अब मेंढकों से दुनिया में फैल सकती है नई महामारी, बाजार में कैंची से पेट फाड़कर बेचा जा रहा जानवरों का मांस

First Published 2, Jul 2020, 10:31 AM

हटके डेस्क: कोरोना वायरस ने दुनिया में आतंक मचा रखा है। दुनियाभर में इससे संक्रमित मरीजों की संख्या 1 करोड़ पार कर चुका है। साथ ही मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। कोरोना फैलाने का जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ चीन को माना जा रहा है। चीन का कहना है कि वुहान के मीट मार्केट से इस वायरस ने दुनिया में पैर पसारे। कोरोना के बाद चीन ने कई जानवरों के खाने पर रोक लगा दी है। लेकिन लगता नहीं है कि अभी भी दुनिया ने इससे सबक सीखा है। ताजा तस्वीरें वियतनाम से सामने आई हैं जहां मार्केट में जिस तरह से खुलेआम मेंढक से लेकर कछुए बेचे जा रहे हैं उससे साफ़ लग रहा है कि दुनिया ने कोरोना से अभी तक सबक नहीं सीखा है। जिस तरह गंदगी के बीच इस देश में मांस बेचा जा रहा है, उससे दूसरी महामारी फैलने की पूरी संभावना है। इन तस्वीरों ने दुनिया का ध्यान खींचा है। 

<p>ये खौफनाक तस्वीरें विएतनाम से सामने आई है। इसमें मेंढक के पैरों को कैंची से काटा गया। साथ ही कई कछुए भी पिंजरे में छटपटाते नजर आए। खुलेआम मछली भी बेचते लोग दिखाई दिए। <br />
 </p>

ये खौफनाक तस्वीरें विएतनाम से सामने आई है। इसमें मेंढक के पैरों को कैंची से काटा गया। साथ ही कई कछुए भी पिंजरे में छटपटाते नजर आए। खुलेआम मछली भी बेचते लोग दिखाई दिए। 
 

<p>विएतनाम के इस मार्केट में खुलेआम मरे जीव बेचे जा रहे थे। इन्हें बेचने से पहले किसी तरह की एतिहात नहीं बरती गई।  <br />
 </p>

विएतनाम के इस मार्केट में खुलेआम मरे जीव बेचे जा रहे थे। इन्हें बेचने से पहले किसी तरह की एतिहात नहीं बरती गई।  
 

<p>सड़क के किनारे लगे इस मार्केट में टब में कछुए बेचते दिखे लोग। नीचे मछली भी पड़े थे। लोग बिना किसी सोशल डिस्टेंसिंग के इन जीवों का मांस खरीदते नजर आए।  </p>

सड़क के किनारे लगे इस मार्केट में टब में कछुए बेचते दिखे लोग। नीचे मछली भी पड़े थे। लोग बिना किसी सोशल डिस्टेंसिंग के इन जीवों का मांस खरीदते नजर आए।  

<p>हाथ में प्लास्टिक की ग्लव्स लगाकर मछली काटता वर्कर। उसने फेस मास्क भी नहीं लगा रखा था। <br />
 </p>

हाथ में प्लास्टिक की ग्लव्स लगाकर मछली काटता वर्कर। उसने फेस मास्क भी नहीं लगा रखा था। 
 

<p>वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन ने सख्त हिदायत दी है कि कोरोना जैसी महामारी गंदगी के बीच मांस बेचे जाने के कारण फैली है। ऐसे में आगे से अगर ऐसा हुआ तो इसके और भयंकर परिणाम देखने को मिल सकते हैं। <br />
 </p>

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन ने सख्त हिदायत दी है कि कोरोना जैसी महामारी गंदगी के बीच मांस बेचे जाने के कारण फैली है। ऐसे में आगे से अगर ऐसा हुआ तो इसके और भयंकर परिणाम देखने को मिल सकते हैं। 
 

<p>विएतनाम के इस मार्केट में एक महिला ठेले पर कुछ इस तरह मांस बेचती दिखी महिला। लोगों के मन में कोरोना का कोई खौफ नहीं देखने को मिल रहा। <br />
 </p>

विएतनाम के इस मार्केट में एक महिला ठेले पर कुछ इस तरह मांस बेचती दिखी महिला। लोगों के मन में कोरोना का कोई खौफ नहीं देखने को मिल रहा। 
 

<p>यहां तक कि मार्केट में कुत्तों का मांस भी बेचते देखा गया। ये ना तो ढंके गए थे ना ही इनपर किसी तरह का कोई कवर था। </p>

यहां तक कि मार्केट में कुत्तों का मांस भी बेचते देखा गया। ये ना तो ढंके गए थे ना ही इनपर किसी तरह का कोई कवर था। 

<p>तस्वीर में एक वर्कर केंकडों को एक बर्तन से दूसरे में ट्रांसफर करते हुए। इस दौरान किसी तरह की कोई सावधानी नहीं बरती जा रही। ऐसे में ये लापरवाही दूसरी बड़ी महामारी को बढ़ावा देने का संकेत है।  </p>

तस्वीर में एक वर्कर केंकडों को एक बर्तन से दूसरे में ट्रांसफर करते हुए। इस दौरान किसी तरह की कोई सावधानी नहीं बरती जा रही। ऐसे में ये लापरवाही दूसरी बड़ी महामारी को बढ़ावा देने का संकेत है।  

<p>मार्केट में चिकन के बगल में बत्तख बेचते देखे गए। जिस हिसाब से यहां लोग कोरोना को मजाक समझ  रहे हैं, देश को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। </p>

मार्केट में चिकन के बगल में बत्तख बेचते देखे गए। जिस हिसाब से यहां लोग कोरोना को मजाक समझ  रहे हैं, देश को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। 

<p>देश में अभी तक एक हजार से कम कोरोना केस सामने आए हैं। लेकिन सामने आई ताजा तस्वीरें आने  वाले समय में काफी गंभीर परिणाम दिखा सकते हैं। <br />
 </p>

देश में अभी तक एक हजार से कम कोरोना केस सामने आए हैं। लेकिन सामने आई ताजा तस्वीरें आने  वाले समय में काफी गंभीर परिणाम दिखा सकते हैं। 
 

loader