Asianet News Hindi

कोरोना फैलाने वाले चीन पर बरपा कुदरत का कहर, लोगों की हालत हो रही खराब

First Published Jun 14, 2020, 2:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. चीन के वुहान से फैला कोरोना वायरस आज दुनिया भर में तबाही का कारण बना हुआ है। चीन में कोरोना के बाद कुदरत का कहर आ बरपा है। चीन के कई राज्यों में भयानक बारिश हुई है। इसकी वजह से वहां बाढ़ की स्थिति बन गई है। चीन की मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि चांगक्विंग में बारिश की वजह से नदियां उफान पर है। भूस्खलन हो रहा है। मिट्टी धंस रही है। पहाड़ी सड़कों पर आवागमन रोक दिया गया है।

दक्षिणी और दक्षिण-पश्चिम चीन में आई बारिश, तूफान, बाढ़ और मिट्टी धंसने से लाखों लोगों को विस्थापित करना पड़ा है। हजारों घर डूब गए हैं। चीन का बहुत बड़ा इलाका पानी में डूबा हुआ है।

दक्षिणी और दक्षिण-पश्चिम चीन में आई बारिश, तूफान, बाढ़ और मिट्टी धंसने से लाखों लोगों को विस्थापित करना पड़ा है। हजारों घर डूब गए हैं। चीन का बहुत बड़ा इलाका पानी में डूबा हुआ है।

चीन की सरकार ने कहा कि दक्षिण और मध्य चीन में बाढ़ से एक दर्जन से अधिक लोग मारे गए हैं। लाखों लोगों को अपने घरों को छोड़ना पड़ा है। चीन की इमरजेंसी सर्विसेज ने कहा कि हमने इस बाढ़ की वजह से 2.50 लाख लोगों को विस्थापित किया है। ये सभी लोग डूबे क्षेत्र में रहते थे। अब इन सभी लोगों राहत कैंपों में पहुंचा दिया गया है।

चीन की सरकार ने कहा कि दक्षिण और मध्य चीन में बाढ़ से एक दर्जन से अधिक लोग मारे गए हैं। लाखों लोगों को अपने घरों को छोड़ना पड़ा है। चीन की इमरजेंसी सर्विसेज ने कहा कि हमने इस बाढ़ की वजह से 2.50 लाख लोगों को विस्थापित किया है। ये सभी लोग डूबे क्षेत्र में रहते थे। अब इन सभी लोगों राहत कैंपों में पहुंचा दिया गया है।

चांगक्विंग, गुआंगसी, झुआंग, यांगशुओ, हुनान, गुईझोउ, क्वांगतोंग, फूच्येन और चच्यांग में 1300 से ज्यादा घर बाढ़ और मिट्टी धंसने से गिर गए हैं। शुरुआती अनुमान के अनुसार 550 मिलियन यूएस डॉलर यानी 4161 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। गुआंगसी के दक्षिणी क्षेत्र में बाढ़ विशेष रूप से अधिक खतरनाक रही। यहां 6 से ज्यादा लोग मारे गए हैं। कई लोग लापता हैं। हुनान प्रांत के उत्तर में 7 मारे गए हैं और यहां भी कई लोग लापता हैं।

चांगक्विंग, गुआंगसी, झुआंग, यांगशुओ, हुनान, गुईझोउ, क्वांगतोंग, फूच्येन और चच्यांग में 1300 से ज्यादा घर बाढ़ और मिट्टी धंसने से गिर गए हैं। शुरुआती अनुमान के अनुसार 550 मिलियन यूएस डॉलर यानी 4161 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। गुआंगसी के दक्षिणी क्षेत्र में बाढ़ विशेष रूप से अधिक खतरनाक रही। यहां 6 से ज्यादा लोग मारे गए हैं। कई लोग लापता हैं। हुनान प्रांत के उत्तर में 7 मारे गए हैं और यहां भी कई लोग लापता हैं।

पिछले एक हफ्ते से दक्षिण चीन के कुछ राज्यों में भारी बारिश हो रही है। चीन के 8 राज्यों की 110 नदियों में पानी का स्तर चेतावनी के स्तर से ऊपर पहुंच चुका है। इस वजह से बाढ़ आ गई है। चीन में बाढ़ आमतौर पर निचले इलाकों में भारी नुकसान का कारण बनती है। सबसे ज्यादा इस इलाके की यांग्तजी और पर्ल नदी में आफत आती है। यांग्तजी नदी के ऊपर बने थ्री गोर्ज बांध से पानी को रोकने की कोशिश की जाती रही है। 
 

पिछले एक हफ्ते से दक्षिण चीन के कुछ राज्यों में भारी बारिश हो रही है। चीन के 8 राज्यों की 110 नदियों में पानी का स्तर चेतावनी के स्तर से ऊपर पहुंच चुका है। इस वजह से बाढ़ आ गई है। चीन में बाढ़ आमतौर पर निचले इलाकों में भारी नुकसान का कारण बनती है। सबसे ज्यादा इस इलाके की यांग्तजी और पर्ल नदी में आफत आती है। यांग्तजी नदी के ऊपर बने थ्री गोर्ज बांध से पानी को रोकने की कोशिश की जाती रही है। 
 

चीन के हाल के वर्षों में सबसे खराब बाढ़ 1998 में आई थी। इस बाढ़ में 2,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे। करीब 30 लाख घर बर्बाद हो गए थे।
 

चीन के हाल के वर्षों में सबसे खराब बाढ़ 1998 में आई थी। इस बाढ़ में 2,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे। करीब 30 लाख घर बर्बाद हो गए थे।
 

वहीं, इस बार भी 1000 से ज्यादा होटल्स पानी में डूब गए हैं। देश के 30 से ज्यादा पर्यटन स्थल बर्बाद हो चुके हैं। 2019 में भी चीन में आई बाढ़ ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली थी। दर्जनों लोग गायब हो गए थे।

वहीं, इस बार भी 1000 से ज्यादा होटल्स पानी में डूब गए हैं। देश के 30 से ज्यादा पर्यटन स्थल बर्बाद हो चुके हैं। 2019 में भी चीन में आई बाढ़ ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली थी। दर्जनों लोग गायब हो गए थे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios