Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्लास्टिक की बोतल से पीते हैं पानी, तो हो जाएं सावधान! कई बीमारियों को दे रहा न्योता

क्या आप ही पानी पीने के लिए प्लास्टिक की बोतलों का इस्तेमाल करते हैं? तो आज ही अपनी इस आदत को बदल दे, क्योंकि यह कई बीमारियों का घर होता है आइए बताते हैं कैसे...
 

Disadvantage of drinking water from plastic bottle dva
Author
First Published Oct 1, 2022, 9:48 AM IST

हेल्थ डेस्क : अक्सर आपको जब प्यास लगती है तो आप फ्रिज या टेबल पर रखी प्लास्टिक की बोतल को खोलकर सीधा ही मुंह लगाकर से पानी पी लेते हैं या कभी जिम में वर्कआउट करते हैं या ऑफिस में बैठे हुए भी इन्हीं प्लास्टिक की बोतलों का इस्तेमाल ज्यादातर लोग करते हैं। लेकिन आपको बता दें कि प्लास्टिक एक पॉलीमर है, जो कार्बन, हाइड्रोजन, ऑक्सीजन और क्लोराइड से मिलकर बना होता है। इसमें बीपीए पाया जाता है, जो यह हमारे शरीर के लिए बेहद घातक हो सकता है। अगर प्लास्टिक में पाए जाने वाले पॉलीमर हमारे शरीर में चले जाए तो इससे कई बीमारियों का खतरा हो सकता है। आइए आज आपको बताते हैं प्लास्टिक की बोतल पर पानी पीने के नुकसान...

कैंसर का कारण 
जी हां, एक्सपर्ट्स की मानें तो प्लास्टिक की बोतल में अगर बहुत देर तक पानी रखा रहता है और उसे इंसान पीता है तो इससे उसे कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां भी हो सकती है। इससे महिलाओं पर ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ता है। इतना ही नहीं सिर्फ पुरुषों में हार्मोनल बदलाव भी होता है और उनके स्पर्म काउंट घटने लगते हैं। दरअसल, प्लास्टिक में phthalates नामक एक रसायन पाया जाता है। प्लास्टिक की बोतलों से पानी पीने से लीवर कैंसर और शुक्राणुओं की संख्या में कमी भी हो सकती है। 

इम्यूनिटी कम करें
जब हम प्लास्टिक की बोतलों में पानी पीते हैं तो हमारा इम्यून सिस्टम काफी प्रभावित होता है। प्लास्टिक की बोतलों से निकलने वाले रसायन हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं और हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बिगाड़ देते हैं।

मधुमेह और प्रजनन क्षमता को करें प्रभावित
प्लास्टिक की बोतल में बाई फिनाइल ए यानी की BPA पाया जाता है, यह एक एस्ट्रोजन-नकल करने वाला रसायन है जो लड़कियों में मधुमेह, मोटापा, प्रजनन समस्याओं, व्यवहार संबंधी समस्याओं और शुरुआती यौवन जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं को पैदा कर सकता है। 

पर्यावरण के लिए भी घातक
आपके स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभावों के अलावा, प्लास्टिक की बोतलें पर्यावरण के लिए भी अच्छी नहीं होती हैं। अधिकांश प्लास्टिक कचरा लैंडफिल और जल निकायों में फेंक दी जाती है, जो समुद्री जीवों के लिए बेहद हानिकारक है और भूमि प्रदूषण का कारण बनता है। आप हमेशा स्टील फ्लास्क, कांच की बोतलें, स्टेनलेस, तांबा, स्टील की बोतलें, या एल्यूमीनियम की बोतलों का विकल्पों का विकल्प चुन सकते हैं।

और पढ़ें: नॉनवेज से ज्यादा फायदेमंद होती है यह 8 वेजिटेरियन चीजें, आज ही डाइट में करें शामिल

कोरोना आपके बच्चे को दे सकता है स्ट्रेस की बीमारी, माता-पिता बरते सावधानी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios