Asianet News Hindi

नहीं सुधरा चीन तो फिर लौटा कोरोना, अब वुहान नहीं यह शहर बना संक्रमण का नया केंद्र, एक दिन में 537 केस

First Published Apr 23, 2020, 8:40 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हार्बिन. चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना का कहर दुनिया भर में तांडव मचा रहा है। चीन में करीब तीन महीने की जंग के बाद कोरोना से राहत मिली थी। लेकिन एक बार फिर कोरोना लोगों को अपने चपेट में ले रहा है। उत्तर पूर्वी शहर हार्बिन कोरोना का नया केंद्र बनता हुआ नजर आ रहा है। बुधवार को इस शहर में 537 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। जिसके बाद स्कूल-कॉलेज को बंद कर दिया गया है। 

चीन कोरोना के कहर से अभी उबरा ही था कि कोरोना का यह डबल अटैक एक बार फिर मुसीबत का सबब बनता जा रहा है। वुहान के बाद अब हार्बिन शहर में कोरोना का नया क्लस्टर बन गया है जिसके बाद चीनी सरकार ने पूरे शहर को सील कर दिया है। 

चीन कोरोना के कहर से अभी उबरा ही था कि कोरोना का यह डबल अटैक एक बार फिर मुसीबत का सबब बनता जा रहा है। वुहान के बाद अब हार्बिन शहर में कोरोना का नया क्लस्टर बन गया है जिसके बाद चीनी सरकार ने पूरे शहर को सील कर दिया है। 

चीन का हार्बिन शहर रूसी सीमा से सटा हुआ है इस वजह से अधिकारियों ने एहतियातन पूरे क्षेत्र में किसी भी प्रकार की गतिविधियों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है। इस शहर की आबादी एक करोड़ से अधिक है।

चीन का हार्बिन शहर रूसी सीमा से सटा हुआ है इस वजह से अधिकारियों ने एहतियातन पूरे क्षेत्र में किसी भी प्रकार की गतिविधियों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है। इस शहर की आबादी एक करोड़ से अधिक है।

चीनी अधिकारियों के मुताबिक पिछले सप्ताह 35 लोगों ने शहर के दो अस्पताल काम करने या डॉक्टर से दिखाने पहुंचे थे और वे सभी 87 वर्षीय मरीज से संक्रमित हो गए हैं। 

चीनी अधिकारियों के मुताबिक पिछले सप्ताह 35 लोगों ने शहर के दो अस्पताल काम करने या डॉक्टर से दिखाने पहुंचे थे और वे सभी 87 वर्षीय मरीज से संक्रमित हो गए हैं। 

नेशनल हेल्थ कमिशन के मुताबिक, बुधवार को प्रांत में 537 कन्फर्म केस सामने आए हैं और जिनमें से 384 बाहर से आए लोगों में पाए गए हैं।

नेशनल हेल्थ कमिशन के मुताबिक, बुधवार को प्रांत में 537 कन्फर्म केस सामने आए हैं और जिनमें से 384 बाहर से आए लोगों में पाए गए हैं।

कोरोना वायरस की शुरुआत चीन के वुहान शहर से ही हुई थी। महीनों के लॉकडाउन के बाद वुहान को संक्रमण मुक्त बताकर चीन ने यहां जनजीवन सामान्य कर दिया था। 

कोरोना वायरस की शुरुआत चीन के वुहान शहर से ही हुई थी। महीनों के लॉकडाउन के बाद वुहान को संक्रमण मुक्त बताकर चीन ने यहां जनजीवन सामान्य कर दिया था। 

इसके बाद चीन ने दावा किया था कि उसने कोरोना वायरस पर नियंत्रण कर लिया है और दूसरे देशों के मुकाबले वहां मृतकों की संख्या काफी कम है। 

इसके बाद चीन ने दावा किया था कि उसने कोरोना वायरस पर नियंत्रण कर लिया है और दूसरे देशों के मुकाबले वहां मृतकों की संख्या काफी कम है। 

चीन के हीलॉन्गजियांग प्रांत में कोरोना वायरस के फिर से तेजी से फैलने के बाद चीन सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए कई अधिकारियों को दंडित करते हुए नौकरी से हटा दिया गया था।  इस प्रांत में ज्यादातर विदेश से आए लोग संक्रमित पाए गए थे। 

चीन के हीलॉन्गजियांग प्रांत में कोरोना वायरस के फिर से तेजी से फैलने के बाद चीन सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए कई अधिकारियों को दंडित करते हुए नौकरी से हटा दिया गया था।  इस प्रांत में ज्यादातर विदेश से आए लोग संक्रमित पाए गए थे। 

अब हीलॉन्गजियांग की राजधानी हार्बिन में कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद शहर में बाहरी लोगों और वाहनों के प्रवेश पर रोग लगा दी गई है। चीन में हॉटस्पॉट क्षेत्र में रहने वाले लोगों को फिर से क्वारनटीन में रखने का फैसला लिया गया है। 

अब हीलॉन्गजियांग की राजधानी हार्बिन में कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद शहर में बाहरी लोगों और वाहनों के प्रवेश पर रोग लगा दी गई है। चीन में हॉटस्पॉट क्षेत्र में रहने वाले लोगों को फिर से क्वारनटीन में रखने का फैसला लिया गया है। 

चीन में कोरोना का हाल
चीन में कोरोना के संक्रमण से अब तक 4632 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के संक्रमण के शिकार मरीजों की संख्या 82 हजार 798 है। यहां अब तक 77 हजार 207 लोग ठीक भी हो चुके हैं।

चीन में कोरोना का हाल
चीन में कोरोना के संक्रमण से अब तक 4632 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के संक्रमण के शिकार मरीजों की संख्या 82 हजार 798 है। यहां अब तक 77 हजार 207 लोग ठीक भी हो चुके हैं।

17 अप्रैल को आए थे 325 केस 
चीन ने कोरोना के संक्रमण पर काबू पाने का दावा किया था। हालांकि 17 अप्रैल को एक दिन में 325 नए केस सामने आए हैं। इससे पहले चीन ने वुहान शहर से लॉकडाउन को हटा दिया था। जिसके बाद यहां सबकुछ सामान्य हो रहा था। लेकिन अचानक मरीजों की संख्या में वृद्धि ने एक बार फिर टेंशन बढ़ा दिया है। 

17 अप्रैल को आए थे 325 केस 
चीन ने कोरोना के संक्रमण पर काबू पाने का दावा किया था। हालांकि 17 अप्रैल को एक दिन में 325 नए केस सामने आए हैं। इससे पहले चीन ने वुहान शहर से लॉकडाउन को हटा दिया था। जिसके बाद यहां सबकुछ सामान्य हो रहा था। लेकिन अचानक मरीजों की संख्या में वृद्धि ने एक बार फिर टेंशन बढ़ा दिया है। 

वुहान शहर बना था केंद्र 
चीन में कोरोना की शुरूआत दिसंबर 2019 में हुई थी। जिसके बाद यहां संक्रमण का कहर बढ़ता गया और मरीजों की संख्या बढ़ती गई है। जिसके बाद सरकार ने कोरोना के एपीसेंटर रहे वुहान शहर को पूरी तरह से सील कर दिया था और जनवरी महीने में लॉकडाउन लागू कर दिया था। 

वुहान शहर बना था केंद्र 
चीन में कोरोना की शुरूआत दिसंबर 2019 में हुई थी। जिसके बाद यहां संक्रमण का कहर बढ़ता गया और मरीजों की संख्या बढ़ती गई है। जिसके बाद सरकार ने कोरोना के एपीसेंटर रहे वुहान शहर को पूरी तरह से सील कर दिया था और जनवरी महीने में लॉकडाउन लागू कर दिया था। 

दुनिया में 1 लाख 84 हजार लोगों की मौत 
कोरोना के कहर से दुनिया के 210 देश प्रभावित है। दुनिया भर में अब तक 1 लाख 84 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अब तक 26 लाख 37 हजार से अधिक लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। 

दुनिया में 1 लाख 84 हजार लोगों की मौत 
कोरोना के कहर से दुनिया के 210 देश प्रभावित है। दुनिया भर में अब तक 1 लाख 84 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अब तक 26 लाख 37 हजार से अधिक लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। 

कोरोना के संक्रमण से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित है। वहीं, स्पेन, इटली और फ्रांस में भी संक्रमण का असर तेज होता जा रहा है। 

कोरोना के संक्रमण से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित है। वहीं, स्पेन, इटली और फ्रांस में भी संक्रमण का असर तेज होता जा रहा है। 

फ्रांस दुनिया का चौथा देश जहां 20 हजार से अधिक मौतें 
फ्रांस में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ रहा है। यह देश 20 हजार से अधिक मौत वाला दुनिया का चौथा देश बन गया है। यहां अब तक 21 हजार 340 लोगों की जान जा चुकी है। जबकि अब तक 1 लाख 59 हजार लोग संक्रमित पाए गए हैं।

फ्रांस दुनिया का चौथा देश जहां 20 हजार से अधिक मौतें 
फ्रांस में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ रहा है। यह देश 20 हजार से अधिक मौत वाला दुनिया का चौथा देश बन गया है। यहां अब तक 21 हजार 340 लोगों की जान जा चुकी है। जबकि अब तक 1 लाख 59 हजार लोग संक्रमित पाए गए हैं।

अमेरिका में 47 हजार लोगों की मौत 
कोरोना के संक्रमण से अमेरिका बुरी तरह से प्रभावित है। यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 8 लाख 49 हजार से अधिक है। जबकि अब तक 47 हजार 676 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पिछले 24 घंट में 29 हजार नए केस सामने आए हैं। जबकि 2341 लोगों की मौत हुई है।

अमेरिका में 47 हजार लोगों की मौत 
कोरोना के संक्रमण से अमेरिका बुरी तरह से प्रभावित है। यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 8 लाख 49 हजार से अधिक है। जबकि अब तक 47 हजार 676 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पिछले 24 घंट में 29 हजार नए केस सामने आए हैं। जबकि 2341 लोगों की मौत हुई है।

कनाडा में अब तक 1,834 मौतें
कनाडा में मंगलवार को एक हजार नए मामले सामने आए। संक्रमितों की कुल संख्या 38,422 हो गई है। 1,834 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले क्यूबेक (20,126) और ओंटेरियो (11,735) प्रांतों में हैं। डब्ल्यूएचओ ने 11 मार्च को कोरोना को महामारी घोषित किया था।

कनाडा में अब तक 1,834 मौतें
कनाडा में मंगलवार को एक हजार नए मामले सामने आए। संक्रमितों की कुल संख्या 38,422 हो गई है। 1,834 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले क्यूबेक (20,126) और ओंटेरियो (11,735) प्रांतों में हैं। डब्ल्यूएचओ ने 11 मार्च को कोरोना को महामारी घोषित किया था।

जापान में इटली के क्रूज पर 33 लोग संक्रमित
नागासाकी पोर्ट पर मरम्मत के लिए ठहरे इटली के क्रूज पर 33 लोग संक्रमित मिले। जापान में पिछले 24 घंटे में 18 लोगों की मौत हुई। 377 नए संक्रमित मिले। कुल 281 लोग जान गंवा चुके हैं। प्रधानमंत्री शिंजो आबे इमरजेंसी लगा चुके हैं। 

जापान में इटली के क्रूज पर 33 लोग संक्रमित
नागासाकी पोर्ट पर मरम्मत के लिए ठहरे इटली के क्रूज पर 33 लोग संक्रमित मिले। जापान में पिछले 24 घंटे में 18 लोगों की मौत हुई। 377 नए संक्रमित मिले। कुल 281 लोग जान गंवा चुके हैं। प्रधानमंत्री शिंजो आबे इमरजेंसी लगा चुके हैं। 

रूस के मॉस्को में 24 घंटों में 28 की मौत
रूस की राजधानी मॉस्को में 24 घंटों में 28 लोगों की मौत हो गई। इससे यहां मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 261 पहुंच गया है। मॉस्को में कोरोना के 29,430 मामलों की पुष्टि हुई है। यहां 2,050 मरीज स्वस्थ्य हुए हैं।  

रूस के मॉस्को में 24 घंटों में 28 की मौत
रूस की राजधानी मॉस्को में 24 घंटों में 28 लोगों की मौत हो गई। इससे यहां मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 261 पहुंच गया है। मॉस्को में कोरोना के 29,430 मामलों की पुष्टि हुई है। यहां 2,050 मरीज स्वस्थ्य हुए हैं।  

ब्राजील में अब तक 2741 की जान गई
ब्राजील में 24 घंटे में 166 लोगों की मौत हुई, जबकि 2,500 नए केस सामने आए हैं। यहां मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 2,741 पहुंच गया। ‘द ब्राजीलियन रिपोर्ट’ के मुतबिक, नौ दिनों में संक्रमण का आंकड़ा यहां दोगुना हो गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्वीकार किया है कि मौतों की वास्तविक संख्या ज्यादा भी हो सकती है।

ब्राजील में अब तक 2741 की जान गई
ब्राजील में 24 घंटे में 166 लोगों की मौत हुई, जबकि 2,500 नए केस सामने आए हैं। यहां मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 2,741 पहुंच गया। ‘द ब्राजीलियन रिपोर्ट’ के मुतबिक, नौ दिनों में संक्रमण का आंकड़ा यहां दोगुना हो गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्वीकार किया है कि मौतों की वास्तविक संख्या ज्यादा भी हो सकती है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios