Asianet News Hindi

सऊदी अरब में नर्क है काली चमड़ी वाले लोगों की जिंदगी, जेल से सामने आई खौफनाक तस्वीरें

First Published Sep 1, 2020, 12:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: जेल में कैदियों को उनकी गुनाहों की सजा दी जाती है। जेल में लोगों को सिर्फ जरुरी चीजें ही मुहैया की जाती है। लेकिन फिर भी उनके साथ जानवरों जैसा बर्ताव नहीं किया जाता। सऊदी अरब को अपने देश के सख्त नियमों के लिए जाना जाता है। यहां छोटी-छोटी गलतियों के लिए भी कड़ी सजा का प्रावधान है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां जेलों में कैदियों के साथ कैसा बर्ताव किया जाता होगा। हाल ही में सऊदी अरब के जेल से कुछ ऐसी तस्वीरें लीक हुई, जिन्हें देखकर ये साफ़ पता चल रहा है कि इन कैदियों के साथ कैसे जानवरों सा बर्ताव किया जा रहा है। इन्हें बेंत से पीटा जाता है। साथ ही इन कैदियों को डेड बॉडी के साथ सुलाया जाता है। बताया जा रहा है कि ये कैदी अफ्रीका से इलीगल तरीके से सऊदी अरब में पकडे गए थे। इसके बाद इन्हें सजा में टॉर्चर किया जा रहा है। 

सऊदी अरब के डिटेंशन सेंटर से कुछ तस्वीरें लीक हुई हैं। यहां अफ्रीका के माइग्रेंट को जानवरों की तरह जेल में ठूस-ठूसकर रखा जाता है। ये तस्वीरें कोरोना काल में सामने आई हैं। 

सऊदी अरब के डिटेंशन सेंटर से कुछ तस्वीरें लीक हुई हैं। यहां अफ्रीका के माइग्रेंट को जानवरों की तरह जेल में ठूस-ठूसकर रखा जाता है। ये तस्वीरें कोरोना काल में सामने आई हैं। 

संडे टेलीग्राफ में छपी तस्वीरे खौफनाक हैं। इसमें एक छोटे से जेल में कई कैदियों को जानवर की तरह रखा गया है। यहां उन्हें बेतहाशा पीटा जाता है। 
 

संडे टेलीग्राफ में छपी तस्वीरे खौफनाक हैं। इसमें एक छोटे से जेल में कई कैदियों को जानवर की तरह रखा गया है। यहां उन्हें बेतहाशा पीटा जाता है। 
 

इन कैदियों को बेंत से पीटा जाता है। साथ ही इन्हें लाशों के साथ सोने के लिए मजबूर किया जाता है। कोरोना में सऊदी अरब के ऊपर अचानक इलीगल माइग्रेंट्स का प्रेशर बढ़ने लगा, जिसके बाद उसने कैदियों को एक साथ बंद कर दिया गया। 

इन कैदियों को बेंत से पीटा जाता है। साथ ही इन्हें लाशों के साथ सोने के लिए मजबूर किया जाता है। कोरोना में सऊदी अरब के ऊपर अचानक इलीगल माइग्रेंट्स का प्रेशर बढ़ने लगा, जिसके बाद उसने कैदियों को एक साथ बंद कर दिया गया। 

बता दें कि सऊदी अरब में छोटे-छोटे गुनाहों के लिए भी कड़ी सजा का प्रावधान है। ऐसे में यहां अपराधियों को मौत से पहले मरने की फीलिंग दी जाती है। 
 

बता दें कि सऊदी अरब में छोटे-छोटे गुनाहों के लिए भी कड़ी सजा का प्रावधान है। ऐसे में यहां अपराधियों को मौत से पहले मरने की फीलिंग दी जाती है। 
 

लीक हुई तस्वीरों में एक में कैदियों के कपड़े उतारकर उन्हें मारता दिखाया गया। इसमें वो जमीन पर लेटे  दिखे। इन्हें बुरी तरह पीटा जाता है। 

लीक हुई तस्वीरों में एक में कैदियों के कपड़े उतारकर उन्हें मारता दिखाया गया। इसमें वो जमीन पर लेटे  दिखे। इन्हें बुरी तरह पीटा जाता है। 

अफ्रीका से ये लोग जॉब की तलाश में सऊदी अरब आए थे। लेकिन कोरोना में इनकी नौकरी चली गई और फिर सरकार पर वायरस के संक्रमण को फैलने से बचाने के लिए उन्हें कैद करने का रास्ता बचा। 
 

अफ्रीका से ये लोग जॉब की तलाश में सऊदी अरब आए थे। लेकिन कोरोना में इनकी नौकरी चली गई और फिर सरकार पर वायरस के संक्रमण को फैलने से बचाने के लिए उन्हें कैद करने का रास्ता बचा। 
 

लेकिन इन जेलों में ओवरफ्लो टॉयलेट्स के बीच कैदियों की तबियत को ही खतरा होने लगा है। तस्वीरें सीख समझ सकते हैं कि इन जेलों में ही कैदियों को संक्रमण हो सकता है। हालांकि, अभी तक सऊदी अरब की सरकार ने इसपर कोई कमेंट नहीं किया है। 

लेकिन इन जेलों में ओवरफ्लो टॉयलेट्स के बीच कैदियों की तबियत को ही खतरा होने लगा है। तस्वीरें सीख समझ सकते हैं कि इन जेलों में ही कैदियों को संक्रमण हो सकता है। हालांकि, अभी तक सऊदी अरब की सरकार ने इसपर कोई कमेंट नहीं किया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios