मुलायम की पूरी हो सकती है ये बड़ी ख्वाहिश, शिवपाल बोले- पार्टी में कद के हिसाब से पद मिला तो सभी दरवाजे खुले

First Published 31, May 2020, 10:29 AM

लखनऊ (Uttar Pradesh) । अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव के बीच रिश्तों की मिठास बढ़ती जा रही है। इसका एक और संकेत मिला है। अब इटावा में होने वाले लोहिया ट्रस्ट के भवन के उद्घाटन में शामिल होने का न्योता शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव को दिया है। शिवपाल यादव ने तो यहां तक कह दिया कि अगर कद के हिसाब से उन्हें पार्टी में पद मिलता है तो सभी दरवाजे खुले हैं। बता दें शिवपाल यादव कई बार समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन की बात कह चुके हैं। हालांकि, मुलायम सिंह यादव की ख्वाहिश है कि दोनों एक हो जाएं। अब देखना होगा कि साल 2022 से पहले शिवपाल की सपा में वापसी होती है या फिर गठबंधन।
 

<p><br />
लॉकडाउन में अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच एक बार फिर नजदीकियां बढ़ी हैं। कहा तो यहां तक जा रहा है कि चाचा-भतीजे के बीच कई बार मुलाकात भी हुई है। <br />
 </p>


लॉकडाउन में अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच एक बार फिर नजदीकियां बढ़ी हैं। कहा तो यहां तक जा रहा है कि चाचा-भतीजे के बीच कई बार मुलाकात भी हुई है। 
 

<p><br />
 सपा संरक्षक मुलायम सिंह पिछले दिनों जब मेदांता हॉस्पिटल में एडमिट हुए तो वहां शिवपाल भी पहुंचे थे। इस दौरान भी दोनों के बीच मुलाकात की बात कही जा रही थी।</p>


 सपा संरक्षक मुलायम सिंह पिछले दिनों जब मेदांता हॉस्पिटल में एडमिट हुए तो वहां शिवपाल भी पहुंचे थे। इस दौरान भी दोनों के बीच मुलाकात की बात कही जा रही थी।

<p>एक दिन पहले लोहिया ट्रस्ट की बैठक में मुलायम सिंह यादव के साथ अखिलेश यादव और शिवपाल भी सम्मिलित हुए। कार्यसमिति की मीटिंग में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि लोहिया ट्रस्ट द्वारा इटावा में निर्मित भव्य लोहिया भवन का उदघाटन मुलायम सिंह यादव द्वारा किया जाएगा।<br />
 </p>

एक दिन पहले लोहिया ट्रस्ट की बैठक में मुलायम सिंह यादव के साथ अखिलेश यादव और शिवपाल भी सम्मिलित हुए। कार्यसमिति की मीटिंग में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि लोहिया ट्रस्ट द्वारा इटावा में निर्मित भव्य लोहिया भवन का उदघाटन मुलायम सिंह यादव द्वारा किया जाएगा।
 

<p><br />
शिवपाल यादव की सपा द्वारा सदस्यता खत्म होने की चिट्ठी वापस लेने के बाद लोहिया भवन के उद्घाटन का मौका चाचा-भतीजे के लिए महत्वपूर्ण हो जाएगा। माना जा रहा है कि सपा और प्रसपा दोनों इटावा के लोहिया भवन के उद्घाटन को भव्यता देंगे।</p>


शिवपाल यादव की सपा द्वारा सदस्यता खत्म होने की चिट्ठी वापस लेने के बाद लोहिया भवन के उद्घाटन का मौका चाचा-भतीजे के लिए महत्वपूर्ण हो जाएगा। माना जा रहा है कि सपा और प्रसपा दोनों इटावा के लोहिया भवन के उद्घाटन को भव्यता देंगे।

<p><br />
बता दें कि वर्ष 2018 में सपा से अलग होकर शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का गठन किया। शिवपाल ने लोकसभा चुनाव में सपा के खिलाफ प्रत्याशी भी उतारे थे। </p>


बता दें कि वर्ष 2018 में सपा से अलग होकर शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का गठन किया। शिवपाल ने लोकसभा चुनाव में सपा के खिलाफ प्रत्याशी भी उतारे थे। 

<p><br />
शिवपाल खुद रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय के खिलाफ मैदान में उतरे थे। इसके बाद से अखिलेश यादव और शिवपाल के बीच दूरियां बढ़ती चली गईं थीं।</p>


शिवपाल खुद रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय के खिलाफ मैदान में उतरे थे। इसके बाद से अखिलेश यादव और शिवपाल के बीच दूरियां बढ़ती चली गईं थीं।

loader