Asianet News HindiAsianet News Hindi

Shukra Asta 2022: 2 दिसंबर तक अस्त रहेगा शुक्र, इन 4 राशि वालों को होगा सबसे ज्यादा नुकसान

Shukra Asta 2022: ज्योतिष शास्त्र में हर ग्रह का अपना विशेष महत्व बताया गया है। शुक्र भी इन ग्रहों में से एक है। ये ग्रह समय-समय पर राशि बदलता है और अस्त व उदय भी होता है। इसे चमकीला ग्रह भी कहा जाता है।
 

Shukra Asta 2022 Shukra Ka Rashifal 2022 Shukra kab hoga Asta venus Horoscope 2022 MMA
Author
First Published Sep 15, 2022, 11:19 AM IST

उज्जैन. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, हमारी लव लाइफ को सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला ग्रह शुक्र है। इसी ग्रह के शुभ प्रभाव से हमें सुख, संपदा, वैभव, ऐश्वर्य और धन आदि की प्राप्ति होती है। ये ग्रह इस समय सिंह राशि में सूर्य के साथ है। 15 सितंबर, गुरुवार को ये ग्रह इसी राशि में अस्त (Shukra Asta 2022) हो जाएगा। ऐसा होने से इसके शुभ प्रभावों में कमी देखने को मिलेगी। आगे जानिए किन-किन राशियों पर इसका अशुभ प्रभाव देखने को मिलेगा…

कैसे और क्यों अस्त होता है शुक्र?
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जब भी कोई ग्रह सूर्य के बहुत अधिक नजदीक पहुंच जाता है तो उसके शुभ-अशुभ प्रभावों में कमी आ जाती है। इसे ही ग्रह का अस्त होना कहा जाता है। इस समय शुक्र सूर्य के साथ एक ही राशि सिंह में स्थित है, जिसके चलते ये अस्त हो रहा है। इस अवस्था में ये ग्रह 2 दिसंबर तक रहेगा। 

इन 4 राशियों पर होगा अशुभ प्रभाव? 
शुक्र ग्रह 15 सितंबर से 2 दिसंबर तक अस्त रहेगा। इस दौरान 4 राशि वालों पर इसका अशुभ प्रभाव देखने को मिलेगा। जिसके चलते इनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। पैसों के लेन-देन के मामले में भी इन्हें सतर्क रहना होगा। आगे जानिए कौन-सी हैं वो 4 राशियां…

मिथुन राशि 
इस राशि का स्वामी बुध ग्रह है। शुक्र के अस्त होने से इस राशि के लोगों के पर निगेटिव असर देखने को मिलेगा। इनके वैवाहिक जीवन में उतार-चढ़ाव आ सकता है। प्रेम संबंधों में भी टकराव की स्थिति बन सकती है। पैसों से जुड़ी परेशानियां भी इस दौरान हो सकती है।

कन्या राशि 
इस राशि का स्वामी भी बुध ग्रह है। इस राशि वालों को पैसों से जुड़े मामलों में सावधानी रखनी होगी, नहीं तो धोखा हो सकता है। करियर से जुड़े मामलों में निराशा हाथ लग सकता है। ग्लैमर क्षेत्र से जुड़े लोगों को भी असफलता का सामना करना पड़ सकता है।

मकर राशि 
इस राशि के स्वामी शनिदेव हैं। शुक्र ग्रह के अस्त होने से प्रेम संबंधों में खटास आ सकती है। किसी तीसरे व्यक्ति के कारण गलतफहमी पैदा होने से लव लाइफ में डिप्रेशन की स्थिति बनने के योग भी इस दौरान बन रहे हैं। इन लोगों को काफी सोच-समझकर फैसला लेना होगा।

कुंभ राशि 
इस राशि के स्वामी भी शनिदेव ही हैं। पैसों से जुड़े मामलों में इन लोगों को काफी सावधानी रखनी होगी, नहीं तो हाथ में आया पैसा निकल सकता है। वैवाहिक जीवन में भी उथल-पुथल मची रहेगी। करियर से जुड़े मामलों में सोच-समझकर ही कोई निर्णय लें।


ये भी पढ़ें-

Shraddh Paksha 2022: घर में कहां लगाएं पितरों की तस्वीर और कहां लगाने से बचें?


Shraddh Paksha 2022: इन 3 पशु-पक्षी को भोजन दिए बिना अधूरा माना जाता है श्राद्ध, जानें कारण व महत्व

Shraddha Paksha 2022: कब से कब तक रहेगा पितृ पक्ष, मृत्यु तिथि पता न हो तो किस दिन करें श्राद्ध?
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios