पाकिस्तान : स्टॉक एक्सजेंच बिल्डिंग में हुए आंतकी हमले की इनसाइड फोटोज, ऐसे पूरा हुआ ऑपरेशन

First Published 29, Jun 2020, 3:25 PM

लाहौर. पाकिस्तान के स्टॉक एक्सजेंच बिल्डिंग में आतंकी हमला हुआ। चार आतंकियों ने बिल्डिंग में घुसने की कोशिश की, लेकिन उन्हें पहले ही मार गिराया गया। वहीं ऑपरेशन में एक पुलिसवाला और चार सिक्योरिटी गार्ड्स की भी जान चली गई। पीएसएक्स के निदेशक आबिद अली हबीब ने कहा, पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज में एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है। उन्होंने आगे कहा, वे पार्किंग एरिया से आए और सभी पर खुलेआम गोलीबारी करने लगे। सिंध प्रांत के गवर्नर इमरान इस्माइल ने घटना की निंदा की है। उन्होंने ट्विटर पर कहा, पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज पर किये गये हमले की कड़ी निंदा करता हूं। हमले की जिम्मेदारी बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (बीएलए) ने ली।

<p style="text-align: center;"><u><strong>गाड़ी से आए थे आतंकी</strong></u><br />
एक चश्मदीद ने जियो न्यूज को बताया, आतंकी गाड़ी से आए थे। उन्होंने उतरते ही फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद दो पुलिसवालों ने उनपर गोलियां चलाई। </p>

गाड़ी से आए थे आतंकी
एक चश्मदीद ने जियो न्यूज को बताया, आतंकी गाड़ी से आए थे। उन्होंने उतरते ही फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद दो पुलिसवालों ने उनपर गोलियां चलाई। 

<p style="text-align: center;"><u><strong>आतंकियों ने बिल्डिंग में ग्रेनेड फेंका</strong></u><br />
एक चश्मदीद ने बताया, आतंकियों ने पहले बिल्डिंग के गेट पर ग्रेनेड हमला किया था। इसके बाद फायरिंग करते हुए अंदर घुसने की कोशिश की। </p>

आतंकियों ने बिल्डिंग में ग्रेनेड फेंका
एक चश्मदीद ने बताया, आतंकियों ने पहले बिल्डिंग के गेट पर ग्रेनेड हमला किया था। इसके बाद फायरिंग करते हुए अंदर घुसने की कोशिश की। 

<p style="text-align: center;"><strong><u>'आठ मिनट का ऑपरेशन' </u></strong><br />
सिंध रेंजर्स के महानिदेशक उमर अहमद बुखारी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, आतंकवादियों को आठ मिनट के भीतर खत्म कर दिया गया। सुरक्षा एजेंसियों द्वारा चलाए गए ऑपरेशन सुबह 10:02 बजे शुरू किया गया और सुबह 10:10 बजे तक हमलावर मारे गए। <br />
 </p>

'आठ मिनट का ऑपरेशन' 
सिंध रेंजर्स के महानिदेशक उमर अहमद बुखारी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, आतंकवादियों को आठ मिनट के भीतर खत्म कर दिया गया। सुरक्षा एजेंसियों द्वारा चलाए गए ऑपरेशन सुबह 10:02 बजे शुरू किया गया और सुबह 10:10 बजे तक हमलावर मारे गए। 
 

<p style="text-align: center;"><u><strong>इमारत के लोगों को बंधक बनाने की साजिश थी </strong></u></p>

<p style="text-align: center;">उन्होंने कहा कि आतंकवादियों ने एक बड़ी हमले की योजना बनाई थी, जिसमें इमारत के अंदर लोगों को बंधक बनाना था। <br />
 </p>

इमारत के लोगों को बंधक बनाने की साजिश थी 

उन्होंने कहा कि आतंकवादियों ने एक बड़ी हमले की योजना बनाई थी, जिसमें इमारत के अंदर लोगों को बंधक बनाना था। 
 

<p style="text-align: center;"><u><strong>सभी हमलावरों के पास एके 47</strong></u></p>

<p style="text-align: center;">उन्होंने बताया, सभी हमलावरों के पास AK-47 थी। इतना ही नहीं, उनके पास हैंड ग्रेनेड और खाना पीने के काफी सामान थे। </p>

सभी हमलावरों के पास एके 47

उन्होंने बताया, सभी हमलावरों के पास AK-47 थी। इतना ही नहीं, उनके पास हैंड ग्रेनेड और खाना पीने के काफी सामान थे। 

<p style="text-align: center;"><u><strong>यह हमला चीनी दूतावास पर हुए हमले जैसा</strong></u></p>

<p style="text-align: center;">एक सवाल के जवाब में डीजी ने माना कि 2018 में जैसा हमला बीएलए आतंकवादियों ने  कराची में चीनी दूतावास पर किया था, वैसा ही हमला आज हुआ है। </p>

यह हमला चीनी दूतावास पर हुए हमले जैसा

एक सवाल के जवाब में डीजी ने माना कि 2018 में जैसा हमला बीएलए आतंकवादियों ने  कराची में चीनी दूतावास पर किया था, वैसा ही हमला आज हुआ है। 

<p style="text-align: center;"><strong><u>स्टॉक एक्सचेंज में 8 से 10 मंजिल है</u></strong><br />
स्टॉक एक्सचेंज की यह बिल्डिंग 8 से 10 मंजिला है। इसमें शेयर मार्केट कारोबार से जुड़ा काम होता है।<br />
 </p>

स्टॉक एक्सचेंज में 8 से 10 मंजिल है
स्टॉक एक्सचेंज की यह बिल्डिंग 8 से 10 मंजिला है। इसमें शेयर मार्केट कारोबार से जुड़ा काम होता है।
 

<p style="text-align: center;">कांस्टेबल खलील और कांस्टेबल रफीक ने आतंकियों को मारा। </p>

कांस्टेबल खलील और कांस्टेबल रफीक ने आतंकियों को मारा। 

<p style="text-align: justify;">घायल लोगों में पीएसएक्स इमारत के बाहर तैनात पुलिस अधिकारी और सुरक्षा गार्ड भी शामिल हैं। वहीं आसपास के इलाकों को पुलिस और रेंजर्स के जवानों ने सील कर दिया है। पीएसएक्स इमारत के अंदर से लोगों को पीछे के दरवाजे से बाहर निकाला गया।</p>

घायल लोगों में पीएसएक्स इमारत के बाहर तैनात पुलिस अधिकारी और सुरक्षा गार्ड भी शामिल हैं। वहीं आसपास के इलाकों को पुलिस और रेंजर्स के जवानों ने सील कर दिया है। पीएसएक्स इमारत के अंदर से लोगों को पीछे के दरवाजे से बाहर निकाला गया।

loader