जानें कौन है पाकिस्तान सेना की पहली महिला लेफ्टिनेंट जनरल निगार जौहर ?

First Published 1, Jul 2020, 4:53 PM

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में पहले कभी भी कोई महिला जनरल लेफ्टिनेंट नहीं बनी थी, लेकिन इस बार पाकिस्तान ने अपना इतिहास बदल दिया है। उसने पहली बार किसी महिला लेफ्टिनेंट जनरल की नियुक्ति की है। ये जानकारी वहां की मीडिया विंग ने ही दी है। एक ट्वीट के जरिए बताया गया है कि मेजर जनरल निगार जौहर लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर पदोन्नत होने वाली पाकिस्तान की पहली महिला अधिकारी बन गई हैं और ये उनके करियर में एक और मील का पत्थर है।

<p style="text-align: justify;">इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) के माहनिदेशक मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने एक ट्वीट कर बताया कि निगार जौहर को पाकिस्तान सेना की पहली महिला सर्जन जनरल के रूप में भी नियुक्त किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स में ISPR के ट्वीट के मुताबिक बताया जा रहा है कि लेफ्टिनेंट जनरल निगार जौहर स्वाबी जिले के पंजपीर गांव से संबंध रखती हैं। 2017 में वो मेजर जनरल के पद तक पहुंचने वाली पाकिस्तान के इतिहास में तीसरी महिला अधिकारी बनी थीं।</p>

इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) के माहनिदेशक मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने एक ट्वीट कर बताया कि निगार जौहर को पाकिस्तान सेना की पहली महिला सर्जन जनरल के रूप में भी नियुक्त किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स में ISPR के ट्वीट के मुताबिक बताया जा रहा है कि लेफ्टिनेंट जनरल निगार जौहर स्वाबी जिले के पंजपीर गांव से संबंध रखती हैं। 2017 में वो मेजर जनरल के पद तक पहुंचने वाली पाकिस्तान के इतिहास में तीसरी महिला अधिकारी बनी थीं।

<p>निगार जौहर कर्नल कादिर की बेटी हैं। उन्होंने ISI में अपनी सेवा दी थी। इसके अलावा वो सेवानिवृत्त मेजर मोहम्मद आमिर की भतीजी हैं। मोहम्मद आमिर भी पाकिस्तान के पूर्व अधिकारी थे और ISI में अपनी सेवाएं देते थे। वहीं, 30 साल पहले एक कार एक्सीडेंट में निगार जौहर के माता-पिता की मौत हो चुकी है।</p>

निगार जौहर कर्नल कादिर की बेटी हैं। उन्होंने ISI में अपनी सेवा दी थी। इसके अलावा वो सेवानिवृत्त मेजर मोहम्मद आमिर की भतीजी हैं। मोहम्मद आमिर भी पाकिस्तान के पूर्व अधिकारी थे और ISI में अपनी सेवाएं देते थे। वहीं, 30 साल पहले एक कार एक्सीडेंट में निगार जौहर के माता-पिता की मौत हो चुकी है।

<p>पाकिस्तान के Press Information Department के अनुसार नई पदोन्नत लेफ्टिनेंट जनरल ना सिर्फ एक डॉक्टर हैं बल्कि एक अच्छी शूटर भी हैं। निगार जौहर ने अपनी पढ़ाई प्रेजेंटेशन कॉन्वेंट गर्ल्स हाई स्कूल, रावलपिंडी से पूरी की और 1985 में आर्मी मेडिकल कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है।</p>

पाकिस्तान के Press Information Department के अनुसार नई पदोन्नत लेफ्टिनेंट जनरल ना सिर्फ एक डॉक्टर हैं बल्कि एक अच्छी शूटर भी हैं। निगार जौहर ने अपनी पढ़ाई प्रेजेंटेशन कॉन्वेंट गर्ल्स हाई स्कूल, रावलपिंडी से पूरी की और 1985 में आर्मी मेडिकल कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है।

<p>2015 में, उन्होंने स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, लाहौर से पब्लिक हेल्थ में मास्टर्स डिग्री हासिल की है। इतना ही नहीं, निगार जौहर को सशस्त्र बलों की एक इकाई /अस्पताल की कमान सौंपने वाली पहली महिला अधिकारी होने का सम्मान भी प्राप्त है। निगार जौहर को उनके प्रमोशन पर बधाई देते हुए नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने कहा कि इससे लड़कियों और युवा महिलाओं को एक प्रेरणा मिली है।</p>

2015 में, उन्होंने स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, लाहौर से पब्लिक हेल्थ में मास्टर्स डिग्री हासिल की है। इतना ही नहीं, निगार जौहर को सशस्त्र बलों की एक इकाई /अस्पताल की कमान सौंपने वाली पहली महिला अधिकारी होने का सम्मान भी प्राप्त है। निगार जौहर को उनके प्रमोशन पर बधाई देते हुए नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने कहा कि इससे लड़कियों और युवा महिलाओं को एक प्रेरणा मिली है।

<p>वहीं, पीएमएल-एन के अहसान इकबाल ने निगार जौहर की इस उपलब्धि को पाकिस्तानी महिलाओं के लिए एक ऊंची छलांग बताया है, जो राष्ट्रीय विकास और सुरक्षा के सभी क्षेत्रों में योगदान दे रही हैं। <br />
 </p>

वहीं, पीएमएल-एन के अहसान इकबाल ने निगार जौहर की इस उपलब्धि को पाकिस्तानी महिलाओं के लिए एक ऊंची छलांग बताया है, जो राष्ट्रीय विकास और सुरक्षा के सभी क्षेत्रों में योगदान दे रही हैं। 
 

loader