इस इलाके में 300 से अधिक चमगादड़ों की मौत, दहशत में लोग, पेड़ तक से नहीं तोड़ रहे फल, photos

First Published 26, May 2020, 5:47 PM

गोरखपुर (Uttar Pradesh) ।  सैकड़ों की संख्या में मृत चमगादड़ों के मिलने से बेलघाट गांव के लोग दहशत में है। ये चमगादड़ आम के पेड़ और जमीनों पर मृत पाए गए हैं। जिस पेड़ पर ये जमगादड़ मृत लटके हुए पाए गए हैं उसके फल तोड़ने से लोग डर रहे हैं। वहीं, वन विभाग ने सभी चमगादड़ों को एकत्रित कर पोस्टमार्टम के लिए बरेली भेजा है। फिलहाल इन चमगादड़ों की मौत का कारण पानी की कमी बताया जा रहा है।

<p><br />
बेलघाट गांव के राधा स्वामी सत्संग भवन के पास बाग में 300 से अधिक मृत चमगादड़ पाए गए हैं। गांव के लोगों का कहना है कि बेलघाट कस्बे में या बेलघाट के इर्दगिर्द कभी भी चमगादड़ों को झुंड में उड़ता हुआ नहीं देखा गया। ये चमगादड़ कहां से आए इसको सोचकर हम लोग खुद परेशान हैं। <br />
 </p>


बेलघाट गांव के राधा स्वामी सत्संग भवन के पास बाग में 300 से अधिक मृत चमगादड़ पाए गए हैं। गांव के लोगों का कहना है कि बेलघाट कस्बे में या बेलघाट के इर्दगिर्द कभी भी चमगादड़ों को झुंड में उड़ता हुआ नहीं देखा गया। ये चमगादड़ कहां से आए इसको सोचकर हम लोग खुद परेशान हैं। 
 

<p><br />
जानकारी होने पर वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। जो जमीन पर मृत चमगादड़ थे उनको तो वन विभाग उठाकर ले गया। लेकिन, अभी जो चमगादड़ पेड़ की डालों पर मृत पड़े हैं उनका निस्तारण नहीं किया गया।<br />
 </p>


जानकारी होने पर वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। जो जमीन पर मृत चमगादड़ थे उनको तो वन विभाग उठाकर ले गया। लेकिन, अभी जो चमगादड़ पेड़ की डालों पर मृत पड़े हैं उनका निस्तारण नहीं किया गया।
 

<p><br />
वन विभाग के क्षेत्राधिकारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि चमगादड़ों के मरने का सबसे बड़ा कारण फिलहाल पानी की कमी ही नजर आ रही है, पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का कारण पता चलेगा।</p>


वन विभाग के क्षेत्राधिकारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि चमगादड़ों के मरने का सबसे बड़ा कारण फिलहाल पानी की कमी ही नजर आ रही है, पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का कारण पता चलेगा।

<p>बता दें कि गोरखपुर और आस-पास के इलाकों में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है। यहां का तापमान 44 डिग्री के आसपास रह रहा है। इसकी वजह से आदमी, जानवर, पक्षी सब परेशान हैं।</p>

बता दें कि गोरखपुर और आस-पास के इलाकों में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है। यहां का तापमान 44 डिग्री के आसपास रह रहा है। इसकी वजह से आदमी, जानवर, पक्षी सब परेशान हैं।

<p>कोरोना का भय और पिछले दो से तीन दिनों में जिस तरह से इलाके में चमगादड़ की मौत हो रही है उससे यहां पर दहशत हैं।</p>

कोरोना का भय और पिछले दो से तीन दिनों में जिस तरह से इलाके में चमगादड़ की मौत हो रही है उससे यहां पर दहशत हैं।

loader