Asianet News Hindi

होली पर अनोखी परंपराः 'लाट साहब' को मारा जाता है जूता, इस बार ढक दी गईं 40 मस्जिदें

First Published Mar 28, 2021, 2:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

शाहजहांपुर ( Uttar Pradesh) । रंग और फूलों की होली के बारे में सुनी होगी, लेकिन, क्या आपने कभी जूता मार होली भी सुनी है। अगर नहीं तो हम बतातें हैं कि शाहजहांपुर जिले में इस तरह तीन जगह से जूता मार होली खेली जाती है, जिसकी मॉनिटरिंग खुद डीएम और एसपी करते हैं। इस बार भी ये अनोखी होली तीन जगह पर खेली जाएगी। जिसकी तैयारियां भी शुरू हो गई हैं। बता दें कि ये होली अंग्रेजों से बदला लेने के लिए हर साल खेली जाती है। इसी के चलते होली से पहले भारी सुरक्षा बल तैनात की जाती है।

शहर में मस्जिद में रंग ना पड़े और कोई सांप्रदायिक विवाद ना हो इसके लिए शहर में निकलने वाले लॉट साहब के जुलूस के रास्ते में पढ़ने वाली 40 मस्जिदों को ढक दिया जाता है और सुरक्षा के लिए मस्जिद के बाहर पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाती है। जैसा कि इस बार अभी से किया जा चुका है। 
 

शहर में मस्जिद में रंग ना पड़े और कोई सांप्रदायिक विवाद ना हो इसके लिए शहर में निकलने वाले लॉट साहब के जुलूस के रास्ते में पढ़ने वाली 40 मस्जिदों को ढक दिया जाता है और सुरक्षा के लिए मस्जिद के बाहर पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाती है। जैसा कि इस बार अभी से किया जा चुका है। 
 

शाहजहांपुर जिले में तीन जगह अनोखी होली खेली जाती है। यहां होली के दिन जूता मार होली खेली जाती है। जहां लाट साहब को बैलगाड़ी में बैठाकर पूरे शहर में घुमाया जाता है। (फाइल फोटो)
 

शाहजहांपुर जिले में तीन जगह अनोखी होली खेली जाती है। यहां होली के दिन जूता मार होली खेली जाती है। जहां लाट साहब को बैलगाड़ी में बैठाकर पूरे शहर में घुमाया जाता है। (फाइल फोटो)
 

बैलगाड़ी पर बैठे लाट साहब पर लोग जूता और झाड़ू मारने के बाद लोग अपना आक्रोश निकालते हैं। इसकी मानीटरिंग डीएम और एसपी स्वयं करते हैं।(फाइल फोटो)
 

बैलगाड़ी पर बैठे लाट साहब पर लोग जूता और झाड़ू मारने के बाद लोग अपना आक्रोश निकालते हैं। इसकी मानीटरिंग डीएम और एसपी स्वयं करते हैं।(फाइल फोटो)
 

कहते हैं कि अंग्रेजों से बदला लेने के लिए वर्षों से यहां इस तरह से ही होली खेली जाती है, जिसके चलते प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। (फाइल फोटो)
 

कहते हैं कि अंग्रेजों से बदला लेने के लिए वर्षों से यहां इस तरह से ही होली खेली जाती है, जिसके चलते प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। (फाइल फोटो)
 

इस बार भी भीड़ को कंट्रोल करने के लिए भारी पुलिस बल को अभी से ही तैनात कर दी गई है। इसके लिए पीस कमेटी की बैठकें भी हो रही हैं। साथ ही सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है।(फाइल फोटो)

इस बार भी भीड़ को कंट्रोल करने के लिए भारी पुलिस बल को अभी से ही तैनात कर दी गई है। इसके लिए पीस कमेटी की बैठकें भी हो रही हैं। साथ ही सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी गई है।(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios