Asianet News Hindi

नोएडा की झुग्गियों में भीषण आग: कुछ ही देर में 500 घर जलकर खाक, 2 बच्चे जिंदा जले..कई मासूम अंदर फंसे

First Published Apr 11, 2021, 4:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


नोएडा/दिल्ली, नोएड़ा से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां रविवार दोपहर अचानक झुग्गियों में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने इतनी विकराल हो गई और कुछ ही मिनट में करीब 500 झुग्गियां जलकर खाक हो गईं। वहीं इस आग में दो मासूम बच्चे जिंदा जल गए। हालांकि मौके पर दमकल विभाग की कई गाड़ियों के साथ टीम पहुंची हुई है। झुग्गियों के मलबे में कई लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। जिनको निकालने के लिए फायर विभाग के कर्मचारी जुटे हुए हैं। बताया जाता है कि अभी तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। बताया जा रहा है कि आग में अभी भई कई लोग फंसे हुए हैं जिसमें अधिकांश बच्चे शामिल हैं। 


दरअसल, यह आग नोएडा के सेक्टर 63 में बनी बहलोलपुर की झुग्गियों में सिलेंडर ब्लास्ट के बाद लगी।  झुग्गियां में अंदर रह रहे लोग जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक आग इतनी भयानक हो चुकी थी कि अंदर से बाहर निकला भी मुश्किल हो रहा था। आग की लपटें इतनी तेज उठ रही थीं कि दूर से ही दिखाई दे रही थीं।
 


दरअसल, यह आग नोएडा के सेक्टर 63 में बनी बहलोलपुर की झुग्गियों में सिलेंडर ब्लास्ट के बाद लगी।  झुग्गियां में अंदर रह रहे लोग जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक आग इतनी भयानक हो चुकी थी कि अंदर से बाहर निकला भी मुश्किल हो रहा था। आग की लपटें इतनी तेज उठ रही थीं कि दूर से ही दिखाई दे रही थीं।
 


बताया जा रहा है कि बहलोलपुर के 20 बीघा जमीन पर करीब 1600 झुग्गियां बनी हुई हैं। जिनमें 6 हजार लोग रहते हैं। झुग्गियों में रहने वाले लोग प्लास्टिक का सामान बीनने का काम करते हैं। कबाड़ के सामान से ही वह अपना पेट पालते हैं। लेकिन इस आग ने उनका सारा सामान जलाकर राख कर दिया।


बताया जा रहा है कि बहलोलपुर के 20 बीघा जमीन पर करीब 1600 झुग्गियां बनी हुई हैं। जिनमें 6 हजार लोग रहते हैं। झुग्गियों में रहने वाले लोग प्लास्टिक का सामान बीनने का काम करते हैं। कबाड़ के सामान से ही वह अपना पेट पालते हैं। लेकिन इस आग ने उनका सारा सामान जलाकर राख कर दिया।


आग इतनी भयानक थी कि मजदूर लोग अपनी आंखों के साने गृहस्थी सारा सामान जलते देखते रहे। वहीं कुछ आग में कूदकर बचाने की जद्दोजहर करते रहे। कई परिवार की तो पूरी गृहस्थी जलकर राख हो गई।मौके पर महिलाओं और बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। वह बुरी तरह चीख रही हैं। 
 


आग इतनी भयानक थी कि मजदूर लोग अपनी आंखों के साने गृहस्थी सारा सामान जलते देखते रहे। वहीं कुछ आग में कूदकर बचाने की जद्दोजहर करते रहे। कई परिवार की तो पूरी गृहस्थी जलकर राख हो गई।मौके पर महिलाओं और बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। वह बुरी तरह चीख रही हैं। 
 

किसी तरह एक मां अपनी झुग्गी में आग लगने के बाद अपने बेटे को सलामत निकाल लाई। बाहर आकर मासूम बच्चे को पानी पिलाते हुई। लेकिन उसका आशियान और गृहस्थी जलकर खाक हो गई। कुछ नहीं कर सकी।

किसी तरह एक मां अपनी झुग्गी में आग लगने के बाद अपने बेटे को सलामत निकाल लाई। बाहर आकर मासूम बच्चे को पानी पिलाते हुई। लेकिन उसका आशियान और गृहस्थी जलकर खाक हो गई। कुछ नहीं कर सकी।


इस तस्वीर  को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि आग कितनी भयानक है, नोएडा सेक्टर 63 का पूरा इलाका काले धुएं से पटा हुआ नजर आ रहा है।


इस तस्वीर  को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि आग कितनी भयानक है, नोएडा सेक्टर 63 का पूरा इलाका काले धुएं से पटा हुआ नजर आ रहा है।



आग का धुआं और इसकी लपटें इतनी तेज थीं कि नोएडा के दूसरे सेक्टर से भी आग का धुआं दिखाई दे रहा है।



आग का धुआं और इसकी लपटें इतनी तेज थीं कि नोएडा के दूसरे सेक्टर से भी आग का धुआं दिखाई दे रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios