Asianet News Hindi

आत्मा की शांति के लिए लोग कर रहे थे ईश्वर का पाठ, चंद सेकेंड में धसी जमीन, फिर ओर मची चीख पुकार

First Published Jan 3, 2021, 3:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गाजियाबाद ( Uttar Pradesh) ।  मुरादनगर के उखलारसी श्मशान घाट पर दर्दनाक हादसा हुआ। वहीं, 18 लोगों के मरने की भी बात कही जा रही है। हालांकि अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन, यह बात सामने आ ही जब हादसा हुआ था उस समय शांति पाठ चल रहा है। हम आपको हादसे से जुड़ी तस्वीरें और बड़ी बातें बता रहे हैं।


दयानंद कॉलोनी निवासी दयाराम की शनिवार की रात को बीमारी के चलते मौत हो गई थी। आज दोपहर उनके अंतिम संस्कार में 100  से ज्यादा मोहल्लेवासी व रिश्तेदार शामिल हुए थे।


दयानंद कॉलोनी निवासी दयाराम की शनिवार की रात को बीमारी के चलते मौत हो गई थी। आज दोपहर उनके अंतिम संस्कार में 100  से ज्यादा मोहल्लेवासी व रिश्तेदार शामिल हुए थे।

उखलारसी श्मशान घाट अंतिम संस्कार की अंतिम प्रक्रिया चल रही थी। पुजारी के आह्वान पर सभी लोग श्मशान घाट परिसर में बने भवन के अंदर खड़े होकर आत्म शांति पाठ कर रहे थे। 

उखलारसी श्मशान घाट अंतिम संस्कार की अंतिम प्रक्रिया चल रही थी। पुजारी के आह्वान पर सभी लोग श्मशान घाट परिसर में बने भवन के अंदर खड़े होकर आत्म शांति पाठ कर रहे थे। 

बताते हैं कि शांति पाठ खत्म भी नहीं हुआ था कि एक तरफ की जमीन धंस गई। जिसे देख लोग हैरान हो गए। वे कुछ करते कि दीवार ढह गई और लेंटर गिर गया। किसी को भागने तक का मौका नहीं मिल पाया।
 

बताते हैं कि शांति पाठ खत्म भी नहीं हुआ था कि एक तरफ की जमीन धंस गई। जिसे देख लोग हैरान हो गए। वे कुछ करते कि दीवार ढह गई और लेंटर गिर गया। किसी को भागने तक का मौका नहीं मिल पाया।
 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ही मंडलायुक्त मेरठ और एडीजी मेरठ जोन से घटना की रिपोर्ट मांगी है। वहीं, कहा जा रहा है कि बारिश के कारण जमीन धंसी और हादसा हुआ है।
 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ही मंडलायुक्त मेरठ और एडीजी मेरठ जोन से घटना की रिपोर्ट मांगी है। वहीं, कहा जा रहा है कि बारिश के कारण जमीन धंसी और हादसा हुआ है।
 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर गहरा शोक जताया है। साथ ही मरने वालों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपए की आर्थिक मदद देने के निर्देश दिए हैं। 
 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर गहरा शोक जताया है। साथ ही मरने वालों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपए की आर्थिक मदद देने के निर्देश दिए हैं। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios