं
 

7. तुला राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं श्रीं सौं
 

8. वृश्चिक राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्लीं सौ:
 

8. वृश्चिक राशि
मंत्र- ऊं ऐं क्लीं सौ:
 

9. धनु राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं क्लीं सौ:
 

9. धनु राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं क्लीं सौ:
 

10. मकर राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं क्लीं ह्रीं श्रीं सौ:
 

10. मकर राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं क्लीं ह्रीं श्रीं सौ:
 

11. कुंभ राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं ऐं क्लीं श्रीं
 

11. कुंभ राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं ऐं क्लीं श्रीं
 

12 मीन राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं क्लीं सौ:
 

12 मीन राशि
मंत्र- ऊं ह्रीं क्लीं सौ:
 

मंत्र जाप करने की विधि इस प्रकार है…
1. दीपावली की रात 12 बजे के बाद इन मंत्रों का जाप करना चाहिए।
2. जाप शुरू करने से पहले पूर्व दिशा की ओर मुख करके गाय के शुद्ध घी का दीपक जलाएं। ये दीपक मंत्र जाप तक जलते रहना चाहिए।
3. कम से कम 11 माला का जाप अवश्य करें। मंत्र जाप कुश (एक प्रकार की घास) के आसन पर बैठकर करें तो बेहतर रहेगा।
4. मंत्र जाप के लिए स्फटिक की माला का उपयोग करें। मंत्र जाप के बाद माला को पूजा स्थान पर ही रखें।
 

मंत्र जाप करने की विधि इस प्रकार है…
1.
दीपावली की रात 12 बजे के बाद इन मंत्रों का जाप करना चाहिए।
2. जाप शुरू करने से पहले पूर्व दिशा की ओर मुख करके गाय के शुद्ध घी का दीपक जलाएं। ये दीपक मंत्र जाप तक जलते रहना चाहिए।
3. कम से कम 11 माला का जाप अवश्य करें। मंत्र जाप कुश (एक प्रकार की घास) के आसन पर बैठकर करें तो बेहतर रहेगा।
4. मंत्र जाप के लिए स्फटिक की माला का उपयोग करें। मंत्र जाप के बाद माला को पूजा स्थान पर ही रखें।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios